ये है 12वीं में टॉप करने का फॉर्मुला, 100% करता है काम!

आज हम आपको टॉपर बच्चों के कुछ सीक्रेट्स बता रहे हैं। साथ ही कुछ ऐसे प्वाइंट्स बता रहे हैं जिन्हें अपनाकर आपको भी टॉप करने से कोई नहीं रोक सकता है।

Rashmi Upadhyay
तन मनWritten by: Rashmi UpadhyayPublished at: Apr 03, 2017
ये है 12वीं में टॉप करने का फॉर्मुला, 100% करता है काम!

वैसे तो 10वीं और 12वीं दोनों ही कक्षाओं में बोर्ड की परीक्षाएं होती हैं। लेकिन 12वीं की परीक्षा करियर की दृष्टि से जीवन का सबसे बड़ा पड़ाव होता है। क्योंकि यहीं से देश और विदेश के तमाम संस्थान तय करते हैं कि हम किस यूनिवर्सिटी और कोर्स के लायक है। कई बार पढ़ने में होशियार बच्चे भी परीक्षा के वक्त कुछ ऐसी गलतियां कर देते हैं जिनका परीणाम उन्हें रिजल्ट में कम नंबरों के साथ भुगतना पड़ता है। जबकि अगर उन्हें अपनी इन गलतियों या कमजोरियों के बारे में पहले से बता दिया जाए तो वह बच्चे काफी अच्छे नम्बरों से परीक्षा पास कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें, लंबी उम्र पाना चाहती हैं तो अपनाएं ये तरीका!

आप भी कभी ना कभी ये जरूर सोचते होंगे कि आखिर टॉप करने वाले बच्चे अपनी कॉपी में ऐसा क्या लिखते हैं जिससे उन्हें 99 और 100 नम्बर तक मिल जाते हैं? अच्छी बात यह है कि अगर आपकी सोच भी यहां तक जाती है या कभी भी आपने इस बारे में सोचा है तो आपको भी टॉप करने से कोई नहीं रोक सकता है। टॉपर बच्चे सिर्फ किताब को रटते नहीं है। ना ही वह कभी सिर्फ वह लिखते हैं जो पाठ्य सामग्री में लिखा होता है। आज हम आपको टॉपर बच्चों के कुछ सीक्रेट्स बता रहे हैं। साथ ही कुछ ऐसे प्वाइंट्स बता रहे हैं जिन्हें अपनाकर आपको भी टॉप करने से कोई नहीं रोक सकता है।

इसे भी पढ़ें, खुशहाली के मामले में भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश से भी पीछे

11वीं से ही शुरू कर दें 12वीं की पढ़ाई


जो बच्चे 12वीं कक्षा में टॉप करते हैं उनकी जिंदगी में कोई अचानक चमत्कार नहीं होता है, और ना ही वो बच्चे कोई अमृत पीते हैं। फर्क सिर्फ इतना है कि वह बच्चे स्मार्ट माइंड के साथ पढ़ाई करते हैं। टॉपर बच्चे पहले से ही कुछ खास तरह की तैयारी करते हैं। ​जिसमें से एक 11वीं में ही 12वीं की पढ़ाई करना शामिल है। जिन बच्चों को 12वीं में अच्छे नम्बरों की चाह होती है या टॉप करने का मकसद होता है वह 11वीं कक्षा में ही 12वीं के लिए अपना स्टडी प्लान बना लेते हैं। क्योंकि 11वीं के नम्बर आपके करियर में कहीं काम नहीं आते हैं। इसलिए 11वीं कक्षा में सिर्फ पास होने या थोड़े अच्छे नम्बर के लायक ही पढ़ना चाहिए। इसके अलावा 11वीं कक्षा में अपना सारा फोकस 12वीं की पढ़ाई पर करें। ताकि आपको टॉपर बनने से कोई रोक ना पाएं। ऐसा करने से जब आप 12वीं में जाएंगे तो आपके सारे कॉन्सेप्ट क्लीयर होंगे। अब आप सिर्फ अपने वीक प्वाइंट्स को दूर करेंगे।

करंट इग्जैम्पल लिखें


अब अगर आप यह सोच रहे हैं कि अगर आप 11वीं में ही 12वीं की सारी पढ़ाई कर लेंगे तो 12वीं का पूरा साल क्या करेंगे? 12वीं कक्षा में जब आप जाएंगे तो आपको सब कुछ पहले से ही याद हो गया होगा। इसलिए अब आप अपने सब्जेक्ट्स के करंट इग्जैम्पल और न्यू अपडेट्स पर ध्यान देंगे। टॉपर बच्चे हमेशा अपनी परीक्षा कॉपी में प्रश्न से जुड़े करंट इग्जैम्पल लिखते हैं। जिससे उनके उत्तर में दम दिखता है और कॉपी चेक करने वाला भी देखता है कि बच्चे ने सिर्फ किताबें रटी नहीं है, बल्कि कान्सेप्ट को समझ कर लिखा है। और टीचर भी कॉपी चेक करते वक्त यही देखता है कि बच्चे ने सिर्फ रट कर लिखा है या समझ कर लिखा है। यह कुछ ऐसी बातें हैं जिन्हें अपनाकर आप जरूर अच्छे नम्बर के साथ 12वीं की परीक्षा पास करेंगे।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Healthy Living In Hindi

Disclaimer