बच्चों में टॉन्सिलाइटिस की समस्या के क्या कारण होते हैं ? जानें लक्षण और बचाव के तरीके

टॉन्सिलाइटिस बच्चों में होने वाली आम समस्याओं में से एक है लेकिन इसे नजरअंदाज करने से कई परेशानियां हो सकती है। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: Mar 16, 2022Updated at: Mar 16, 2022
बच्चों में टॉन्सिलाइटिस की समस्या के क्या कारण होते हैं ? जानें लक्षण और बचाव के तरीके

टॉन्सिलिटिस बच्चों में होने वाला एक आम संक्रमण है, जो उनके गले में मौजूद टॉन्सिल को प्रभावित करता है। हमारे शरीर में पाया जाने वाला टॉन्सिल एक फिल्टर के रूप में कार्य करता है, जो बैक्टीरिया या कीटाणुओं को शरीर के अंदर प्रवेश करने से रोकता है। अगर ये वायरस शरीर के अंदर जाकर संक्रमण और सूजन जैसी समस्याएं पैदा करते हैं। टॉन्सिलिटिस कई कारणों से बच्चों में बार-बार होने की आंशका रहती है। इसके कारण बच्चे के गले में तेज दर्द, सूजन और बोलने में परेशानी होती है। साथ ही इससे खाने में भी परेशानी हो सकती है। बच्चों को टॉन्सिलिटिस होने की समस्या पर बिना देरी किए उन्हें डॉक्टर के पास ले जाएं और सही इलाज कराने की जरूरत होती है क्योंकि कई बार बच्चों को थोड़ा आराम मिलने पर पेरेंट्स दवा का कोर्स पूरा नहीं करवाते है, जो उनके लिए बाद में परेशानी का कारण बन सकता है। आइए बच्चों में होने वाली इस समस्या के बारे में विस्तार से जानते है और समझते हैं कि किस तरह की सावधानियां रखकर आप इस परेशानी से बच सकते हैं।

टॉन्सिलिटिस के प्रकार (Types of Tonsillitis)

टॉन्सिलिटिस आमतौर पर तीन प्रकार के होते हैं और ये अलग-अलग स्तर पर आपको प्रभावित कर सकते हैं। इसलिए आपको इस बात की जानकारी होनी चाहिए। 

1. तीव्र टॉन्सिलिटिस 

इस तरह के टॉन्सिलिटिस 3-4 दिनों से लेकर 2 सप्ताह तक रह सकते हैं। 

2. आवर्तक टॉन्सिलिटिस 

आवर्तक टॉन्सिलिटिस बच्चों में तब होता है, जब उन्हें साल में कई बार टॉन्सिलिटिस की समस्या होती है। 

3. क्रोनिक टॉन्सिलिटिस

क्रोनिक टॉन्सिलिटिस बच्चों में तब होता है, जब उन्हें बहुत लंबे समय तक टॉन्सिल का संक्रमण होता है। 

kids-problem

Image Credit- Freepik

टॉन्सिलाइटिस के लक्षण (Symptoms of Tonsillitis)

टॉन्सिलिटिस के मुख्य लक्षण सूजन और सूजे हुए टॉन्सिल होते हैं, कभी-कभी यह इतना गंभीर होता है कि आपके मुंह से सांस लेना मुश्किल हो जाता है। 

1. गले में दर्द और लाल टॉन्सिल

2. बुखार, सिरदर्द और कान का दर्द

3. भूख में कमी

4. टॉन्सिल पर एक सफेद या पीली कोटिंग

5. गले पर दर्दनाक छाले और निगलने में परेशानी

6.  गर्दन या जबड़े में सूजन 

7. बोलने में परेशानी

8.  गर्दन में अकड़न

इसे भी पढ़ें- गले में दर्द और सूजन टॉन्सिलाइटिस की है निशानी, एक्सपर्ट से जानिए इसके इलाज और बचाव

टॉन्सिलाइटिस को कैसे ठीक करें

अगर बच्चे के गले में सूजन है और टॉन्सिल लाल या पीला दिखाई दे रहा है, तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। संक्रमण के लक्षण जैसे बुखार, कान या नाक में दर्द होने आप ये जांच करवा सकते हैं। 

1. गले के स्वाब का टेस्ट

2. ब्लड टेस्ट

3. इसके अलावा डॉक्टर संक्रमण से जुड़े लक्षणों के लिए भी जांच कर सकते हैं। 

kids-problem

Image Credit- Freepik

टॉन्सिलाइटिस के लिए घरेलू उपचार (Home Remedies for Tonsillitis)

1. बच्चे को खेलने की बजाय ज्यादा आराम करने को कहें। कई बार अच्छे से आराम न करने के कारण यह परेशानी बढ़ सकती है। 

2. गले के दर्द को कम करने के लिए गर्म तरल पदार्थ खाएं और हो सके तो गले की सेंकने का प्रयास करें। 

3. बच्चों को सॉफ्ट खाना खाने को दें ताकि गले को आराम मिले और खाना गले में न फंसे। 

4. बच्चे को नमक पानी के गरारे करने को कहें ताकि गले की सूजन कम हो सके। 

5. इसके अलावा बच्चे को ठंडी चीजों का सेवन करने से मना करें। इससे टॉन्सिलाइटिस बढ़ सकता है। 

Main Image Credit- Freepik

Disclaimer