गर्मी में फ्लू होने पर नजर आते हैं ये 6 लक्षण, जानें कैसे करें बचाव

Summer Flu Summers:  गर्मियों में फ्लू होने पर कई लक्षण नजर आ सकते हैं। इसमें बुखार, खांसी आदि शामिल है।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: May 24, 2022Updated at: May 24, 2022
गर्मी में फ्लू होने पर नजर आते हैं ये 6 लक्षण, जानें कैसे करें बचाव

Summer Flu Summers in Hindi:  कई लोगों को बार-बार वायरल फ्लू के लक्षणों का सामना करना पड़ता है। वैसे तो अधिकतर लोगों को सर्दियों में इस तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लेकिन जिन लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है, उन्हें कई बार गर्मियों में भी फ्लू से जूझना पड़ता है। फ्लू एक वायरल संक्रमण है, जो श्वसन प्रणाली में कई तरह के लक्षण पैदा करता है। यह संक्रमण संक्रामक होता है और एक व्यक्ति से दूसरे में फैल सकता है। 

गर्मी में फ्लू होना आम नहीं है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार गर्मियों में फ्लू होने की संभावना उतनी नहीं होती है, जितनी की सर्दियों में रहती है। समर फ्लू के लक्षण निम्न हो सकते हैं।

समर फ्लू के लक्षण (Summer Flu Symptoms in Hindi)

1. सामान्य जुकाम

गर्मियों में फ्लू होने पर लोगों में सामान्य जुकाम हो सकता है। इस दौरान व्यक्ति को बहती नाक, छींक आना, गला खराब होना, नाक बंद होना, कमजोरी, शरीर में दर्द, बुखार, सीने में दर्द और खांसी होना समर फ्लू के लक्षण हो सकते हैं। 

2. गले का संक्रमण 

गले का संक्रमण भी गर्मियों में होने वाले फ्लू का लक्षण हो सकता है। इस स्थिति में गले में दर्द, सूजन, बुखार, थकान और ठंड लगना जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं। इसके अलावा लाल धब्बे, सफेद धब्बों के साथ सूजे हुए टॉन्सिल की समस्या हो सकती है। इस दौरान व्यक्ति को पानी निगलने में कठिनाई हो सकती है।

3. बहती नाक

बहती नाक भी गर्मियों में होने वाले फ्लू का एक सामान्य लक्षण हो सकता है। इस स्थिति में नाक से पानी निकल सकता है। सर्दियों में तो बहती नाक की समस्या आम है, लेकिन गर्मियों में यह वायरल फ्लू का लक्षण हो सकता है।

इसे भी पढ़ें - क्या है बच्चों में तेजी से फैल रही बीमारी टोमैटो फ्लू? जानें इसके लक्षण और बचाव के टिप्स

4. उल्टी और जी मिचलाना

अगर आपको गर्मियों में उल्टी या जी मिचलाने की समस्या अकसर रहती है, तो यह स्थिति फ्लू की हो सकती है। वायरल संक्रमण या फ्लू होने पर उल्टी हो सकती है। या फिर जी मिचलाने की समस्या हो सकती है।

5. डायरिया

वायरल सक्रमण होने पर डायरिया की समस्या भी हो सकती है। इसलिए इस समस्या को बिल्कुल नजरअंदाज न करें। यह समस्या बॉडी को डिहाइड्रेट कर देती है। इसलिए इस दौरान खुद को हाइड्रेट रखना जरूरी होता है। बॉडी को हाइड्रेट करने के लिए खूब पानी पिएं। साथ ही नारियल पानी, जूस आदि का इनटेक भी बढ़ाएं।

6. शरीर में दर्द होना

शरीर में दर्द होना भी वायरल संक्रमण का लक्षण हो सकता है। अगर आपको बार-बार शरीर या मांसपेशियों में दर्द रहता है, तो इस स्थिति को नजरअंदाज न करें। वैसे तो शरीर में दर्द कई दूसरों कारणों की वजह से भी हो सकता है, लेकिन अधिकतर मामलों में यह वायरल संक्रमण का कारण बन सकता है। 

इसे भी पढ़ें - कोविड, जुकाम, फ्लू और मौसमी एलर्जी में अंतर कैसे पहचानें? डॉक्टर से जानें इनके लक्षण और बचाव के उपाय

इसके अलावा सीने में दर्द, थकान, कमजोरी, बुखार. बार-बार छींकना और शरीर में दर्द होना भी फ्लू के लक्षण हो सकते हैं। वैसे तो फ्लू कुछ दिनों में ठीक हो जाता है, लेकिन अगर 2 से 3 दिनों से अधिक समय तक फ्लू के लक्षण नजर आते हैं, तो इस स्थिति में डॉक्टर से जरूर मिलें। फ्लू से बचाव के लिए अपनी डाइट का खास ध्यान रखें। क्योंकि लंबे समय तक फ्लू रहना परेशानियों को बढ़ा सकता है।

Disclaimer