शुगरी ड्रिंक्‍स से बढ़ सकता है महिलाओं में 20% अधिक दिल की बीमारियों का खतरा : शोध

शुगरी ड्रिंक्‍स आपकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकती हैं। हाल ही के एक अध्ययन में पाया गया है कि शुगरी ड्रिंक्‍स महिलाओं में हृदय रोगों के खतरे से जुड़ी है

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: May 15, 2020
शुगरी ड्रिंक्‍स से बढ़ सकता है महिलाओं में 20% अधिक दिल की बीमारियों का खतरा : शोध

मीठे का अधिक सेवन आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है, खासकर कि शुगरी ड्रिंक्‍स। ऐसा हम नहीं कह रहे, बल्कि ऐसा हेल्‍थ एक्‍सपर्ट्स और हाल ही में किए गए एक अध्ययन में पाया गया है। भले ही गर्मियों के दिनों में शुगरी या कोल्‍ड ड्रिंक्‍स आपकी प्‍यास क्‍यो न बुझाती हों, लेकिन यह आपकी सेहत के लिए अच्‍छी नहीं हैं। क्‍योंकि शुगरयुक्‍त पेय आपको दिल की बीमारियों के जोखिम में डाल सकते हैं। अध्ययनों से पता चला है कि तरल रूप में चीनी का सेवन करना ज्यादा खराब है। आइए आगे पढ़ें क्‍या कहती है ये नई रिसर्च। 

Sugary Drinks and Heart Diseases In Women

शुगरी ड्रिंक्‍स से महिलाओं में बढ़ सकता है दिल की बीमारियों का खतरा 

शुगरी ड्रिंक्‍स या कोल्‍ड ड्रिंक्‍स का सेवन करने से केवल कैलोरी का उपभोग होता है, यानि यह आपको केवल कैलोरी देती हैं पोषण नहीं। इस नई रिसर्च में पाया गया है कि एक दिन में एक या उससे अधिक मीठे पेय पदार्थ यानि शुगरी ड्रिंक्‍स पीने से महिलाओं में हृदय रोग के खतरे में लगभग 20 प्रतिशत वृद्धि देखी गई है। इसमें शुगरी ड्रिंक्‍स जैसे- कोल्‍ड ड्रिंक्‍स, बोतलबंद जूस या फिर चाय और चीनीयुक्‍त फ्रूट जूस भी शामिल है। 

क्‍या कहती है रिसर्च? 

जर्नल ऑफ अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार , शुगरी ड्रिंक्‍स या चीनीयुक्‍त पेय पदार्थों के दैनिक सेवन को हृदय रोग के बढ़ते जोखिम से जोड़ा गया है। अध्ययन पिछले 20 वर्षों में 1,06,000 महिलाओं के डेटा पर आयोजित किया गया था। जिसमें, यह पाया गया कि प्रतिदिन चीनीयुक्‍त मीठे पेय पदार्थ पीने से लगभग 20% महिलाओं में हृदय रोग होने की संभावना बढ़ जाती है बयाय उनके, जो इन पेय पदार्थों को शायद ही कभी पीती थीं। 

Sugary Drinks May Increase 20 % Higher Risk of Heart Diseases In Women

इसे भी पढ़ें: खराब नींद या नींद में कमी बन सकती है अस्‍थमा अटैक का संभावित कारण, शोध में हुआ खुलासा

अध्ययन के प्रमुख लेखक ने एक बयान में कहा, ''चीनी कई तरह की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं का जोखिम कारक बन सकती है, यह कई तरह से हृदय रोगों के खतरे को बढ़ा सकती है। यह खून में ग्लूकोज के स्तर और इंसुलिन सांद्रता को बढ़ाता है, जिससे भूख बढ़ सकती है और मोटापा भी हो सकता है। इतना ही नहीं शुगरी ड्रिंक्‍स हृदय रोग के लिए एक प्रमुख जोखिम कारक हो सकता है।"

शुगरी ड्रिंक्‍स से होने वाले अन्‍य नुकसान

  • मोटापा 
  • डायबिटीज
  • दांत खराब होना या कैविटी 
  • कोलेस्ट्रॉल
  • बैली फैट या पेट की चर्बी आदि। 

अध्‍ययन बताता है कि शुगरी ड्रिंक्‍स के सेवन से खून में बहुत अधिक चीनी ऑक्सीडेटिव तनाव और सूजन, इंसुलिन प्रतिरोध, अस्वास्थ्यकर कोलेस्ट्रॉल प्रोफाइल और टाइप 2 डायबिटीज से जुड़ी होती है। ऐसी स्थितियाँ, जो एथेरोस्क्लेरोसिस के विकास से दृढ़ता से जुड़ी होती हैं और जो सबसे अधिक हृदय को कमजोर करने वाली धमनियों की धीमी संकीर्णता से जुड़ी होती हैं।

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन ज्यादातर महिलाओं के लिए प्रति दिन 100 से अधिक कैलोरी (लगभग 6 चम्मच) में चीनी को सीमित करने की सलाह देता है। जबकि पुरुषों के लिए 150 कैलोरी (9 चम्मच) तक की सलाह है। 

Read More Article On Health News In Hindi

Disclaimer