Soaked vs Dry Dates: सूखे या भीगे हुए खजूर में से क्या है अधिक फायदेमंद?

Soaked vs Dry Dates in Hindi: खजूर को आप सूखे और गीले दोनों तरीकों से खा सकते हैं। जानें, इन दोनों में से क्या है अधिक फायदेमंद-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Dec 24, 2022 07:00 IST
Soaked vs Dry Dates: सूखे या भीगे हुए खजूर में से क्या है अधिक फायदेमंद?

Soaked vs Dry Dates in Hindi: खजूर पोषक तत्वों से भरपूर होता है। अकसर लोग विंटर डाइट में खजूर को शामिल करते हैं। कई लोग खजूर को सीधे तौर पर खाते हैं। तो कुछ लोग खजूर को पानी या दूध में भिगोकर खाना पसंद करते हैं। वहीं, कुछ लोग खजूर का हलवा या लड्डू बनाकर भी खाते हैं। वैसे तो खजूर को किसी भी तरह से खाया जा सकता है। सभी तरह से खजूर खाना सेहत के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन अगर आप अलग-अलग तरह से खजूर खाएंगे, तो इससे आपकी सेहत को अलग-अलग लाभ मिल सकते हैं। अकसर लोगों के मन में सवाल रहता है कि खजूर को सूखा खाना चाहिए या फिर भिगोकर? यानी सूखे या गीले खजूर में से क्या अधिक फायदेमंद होता है? (Soaked vs Dry Dates Which is Beneficial  in Hindi) तो चलिए, आरोग्य डाइट और न्यूट्रीशन क्लीनिक की डाइटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा से जानें सूखे और भीगे हुए खजूर में से अधिक फायदेमंद क्या है?

सूखे या भीगे हुए खजूर में से क्या है अधिक फायदेमंद - Which is Better Dry Dates or Soaked Dates in Hindi

सूखे और भीगे खजूर दोनों ही सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। डाइटीशियन अलग-अलग समस्याओं में अलग-अलग तरीकों से खजूर खाने की सलाह दे सकते हैं। अब आप सोचे रहे होंगे कि किसे सूखे खजूर खाने चाहिए और किसे भीगे हुए खजूर। तो आपको बता दें कि सूखे खजूर की तासीर काफी गर्म होती है, जबकि भीगे हुए खजूर की तासीर कम गर्म होती है। जानें, किस कौन से खजूर खाने चाहिए?

इसे भी पढ़ें- रोज सुबह खाली पेट खाएं खूजर, दूर होंगी ये 5 समस्याएं

  • सूखे खजूर की तासीर बेहद गर्म होती है, जबकि भीगे हुए खजूर की तासीर कम गर्म होती है। ऐसे में अगर आपके शरीर की पित्त प्रकृति है, तो आप गीले खजूर खा सकते हैं। क्योंकि ये पित्त को नहीं बढ़ाते हैं। वहीं वात और कफ प्रकृति के लोग सूखे खजूर खा सकते हैं। 
  • सूखे खजूर की नमी खत्म हो जाती है। इसलिए डायबिटीज रोगियों को सूखे खजूर खाने से बचना चाहिए। आप गीले खजूर को अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं। डायबिटीज रोगियों के लिए भीगे हुए खजूर खाना फायदेमंद हो सकता है। 
  • सूखे खजूर में फाइबर की मात्रा अधिक पाई जाती है। फिर जब खजूर को भिगो दिया जाता है, तो इनमें फाइबर की मात्रा कम होने लगती है।
soaked vs dry dates
  • डॉक्टर सुगीता मुटरेजा बताती हैं कि जिन लोगों को अनियमित पीरियड्स आते हैं या पीरियड्स लेट आते हैं, तो उन्हें पीरियड्स लाने के लिए सूखे खजूर खाने की सलाह दी सकती है। वहीं, जिन लोगों को पीरियड्स में कम ब्लीडिंग होती है, वे खजूर वाला दूध पी सकते हैं। 
  • ड्राई या सूखे खजूर में कैलोरी की मात्रा काफी अधिक होती है। ऐसे में अगर आपका वजन अधिक है, तो आपको ड्राई खजूर के बजाय भीगे हुए खजूर खाने चाहिए।
  • वहीं, अगर आप वजन बढ़ाना चाहते हैं, तो खजूर के लड्डू बनाकर खा सकते हैं। खजूर के लड्डू खाने से आपको वजन बढ़ाने में काफी मदद मिल सकती है।
  • अगर आपका हीमोग्लोबिन का स्तर कम है, आप खून बढा़ना चाहते हैं, तो अपनी डाइट में गीले खजूर को शामिल कर सकते हैं। 

आपको बता दें कि गीले और सूखे खजूर दोनों ही पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। आप गीले और सूखे दोनों खजूर को अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं। लेकिन अगर आपको डायबिटीज है, तो ड्राई खजूर खाने के बजाय भीगे हुए खजूर खाएं।

Disclaimer