प्रेग्नेंसी में पसलियों में दर्द होने के 4 कारण, जानें इसके अन्य लक्षण और इलाज

गर्भावस्था के दौरान पसलियों में दर्द होना कितना आम है और कितना गंभीर, इसके बारे में पता होना जरूरी है। जानते हैं कारण, लक्षण और बचाव

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Sep 03, 2021Updated at: Sep 03, 2021
प्रेग्नेंसी में पसलियों में दर्द होने के 4 कारण, जानें इसके अन्य लक्षण और इलाज

गर्भावस्था के दौरान अक्सर महिलाओं में कई ऐसे बदलाव आते हैं, जिनके कारण उन्हें काफी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। कभी कभी भी समस्याएं काफी कष्टदायक भी हो सकती हैं। ऐसी ही एक समस्या है गर्भावस्था के दौरान पसलियों में दर्द होना। सवाल यह है कि गर्भावस्था के दौरान पसलियों का दर्द कितना आम है और कितना गंभीर? इसके बारे में महिलाओं को पता होना जरूरी है। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि गर्भावस्था के दौरान अगर महिलाओं को पसलियों का दर्द उठता है तो इसके पीछे क्या क्या कारण हो सकते हैं। साथ ही लक्षण और बचाव के बारे में भी जानेंगे। पढ़ते हैं आगे...

 

बता दें कि गर्भावस्था के दौरान पसलियों में दर्द आम नहीं है। यह पसलियों में चोट, फ्रैक्चर आदि के लक्षण हो सकते हैं, जिनका पता महिलाओं को हंसते वक्त, सांस लेते वक्त, छींकते वक्त हो सकता है। ऐसे में इस दर्द को इग्नोर करना सही नहीं है। पसलियों में दर्द महिलाओं के तीसरी तिमाही के अंतिम समय से शुरू होकर पूरे गर्भावस्था के दौरान रह सकता है। इसके पीछे एक कारण यह भी हो सकता है कि गर्भाशय के आकार के बढ़ने पर पूरा दबाव महिला के अंदरूनी अंगों पर पड़ता है। इनमें पसलियां भी शामिल है‌। बता दें कि पसलियों का दर्द फक्चर का संकेत हो सकता है। इससे संबंधित कुछ रिसर्च भी सामने आई है। रिसर्च पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

इसे भी पढ़ें- प्रेग्नेंसी में आंख फड़कने के हो सकते हैं ये 13 कारण, जानें लक्षण और उपचार

गर्भावस्था में पसलियों में दर्द उठने पर दिखने वाले लक्षण

गर्भावस्था में पसलियों में दर्द उठने पर दिखने वाले लक्षण इस प्रकार हैं-

1 - गर्भावस्था के दौरान मतली की समस्या पसलियों में दर्द के कारण हो सकती है।

2 - जब पसलियों में महिलाओं को असुविधा महसूस हो तब भी यह समस्या हो सकती है।

3 - जब महिलाओं को पसलियों में सोते वक्त दर्द महसूस हो तो समझ जाएंगे पसलियां संक्रमित हो गई हैं।

4 - जब महिलाओं को सांस लेने में दर्द या असुविधा महसूस हो तो यह पसलियों में दर्द का लक्षण हो सकता है।

5 - पेट के निचले हिस्से में महिलाओं के दर्द महसूस करना भी इसी का लक्षण है।

6 - इसके अलावा जब महिलाओं की पसली में चोट लगती है तब महिलाओं को हंसते वक्त, गहरी सांस लेते वक्त, छींकते वक्त, झुकते वक्त, उठते या बैठते वक्त पसलियों में दर्द महसूस होता है। इससे अलग महिलाओं को पसलियों की मांसपेशियों में ऐंठन भी महसूस हो सकती है।

 

गर्भावस्था के दौरान पसलियों में दर्द होने के कारण

गर्भावस्था में पसलियों में दर्द कई कारणों से हो सकता है। यह कार्य निम्न प्रकार हैं-

1 - वजन बढ़ने से हो सकता है पसलियों में दर्द

बता दें कि गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का वजन बढ़ना स्वाभाविक है। लेकिन बढ़ते वजन के कारण महिलाओं के पेट के अंदरूनी अंगों में काफी दबाव पड़ता है। यही दबाव पसलियों पर भी पड़ सकता है, जिसके कारण महिलाओं को पसलियों के दर्द की समस्या हो सकती है।

2 - हार्मोन चेंजेस के कारण हो सकता है पसलियों में दर्द

गर्भावस्था के दौरान हार्मोनल बदलाव स्वाभाविक हैं ऐसे में यह बदलाव भी कई बार हड्डियों और मांसपेशियों के दर्द का कारण बन सकते हैं। इन्हीं हार्मोन बदलाव के कारण कभी-कभी पसलिओं की समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है। ऐसे में हम कह सकते हैं कि गर्भावस्था के दौरान पसलियों में दर्द हो सकता है।

3 - गर्भाशय का बढ़ता आकार है पसलियों में दर्द का कारण

गर्भावस्था के दौरान गर्भाशय का बढ़ना भी स्वाभाविक है, जिसके कारण पीठ गर्दन इत्यादि अंगों पर प्रभाव पड़ सकता है। गर्भाश्य के बढ़ते आकार का असर पसलियों पर भी पड़ सकता है इसीलिए प्रेगनेंसी में पसलियों में दर्द की समस्या हो सकती है।

इसे भी पढ़ें - प्रेग्नेंसी में केला खाने से मिलते हैं ये 7 फायदे, लेकिन खाने से पहले जानें कुछ सावधानियां और नुकसान

4 - यूटीआई संक्रमण के कारण पसलियों में दर्द

जब गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को यूटीआई संक्रमण की समस्या का सामना करना पड़ता है तो लक्षणों के तौर पर पसलियों में दर्द भी नजर आ सकता है। ऐसे में डॉक्टर की सलाह लेनी जरूरी होती है।

गर्भावस्था के दौरान पसली के दर्द से बचाव

गर्भावस्था के दौरान पसली के दर्द से बचने के लिए महिलाओं को कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

1 - गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को झटके से बैठना या उठना आदि से बचना चाहिए।

2 - प्रेगनेंसी में महिलाओं को कोई भारी सामान उठाने से बचना चाहिए।

3 - गर्भावस्था के दौरान मोटापे को जितना नियंत्रित कर सकें उतना करें।

4 - गर्भावस्था के दौरान संतुलित आहार मोटापे को नियंत्रित करने में आपके काम आ सकते हैं।

5 - गर्भावस्था में लंबे समय तक खड़े रहने या बैठने से बचें।

6 - गर्भावस्था में भरपूर मात्रा में पानी पिएं।

7 - अपनी दिनचर्या में योग आदि को जोड़ें। लेकिन इसके लिए डॉक्टर की सलाह जरूरी है।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि गर्भावस्था के दौरान पसलियों में दर्द होने से महिलाओं को कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना जरूरी है। इसके अलावा इस लेख में बताए गए लक्षण दिखाई देने पर भी डॉक्टर से संपर्क करें। साथ ही ऊपर बताए गए बचावों को अपनाकर आप पसलियों की समस्या से भी बच भी सकते हैं। गर्भावस्था के दौरान किसी के कहने पर अपनी डाइट में बदलाव ना करें।

इस लेख में इस्तेमाल की जानें वाली फोटोज़ Freepik or shutterstock से ली गई हैं।

Read More Articles on women health in hindi

Disclaimer