पायरिया रोग में नहीं काम आ रही दवा? इन घरेलू तरीकों का इस्तेमाल कर कुछ ही दिनों में पाएं राहत

पूरे शरीर के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित रहने वाले लोग भी अक्सर इस संपूर्ण स्वास्थ्य में दांतों को जोड़ना भूल जाते हैं। 

Vishal Singh
अन्य़ बीमारियांWritten by: Vishal SinghPublished at: Sep 12, 2018Updated at: Mar 31, 2020
पायरिया रोग में नहीं काम आ रही दवा? इन घरेलू तरीकों का इस्तेमाल कर कुछ ही दिनों में पाएं राहत

अपने आपको स्वस्थ रखने के लिए दांतों और मसूड़ों को स्वस्थ रखना भी बहुत ही जरूरी है। मुंह के जरिए कई बीमारियों का खतरा हमारे शरीर में बढ़ जाता है। जिससे बचने के लिए हमे अपने दांतों और मसूड़ों की देखभाल भी खास तरीके से करनी चाहिए। इसके लिए कई लोग रोजाना ब्रश करने से ये मानते हैं कि अब हम किसी भी खतरे में नहीं है, जबकि ऐसा नहीं है। 

दांतों और मसूड़ों से जुड़ी समस्या है पायरिया जिसका शिकार आजकल ज्यादातर लोगों हो रहे हैं। पायरिया मुंह की एक ऐसी समस्या है जिसमें मसूड़ों की अंदरूनी परतऔर हड्डियां, दांतों और दांतों के खांचे से दूर हो जाती है। ऐसे में बैक्टीरिया उस हिस्से में संक्रमण पैदा करते हैं और वो हिस्सा धीरे-धीरे सड़ने लगता है। इसमें कई बार मुंह से खून, दर्द और  बदबू आने लगती है। 

piaria

पायरिया के कारण क्या है? 

  • सही तरीके से खानपान न करना। 
  • दांतों की सही से देखभाल न करना। 
  • तंबाकू का ज्यादा मात्रा में सेवन करना। 
  • कई दिनों तक ब्रश न करना इसका मुख्य कारण हो सकता है। 
  • दांतों के बीच खाने के कण फंसे रह जाना। 
  • दांतो को बार-बार कुरेदना।

इसे भी पढ़ें: दांतों और मसूड़ों को लंबे समय तक स्वस्थ रखने के लिए जरूरी हैं ये 10 ओरल केयर टिप्स

लक्षण

इस समस्या का पता अचानक से नहीं हो पाता है। कई बार पायरिया की समस्या में दर्द कई दिनों तक रहता है या फिर धीरे-धीरे खून आने लगता है और मुंह से बदबू ज्यादा आने लगती है। पायरिया के मुख्य लक्षण: 

  • मसूड़ों में सूजन पैदा होना। 
  • मुंह से बदबू आना। 
  • मसूड़ों से खून आना। 
  • दांतों और मसूडों में दर्द रहना। 
  • खून के साथ मवाद निकलना। 

पायरिया से बचाव कैसे करें? 

मसूड़ो की मालिश करें

पायरिया की समस्या में रोजाना मसूड़ों की मालिश कर इस समस्या को कम किया जा सकता है। मालिश करने से मसूड़ों में मौजूद बैक्टीरिया को भगाया जा सकता है। मसूड़ों की मालिश का ये तरीका काफी पुराना और असरदार है। मसूड़ों की मालिश करने के लिए आप नारियल या फिर तिल के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। मालिश करने के बाद आप गुनगुने पानी से कुल्ला कर लें। आपको इससे काफी राहत मिलेगी साथ ही कुछ ही दिनों में पायरिया की समस्या खत्म हो जाएगी। 

हल्दी 

हल्दी हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होती है। पायरिया में भी हल्दी का इस्तेमाल करना हमारे लिए मददगार साबित हो सकता है। हल्दी से मसूड़ों की सूजन कम होती है साथ ही मसूड़ों और दांतों में मौजूद बैक्टीरिया को खत्म करने का काम करता है। हल्दी को आप एक मंजन की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आपके मसूडो़ं में दर्द और खून निकलना बंद हो जाएगा।

इसे भी पढ़ें: इन 10 टिप्‍स से दांतों की चमक हमेशा रहेगी बरकरार

नमक

पायरिया से परेशान लोगों के लिए नमक बहुत ही फायदेमंद नुस्खा है। नमक में मौजूद गुण आपके मुंह में दर्द, सूजन और खून निकलने की समस्या को खत्म करने का काम करता है। इसके लिए आप एक ग्लास हल्के गुनगुने पानी में नमक के 2 चम्मच डालकर इस घोल से दिन में 2 से 3 बार कुल्ला करें। इससे आपके दांतों और मसूड़ों में होने वाला दर्द भी कम होगा साथ ही मसूड़ों से भी निकलने वाले खून को रोक सकेगा। 

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

 
 
 
Disclaimer