World Oral Health Day 2020: दांतों और मसूड़ों को लंबे समय तक स्वस्थ रखने के लिए जरूरी हैं ये 10 ओरल केयर टिप्स

वर्ल्ड ओरल हेल्थ डे (World Oral Health Day) पर जानें दांतों को स्वस्थ और साफ रखने के 10 जरूरी टिप्स।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Mar 20, 2019
World Oral Health Day 2020: दांतों और मसूड़ों को लंबे समय तक स्वस्थ रखने के लिए जरूरी हैं ये 10 ओरल केयर टिप्स

वर्ल्ड ओरल हेल्थ डे हर साल 20 मार्च को मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मकसद यह है कि लोगों में मुंह की साफ-सफाई से जुड़ी जानकारियां और बीमारियों से बचाव के बारे में जागरूकता फैलाई जा सके। दांतों और मुंह की सफाई हमेशा करनी पड़ती है क्योंकि मुंह में बहुत जल्दी बैक्टीरिया पैदा होते हैं, जो आपके दांतों और मसूड़ों के साथ-साथ आपके पेट, किडनी और लिवर को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं। बचपन से मुंह का खयाल रखने के लिए आपको कई आदतें सिखाई जाती हैं जैसे- ब्रश करना, खाना के बाद कुल्ला करना, मीठी चीजें कम खाना आदि। इन आदतों में लापरवाहियों की वजह से और कई बार अन्य कारणों से मुंह का स्वास्थ्य प्रभावित होता है।

मुंह को स्वच्छ रखने के नाम पर ज्यादातर लोग ब्रश करने से ज्यादा कुछ नहीं करते हैं, जबकि मुंह की बीमारियां कई बार खतरनाक साबित होती हैं। रिसर्च में ये पता लगाया गया है कि जिन लोगों के मुंह में गंदगी और संक्रमण होता है, उनमें हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। आइए आपको बताते हैं मुंह, दांतों और मसूड़ों को लंबे समय तक स्वस्थ रखने के लिए किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

इसे भी पढ़ें:- दांतों की सेंसिविटी से छुटकारा पाना है, तो ब्रश करते समय ध्यान रखें ये 5 बातें

मुंह को स्वस्थ रखने के लिए जरूर टिप्स

  • खाने के बाद मुंह की अंदरुनी साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें।
  • ब्रश करते समय दांतों को अच्छी तरह से और आराम से साफ करें।
  • टंग क्लीनर से जीभ को अच्छी तरह साफ करें।
  • दांतों की सफाई के लिए कठोर ब्रश की बजाय कोमल ब्रश का इस्तेमाल करें।
  • रात में डिनर करने के बाद सोने से पहले भी ब्रश करें।
  • ब्रश करते समय ध्यान रखिए कि खाने का कोई टुकडा दांतों के बीच फंसा तो नहीं है।
  • कुछ भी खाने के बाद अगर ब्रश नहीं कर सकते हैं तो पानी से दांतों की सफाई कर लेनी चाहिए।
  • अच्छे दांत सेहत और सुंदरता की निशानी होती है। इसलिए अपने दांतों का ख्याल जरूर रखें।
  • रोजाना फ्लास किया करें। ऐसा करने से  आपके दांतों एवं मसूड़ों के उन भागों से भी बैक्‍टीरिया, खाद्य कणों एवं प्‍लेक की सफाई हो जाती है जहाँ तक आपका टूथब्रश नहीं पहुँचता। इसके पश्चात ठीक से कुल्ला करें।
  • ब्रश करते समय ब्रश को अपने जीभ पर आगे-पीछे चलाते हुए जीभ की भी अच्छी तरह सफाई किया करें। जीभ साफ करने के दूसरे भी यन्त्र मिलते हैं, उनसे भी जीभ को साफ़ करें। जीभ साफ़ करने से ज्यादा से ज्यादा बैक्‍टीरिया का सफाया हो जाता है। जीभ साफ़ करने के बाद फिर से कुल्ला करें।

टूथब्रश के इस्तेमाल में बरतें सावधानी

अगर आप इस तरह की समस्‍याओं से बचना चाहते हैं तो टूथब्रश की देखभाल करना बहुत जरूरी होता है। पुराने ब्रश को लंबे समय तक इस्‍तेमाल करने से संक्रमण से बीमारी होने का खतरा रहता है। इसके अलावा ध्यान रखें कि एक ही जगह पर परिवार के सभी सदस्‍यों के टूथब्रश को रखने से भी बीमारी फैलाती है। अगर टूथब्रश गीला ही रख दिया जाए तो उसमें काफी अधिक मात्रा में बैक्‍टीरिया जन्‍म ले सकते हैं।

ब्रश करते समय ज्यादा जोर न लगाएं

बहुत तेज और जोर लगाकर ब्रश करने से आपके दांतों में सेंसिटिविटी का खतरा बढ़ जाता है क्योंकि इससे दांतों के ऊपर मौजूद इनेमल की पर्त को नुकसान पहुंचता है। इसके अलावा इससे दांतों को बांधकर रखने वाले मसूड़ों को भी नुकसान पहुंचता है। इसलिए ध्यान रखें कि हमेशा हल्के हाथों से ब्रश करें और मुलायम ब्रश का इस्तेमाल करें। ब्रश करते समय दांतों पर इसे हल्के हाथों से चलाएं।

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

Disclaimer