परिणीति चोपड़ा ने कोरोना वायरस से बचने के लिए पहना मास्क, मगर क्या सच में मास्क आपको इस वायरस से बचा सकता है?

बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणीति चोपड़ा कोरोना वायरस से बचने के लिए मास्क पहने हुए नजर आईं। मगर मास्क आपको कोरोना वायरस से बचाते भी हैं या नहीं?

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Feb 12, 2020
परिणीति चोपड़ा ने कोरोना वायरस से बचने के लिए पहना मास्क, मगर क्या सच में मास्क आपको इस वायरस से बचा सकता है?

बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणीति चोपड़ा ने इंस्टाग्राम पर अपनी कुछ तस्वीरें पोस्ट की हैं, जिसमें वो मास्क पहने हुए नजर आ रही हैं। ये मास्क उन्होंने कोरोना वायरस से बचने के लिए पहना था और कैप्शन में लिखा, "दुःखद है, मगर यही आज की स्थिति है। आप सब सुरक्षित रहें। #Coronavirus #StaySafe"। परिणीति के अलावा रणबीर कपूर, कार्तिक आयर्न, सनी लियोनी और कुछ अन्य बॉलीवुड सेलेब्स को भी पिछले दिनों कोरोना वायरस से बचने के लिए मुंह पर मास्क लगाए हुए देखा गया है। मगर क्या सच में मास्क आपको कोरोना वायरस से बचा सकता है? आइए आपको बताते हैं कुछ खास बातें।

 
 
 
View this post on Instagram

Sad, but I guess this is the situation now. Stay safe guys. �� #Coronavirus #StaySafe

A post shared by Parineeti Chopra (@parineetichopra) onFeb 9, 2020 at 7:34pm PST

चीन से शुरु हुआ कोरोना वायरस आज 28 देशों में फैल चुका है। इसे रोकने का अब तक कोई तरीका नहीं खोजा जा सका है। 45 हजार से ज्यादा लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं और 1100 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। तमाम स्वास्थ्य संगठन और डॉक्टर्स कोरोना वायरस से बचने के लिए लोगों को मास्क पहनने की सलाह दे रहे हैं। इसके कारण चीन सहित भारत में मास्क की बिक्री अचानक बढ़ गई है और आपूर्ति मुश्किल से हो पा रही है। मगर हर तरह के मास्क आपको कोरोना वायरस से नहीं बचाते हैं।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस से जुड़ी ये 6 बातें हैं अफवाह, कहीं आपने तो यकीन नहीं कर लिया इनपर?

क्या मास्क आपको कोरोना वायरस से बचा सकते हैं?

चीन और भारत से आ रही तस्वीरों में बहुत सारे लोग सर्जिकल मास्क पहने हुए दिख रहे हैं। मगर हेल्थ एक्सपर्ट्स बताते हैं कि सामान्य मास्क या सर्जिकल मास्क आपको वायरस से नहीं बचा सकते हैं। इसके अलावा ये मास्क लगातार सांस लेने और छोड़ने के दौरान गीले हो जाते हैं और ये अप्रभावी हो जाते हैं। इसके बजाय N-95 मास्क कुछ हद तक वायरस से आपकी सुरक्षा करते हैं, क्योंकि इन्हें इस तरह बनाया जाता है कि ये फाइन पार्टिकल्स को रोक सकें। अगर कोई व्यक्ति पहले ही कोरोना वायरस से प्रभावित है, तो उसके लिए मास्क पहनना बहुत जरूरी है, ताकि दूसरे लोग उसके संपर्क में आकर संक्रमित न हों। मगर इसे पहनने में भी कई तरह की सावधानियां बरतनी जरूरी हैं, जिसके बारे में आगे बताया जा रहा है।

अगर मास्क नहीं मिल रहा, तो डरने की जरूरत नहीं है

अगर आपको मास्क नहीं मिल रहा है, तो डरने की बात नहीं है। ऐसा नहीं है कि सिर्फ मास्क पहनने से ही आप कोरोना वायरस से बच सकते हैं। दरअसल कोरोना वायरस से प्रभावित कोई व्यक्ति जब छींकता या खांसता है, तो वायरस उसके मुंह से निकलकर हवा में कुछ दूर तक ट्रैवेल करते हैं। एक्सपर्ट्स के अनुसार ये दूरी लगभग 1 से 3 मीटर तक हो सकती है। इसके बाद ये वायरस जमीन में गिर जाते हैं या सामने रखी चीज पर जम जाते हैं और काफी देर तक जिंदा रहते हैं। इसके बाद अगर कोई व्यक्ति इस वस्तु को छूता है या जमीन पर उसका हाथ जाता है, तो हाथ के सहारे ये वायरस आंखों, नाक या मुंह में पहुंच सकता है, जिसके बाद व्यक्ति इसकी चपेट में आ सकता है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने घोषित किया 'ग्लोबल हेल्थ इमरजेन्सी'

इसीलिए हेल्थ एक्सपर्ट्स कोरोना वायरस से बचने के लिए लोगों को निम्न सलाह दे रहे हैं।

  • N-95 के अलावा कोई भी सामान्य मास्क, रूमाल, कपड़ा, सर्जिकल मास्क आदि आपको कोरोना वायरस के बचाने में अप्रभावी हैं।
  • N-95 मास्क पहनने के बावजूद, मास्क को छूने, उतारने या बदलने के बाद अगर आप हाथ को साबुन से या सैनिटाइजर से नहीं साफ करते हैं, तो वायरस आपके मुंह या नाक तक पहुंच सकता है।
  • N-95 मास्क काफी हद तक अंदर और बाहर से वायरस को रोकने में काफी हद तक सक्षम होता है, मगर इसे पहनने के बाद भी आपको हाथों और चीजों की साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखना बहुत जरूरी है।
  • स्वयं के या दूसरों के खांसते-छींकते समय आपके मुंह पर मास्क होना बहुत जरूरी है।
  • उपयोग के बाद मास्क को सही से डिस्पोज करना भी जरूरी है, ताकि वायरस दूसरे लोगों तक न फैले।

Read more articles on Other Diseases in Hindi

Disclaimer