Corona Vaccine: कोरोना वैक्सीन से जुड़े 20 बड़े सवालों के जवाब, जिन्हें आपको जरूर जानना चाहिए

कोरोना वैक्सीन अगले कुछ दिनों में आ जाएगी। इस वैक्सीन के बारे में आपके मन में भी उठ रहे होंगे कुछ सवाल। जानें ऐसे ही 20 बड़े सवालों के जवाब।

सम्‍पादकीय विभाग
विविधWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Dec 17, 2020Updated at: Dec 17, 2020
Corona Vaccine: कोरोना वैक्सीन से जुड़े 20 बड़े सवालों के जवाब, जिन्हें आपको जरूर जानना चाहिए

जानकारों की मानें तो वो द‍िन अब दूर नहीं जब हम कोरोना के खिलाफ चल रही जंग जीत जायेंगे। व‍िदेशों में कोराना टीका लगने की प्रक्र‍िया शुरू हो चुकी है। जल्‍द ही भारत में भी कोरोना की वैक्सीन आम लोगों के लिए उपलब्ध हो जाएगी। कोविड-19 वैक्सीन से जुड़ी सभी जानकारियां अभी सामने नहीं आई हैं, ज‍िसके चलते इससे जुड़ी कई अफवाहें भी सुनने को म‍िल रही हैं पर जरूरी बात ये है क‍ि च‍िक‍ित्‍सक और शोधकर्ता लगातार इस कोशिश में जुटे हैं क‍ि वैक्‍सीन जल्‍द हम तक पहुंच जाये। जब तक हमें टीका नहीं लगता और उसका असर हम खुद पर नहीं देख लेते तब तक हमारे मन में इससे जुड़े कई सवाल और शंकायें बनी रहेंगी। WHO और तमाम स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ये कोशिश कर रहे हैं क‍ि आप तक ज्‍यादा से ज्‍यादा जानकारी पहुंचाई जाये। कुछ लोगों को डर है क‍ि ये वैक्‍सीन उनको नुकसान पहुंचा सकती है। वहीं कुछ लोग इसके दाम जानना चाहते हैं। बीच में ये अटकलें भी चल रही थीं क‍ि वैक्‍सीन नये साल में नहीं म‍िल पायेगी। कुछ लोगों में इस बात का भी डर है क‍ि कहीं वैक्‍सीन लगने का असर उनके दि‍माग पर होगा। आपके मन में भी ऐसे ही कुछ सवाल घूम रहे हैं तो चल‍िये जानते हैं क‍ि आखि‍र कब तक हमें म‍िलेगी वैक्‍सीन और क्‍या है इससे जुड़ी वो 20 महत्‍वपूर्ण बातें जो आपको पता होनी चाह‍िये।  

1. भारत में वैक्‍सीन लगने की क्‍या तैयारी चल रही है?

इस समय उन लोगों का डेटा तैयार क‍िया जा रहा है ज‍िन्‍हें पहले चरण में वैक्‍सीन लगाई जानी है। इनमें स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी और बड़ी उम्र के गंभीर रोगी शाम‍िल हैं। उसके बाद आम आदमी को वैक्‍सीन दी जायेगी। पहला चरण जनवरी 2020 में शुरू होने की उम्‍मीद जताई जा रही है।

2. क्या ये आपकी मर्जी होगी कि आपको वैक्‍सीन लगवानी है या नहीं?  

फिलहाल इस बारे में स्थिति साफ नहीं है। जिन लोगों को कोरोना संक्रमित होने या इससे गंभीर स्थिति पैदा होने का ज्यादा खतरा है, उन्हें ये वैक्सीन अनिवार्य रूप से लगवानी होगी। हालांकि ये व्यक्ति की उम्र, सेहत और स्वास्थ्य के आधार पर तय किया जाएगा कि उसे वैक्सीन की जरूरत है या नहीं। ज्‍यादातर देशों में इसे लगाना अन‍िवार्य है। आपको बीमारी से बचना है तो वैक्‍सीन आपके ल‍िये मददगार साबि‍त होगी।

COVID Vaccine

3. वैक्‍सीन लगने में इतना समय क्‍यों लग रहा है?

क‍िसी भी नये तरह के वायरस या बीमारी के कारण और इलाज पता लगाने में समय लगता है। वैक्‍सीन को मानव शरीर में लगाने से पहले कई तरह के ट्रायल क‍िये गये ताक‍ि इससे शरीर को कोई नुकसान न पहुंचे। उम्‍मीद है की नये साल के शुरूआत में वैक्‍सीन लगने की प्रक्रि‍या शुरू हो जायेगी।  

इसे भी पढ़ें: आम लोगों तक कैसे पहुंचाई जाएगी कोरोना की वैक्सीन? ये है केंद्र सरकार की पूरी गाइडलाइन

4. क्‍या निकट भव‍िष्‍य में कोई बेहतर वैक्‍सीन बनने की उम्‍मीद है?  

द‍िसंबर 2020 तक की जानकारी पर गौर करें तो अब तक 250 वैक्‍सीन के ट्रायल चल रहे हैं। इसके अलावा शोधकर्ता  कई तरह के शोध से वायरस से जुड़े नये पहलू खोज रहे हैं। ऐसे में ये कहना गलत नहीं होगा क‍ि संभव है कि कुछ समय बाद मौजूदा वैक्‍सीन से भी बेहतर बन जाए। यह भी देने की बात है कि जरूरी नहीं है कि एक ही वैक्सीन सभी उम्र, लिंग के लोगों पर काम करे। इसलिए कोरोना को पूरी तरह हराने के लिए हमें कई तरह के वैक्सीन की जरूरत पड़ेगी।

5. वर‍िष्‍ठ नागरि‍क या बीमार हैं तो वैक्‍सीन जल्दी कैसे मिलेगी?  

सूत्रों के अनुसार इसके लिए CoWIN नाम का ऐप लॉन्च किया जाएगा, जि‍स पर जाकर आप अपने नजदीकी स्वास्थ्य वि‍भाग से वैक्‍सीन लगवाने के ल‍िये अपनी जानकारी दे सकते हैं। इसके अलावा वेबसाइट से भी जानकारी साझा की जा सकेगी।    

6. वैक्‍सीन कहां लगाई जायेगी?

इसके ल‍िये सरकार बूथ बनाने की तैयारी कर रही है। जैसे हम वोट देने अपने क्षेत्र में बने बूथ पर जाते हैं उसी तरह वैक्‍सीन बूथ बनाये जा सकते हैं।

7. वैक्‍सीन के लि‍ये क‍िन कागजों को द‍िखाना होगा?

आपके नाम और पते के ल‍िये पहचान पत्र की मांग की जा सकती है, इसके अलावा क‍िसी कागज की जरूरत नहीं होगी। वैक्‍सीन लगवाने के ल‍िये आपको अपनी मेडिकल ह‍िस्‍ट्री भी नहीं बतानी होगी। ये वैक्‍सीन सभी को दी जानी है इसलि‍ये इसके ल‍िये आपसे केवल आपकी उम्र पूछी जायेगी क्‍योंक‍ि ये वैक्‍सीन केवल 18 साल से अध‍िक उम्र वालों को ही दी जानी है।

इसे भी पढ़ें: जनवरी तक भारत को मिलेंगी 10 करोड़ वैक्सीन, अक्टूबर तक सामान्य होगी भारतीयों की जीवनशैली: CEO सीरम इंस्टीट्यूट

8. वैक्‍सीन के क‍ितने डोज द‍िये जायेंगे?

वैक्‍सीन के 2 डोज लगभग 25 द‍िन के अंतराल पर द‍िये जायेंगे।

9. वैक्‍सीन लगने के लिए हॉस्पिटल में भर्ती होना पड़ेगा और खाने में कुछ परहेज करना पड़ेगा?  

ऐसा कुछ भी नहीं है। वैक्सीन लगवाने के बाद आपको 30 मिनट तक बूथ पर ही रोका जाएगा, ताकि किसी तरह के रिएक्शन को परखा जा सके (हालांकि इसकी संभावना बहुत कम है)। इसके बाद आप वैक्‍सीन लगवाकर सामान्‍य जीवनशैली में ही रहेंगे। क‍िसी तरह का कोई परहेज नहीं बरतना होगा।

Corona Vaccine

10. कोरोना पीड़ि‍तों को भी लगेगी वैक्‍सीन?

हां। इन लोगों को सबसे आखि‍र में वैक्‍सीन लगाई जायेगी क्‍योंक‍ि जो अब तक कोरोना के प्रकोप से बचे हुए हैं उन्‍हें वैक्‍सीन की ज्‍यादा जरूरत है। जिन्‍हें कोरोना वायरस हो चुका है उनके शरीर में पहले से ही एंटीबॉडीज मौजूद हैं इसलिये उन्‍हें आख‍िरी सूची में शाम‍िल क‍िया जायेगा।

11. दूसरी डोज छूट जाये तो क्‍या पहली फ‍िर से लगवानी होगी?

नहीं। ऐसा होने पर दूसरी डोज जल्द से जल्‍द लगवानी होगी। पहली डोज दोबारा लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

12. क्‍या वैक्‍सीन से कोई एलर्जी या शरीर पर कोई समस्या हो सकती है?  

कई वैक्‍सीन को लगाने के कुछ समय बाद तक हल्‍की सूजन या बुखार की समस्या रहती है, जो कोविड वैक्‍सीन को लगाने से भी हो सकता है। पर ये लक्षण इस बात का सबूत माने जाते हैं क‍ि वैक्‍सीन ठीक तरह से लग गई है। इसके अलावा कोई बड़ी परेशानी होने की आशंका फिलहाल नहीं है।  

13. ये वैक्‍सीन कब तक हमें सुरक्षा देगी?

अभी इस पर कुछ कहा नहीं जा सकता। इस तरह का एक्‍सपेर‍िमेंट पहली बार होने जा रहा है। नतीजों के ल‍िये हमें इंतजार करना होगा।   

14. गर्भवती महि‍लाओं को भी लगेगा कोरोना वैक्‍सीन का टीका?

नहीं। अब तक गर्भवती महि‍लाओं पर वैक्‍सीन का ट्रायल नहीं क‍िया गया है। हालांक‍ि स्‍वास्‍थ्‍य व‍िशेषज्ञ मह‍िलाओं को वैक्‍सीन लगने के 2 माह तक प्रेग्‍नेंट न होने की सलाह दे रहे हैं।

15. क्‍या होगी वैक्‍सीन की कीमत?

भारत में लोगों को लगने जा रही कोव‍िशील्‍ड वैक्‍सीन की कीमत लगभग 600 से 700 के बीच हो सकती है।     

16. डायब‍िटीज से पीड़‍ित व्‍यक्‍त‍ि को भी लगेगा टीका?

हां। मधुमेह से पीड़‍ित लोगों को कई अन्‍य बीमारि‍यों का खतरा रहता है इसलि‍ये उन्‍हें भी अपनी रोग प्रति‍रोधक क्षमता बनाये रखनी है। ऐसे सभी मरीजों को टीका लगाया जायेगा।

इसे भी पढ़ें: भारत के एक्सपर्ट्स क्यों मान रहे हैं कि Pfizer की कोविड-19 वैक्सीन भारत में नहीं हो पाएगी सफल?

17.  क्‍या बच्‍चों को भी लगेगा कोरोना का टीका?

नहीं। फ‍िलहाल 18 साल से अध‍िक उम्र के लोगों के ल‍िये ही टीका बनाया गया है। अब तक बच्‍चों के ल‍िये कि‍सी भी तरह का ट्रायल शुरू नहीं क‍िया गया है तो उन्‍हें ये वैक्‍सीन नहीं दी जायेगी।

Coronavirus Vaccine

18.  वैक्‍सीन लगने के बाद भी मास्‍क और सामाज‍िक दूरी का ध्‍यान रखना होगा?

हां। अब तक देश में कोरोना पीड़‍ितों की संख्‍या लाखों के पार पहुंच चुकी है ऐसे में आपकी सुरक्षा के ल‍िये ये ऐहत‍ियात वैक्‍सीन लगने के बाद भी बरतनी होगी। आप ज‍ितनी सावधानी बरतेंगे हमें वायरस को हराने में उतना ही कम समय लगेगा।

19.  मुझे अंडे से एलर्जी है तो क्‍या मैं वैक्‍सीन लगवा सकता?

कोरोना वैक्‍सीन बनाने में अंडे के सेल का इस्‍तेमाल नहीं क‍िया गया है। अगर आपको अंडे से एलर्जी है तो भी आप वैक्‍सीन लगवा सकते हैं। अंडे के अलावा अगर आपको क‍िसी और आहार से भी एलर्जी है तो भी आप वैक्सीन लगवा सकते हैं।

20. मैंने सुना है क‍ि वैक्‍सीन में सूअर और बंदर की त्‍वचा का भाग म‍िलाया गया है पर मैं तो शाकाहारी हूं?  

ये केवल एक अफवाह है। इस वैक्‍सीन में ऐसी कोई चीज का इस्‍तेमाल नहीं क‍िया गया है। तथ्‍यों के ल‍िये सरकार की ओर से जारी की जा रही जानकारी पर ही विश्‍वास करें।

वैक्‍सीन के बारे में ज्‍यादा से ज्‍यादा जानकारी हास‍िल करें ताक‍ि आप फेक न्‍यूज और अफवाओं से बच सकें। हम सब के ल‍िये ये बेहद नाजुक समय है। इसमें हम सबको साथ मि‍लकर वायरस को हराना है।

Written by Yashaswi Mathur

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer