मून गेजिंग मेडिटेशन से दूर करें स्ट्रेस, जानें फायदे और तरीका

Mooon Gazing Meditation Benefits: स्ट्रेस और मानसिक तनाव को दूर करने के लिए बहुत फायदेमंद है मून गेजिंग मेडिटेशन, जानें तरीका।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Sep 07, 2022Updated at: Sep 07, 2022
मून गेजिंग मेडिटेशन से दूर करें स्ट्रेस, जानें फायदे और तरीका

Mooon Gazing Meditation in Hindi: आज के समय में भागदौड़ भरी जीवनशैली के कारण तनाव या स्ट्रेस लोगों के जीवन का हिस्सा हो गया है। दुनियाभर में स्ट्रेस की समस्या से जूझ रहे लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है। स्ट्रेस और मानसिक तनाव के पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। यह भी देखा गया है कि जागरूकता की कमी के कारण लोग मानसिक समस्याओं को गंभीरता से नही लेते हैं। स्ट्रेस और मानसिक तनाव के कारण आपके स्वास्थ्य पर गहरा असर पड़ता है। स्ट्रेस और मानसिक तनाव की समस्या से छुटकारा पाने के लिए नियमित रूप से योग मेडिटेशन का अभ्यास बहुत फायदेमंद माना जाता है। मून गेजिंग मेडिटेशन (Moon Gazing Meditation) का नियमित अभ्यास कर आप स्ट्रेस को दूर कर सकते हैं। मून गेजिंग का अभ्यास सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद माना जाता है। 

स्ट्रेस दूर करने के लिए मून गेजिंग के फायदे- Mooon Gazing Meditation to Relive Stress in Hindi

मानसिक तनाव और स्ट्रेस जैसी समस्या दूर करने के लिए नियमित रूप से मेडिटेशन करना बहुत फायदेमंद होता है। मेडिटेशन न सिर्फ आपको मानसिक रूप से स्वस्थ रखता है बल्कि इसका अभ्यास आपके सम्पूर्ण स्वास्थ्य को बेहतर करने में उपयोगी होता है। मून गेजिंग मेडिटेशन दरअसल चांद को फोकस कर किया जाता है। इसका अभ्यास करने के लिए आपको रात के समय में किसी शांत जगह पर बैठकर चांद को निहारना होता है। चंद्रमा की रोशनी में बैठकर ध्यान लगाने से आपको कई फायदे मिलते हैं। इसका नियमित रूप से अभ्यास करने से आपका मानसिक स्वास्थ्य बेहतर होता है।  

Mooon Gazing Meditation in Hindi

इसे भी पढ़ें: प्यार में इमोशनल एडिक्शन क्या होता है? इससे बाहर आने के लिए क्या करें

शरीर और मन को रिलैक्स करने और मानसिक स्वस्थ्य को बेहतर बनाने के लिए मून गेजिंग का अभ्यास बहुत फायदेमंद होता है। चिंता और तनाव जैसी समस्या से राहत पाने के लिए रात के समय में किसी शांत जगह पर बैठकर ध्यान की मुद्रा में चांद को निहारना बहुत फायदेमंद होता है। आयुर्वेदिक चिकित्सा में भी मून बाथ या मून गेजिंग मेडिटेशन का जिक्र है। मून गेजिंग मेडिटेशन के फायदों को लेकर अभी भी शोध जारी है। मून गेजिंग का अभ्यास करने से आपको ये फायदे मिलते हैं-

  • नींद से जुड़ी समस्याओं में फायदा मिलता है और नींद बेहतर होती है।
  • मेमोरी पॉवर बढ़ती है और ध्यान केंद्रित करने में फायदा मिलता है।
  • स्ट्रेस और तनाव से राहत मिलती है।
  • काम के तनाव से उबरने में फायदा मिलता है।
  • शरीर और स्किन को बेहतर बनाने में भी मून गेजिंग फायदेमंद होता है।

कैसे करें मून गेजिंग का अभ्यास?- How To Do Moon Gazing Meditation in Hindi

मून गेजिंग का अभ्यास आप किसी भी तरीके से कर सकते हैं। लेकिन क निश्चित तरीके से इसका अभ्यास करना ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। इस मेडिटेशन का अभ्यास करते समय आपको अपनी कंसंट्रेशन पर फोकस करना होता है। चंद्रमा की रोशनी इसमें बहुत उपयोगी होती है। मून गेजिंग का अभ्यास करने के लिए आप किसी शांत जगह पर ध्यान की मुद्रा में बैठें और चांद पर ध्यान केंद्रित करें। अगर आप बाहर नहीं जा सकते हैं, तो इसका अभ्यास करने के लिए ऐसे कमरे में बैठें जहां से खिड़की या दरवाजे से आप चांद को आसानी से देख सकें।

इसे भी पढ़ें: घबराहट (नर्वसनेस) को कम करने के लिए अपनाएं ये 5 टिप्स

मून गेजिंग का अभ्यास करते समय आपको अपनी सांसों पर भी फोकस करना चाहिए। इसका अभ्यास करते समय आपको बहुत ज्यादा तेज या धीमी सांस नहीं लेनी चाहिए। शुरुआत में मून गेजिंग का अभ्यास करने के लिए आप योग एक्सपर्ट की सहायता ले सकते हैं।

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer