मॉनसून में फ्रूट मिल्कशेक पीना हो सकता है नुकसानदायक, जानें 5 कारण

MilkShakes Side Effects: मॉनसून में फ्रूट्स का मिल्कशेक शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। आइए जानते हैं मॉनसून में क्यों नही पीना चाहिए मिल्कश।

Deepshikha Singh
Written by: Deepshikha SinghPublished at: Aug 07, 2022Updated at: Aug 07, 2022
मॉनसून में फ्रूट मिल्कशेक पीना हो सकता है नुकसानदायक, जानें 5 कारण

बहुत से लोग हर मौसम में मिल्कशेक पीना पसंद करते हैं। फलों की तुलना में लोग शेक पीना इसलिए पसंद करते हैं क्योंकि ये फलों की तुलना में पीने में आसान और स्वादिष्ट होते हैं। लेकिन क्या आप जानते  हैं कि मॉनसून में फलों का शेक सेहत के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है? आयुर्वेद के अनुसार फलों को दूध और दही के साथ मिलाकर खाना शरीर के लिए हानिकारक बताया गया है। मॉनसून में फलों का शेक पीना  कुछ मामलों में सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है।  आइए जानते हैं इसका कारण।

सर्दी खांसी की समस्या

फ्रूट शेक बनाने पर उसमें कई बार ठंडे दूध और बर्फ को मिलाया जाता है, जो मॉनसून के मौसम में सर्दी खांसी, गला खराब और बुखार का कारण बन सकता है। मॉनसून का के मौसम में कभी बारिश और कभी गर्मी लगी रहती है, जिस कारण इस मौसम में शेक पीना सेहत को बहुत नुकसान पहुंचा सकता है।

गैस की समस्या

कई बार फलों का शेक पीते ही पेट में गैस बन जाती है, क्योंकि कई फल ऐसे होते हैं, जिनको दूध या दही के साथ मिलाकर नहीं खाना चाहिए। जब फ्रूट्स का शेक बनाया जाता है, तो फल में मौजूद तत्व दूध के साथ मिलकर पेट में गैस बनने के कारण बनते हैं। 

डायरिया की समस्या

हर फल की एक तासीर होती है। जब उसे तासीर के विपरीत इस्तेमाल किया जाता है, तो वह पेट में नुकसान करता है। आमतौर पर हर फल में सिट्रिक एसिड मौजूद होता है, जो दूध के साथ मिलने पर शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। कई फलों में पानी की मात्रा अधिक होती है। ऐसे में उन्हें दूध के साथ मिलाने पर डायरिया की समस्या हो सकती है।

वजन बढ़ता है

फलों का सेवन शरीर को फिट रखने में मदद करता है। वहीं शेक शरीर का वजन तेजी से बढ़ाता है। शेक में दूध होने के कारण फैट की मात्रा अधिक होती है, इसलिए इसको पीने से वजन तेजी से बढ़ता है। शेक को स्वादिष्ट बनीने के लिए उसमें चीनी का ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है, जो वजन बढ़ाने का काम करती है।

इसे भी पढ़ें- तनाव कम करने के लिए फायदेमंद हैं ये 5 एसेंशियल ऑयल, जानें इस्तेमाल का तरीका

स्किन के लिए नुकसानदायक

मॉनसून में त्वचा संबंधी परेशानी काफी बढ़ जाती है। इस मौसम में पिंपल्स, डल स्किन और डार्क सर्कल्स की समस्या स्किन को काफी खराब कर देती है। इस मौसम में शेक पीने से शरीर ठीक से हाइड्रेट नहीं होता। जिस कारण त्वचा संबंधी परेशानियां बढ़ जातीहैं। फलों का सेवन शरीर को हाइड्रेट और त्वचा को चमकदार बनाने का काम करता हैं। 

फलों के शेक के अपेक्षा फलों को खाना स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है। फल किसी भी मौसम में खाए जा सकते हैं। फल खाने से पेट संबंधी परेशानियां, सर्दी खांसी की परेशानी और स्किन संबंधी परेशानी नही होती हैं। मौसम के अनुसार फलों का चयन करें। डायबिटीज मरीजों को किसी भी तरह के शेक के सेवन करने से बचना चाहिए।

All Image Credit- Freepik

Disclaimer