पुरूषों के मुकाबले युवा महिलाओं में बढ़ रहा है फेफड़ों के कैंसर का खतरा, शोधकर्ताओं ने किया खुलासा

 हाल में हुए एक नए अध्‍ययन से पता चला कि युवा महिलाओं में पुरूषों की तुलना फेफड़ों के कैंसर का खतरा बढ़ रहा है। 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtUpdated at: Feb 06, 2020 10:34 IST
पुरूषों के मुकाबले युवा महिलाओं में बढ़ रहा है फेफड़ों के कैंसर का खतरा, शोधकर्ताओं ने किया खुलासा

कैंसर के एक खतरनाक रूपों में से एक है फेफड़ों का कैंसर, जिसका ज्‍यादातर खतरा धूम्रपान करने वाले लोगों में होता है। लेकिन एक नए अध्‍ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि हाल के वर्षों में फेफड़ों के कैंसर की दर पुरूषों की तुलना युवा महिलाओं में अधिक है, जबकि पहले ये आंकड़ा ठीक इसके विपरीत था। क्‍योंकि पहले फेफड़ों का कैंसर पुरूषों में अधिक पाया जाता था, लेकिन इस अध्‍ययन में कहा गया था कि फेफड़ों के कैंसर की दर में लिंगों के बीच परिवर्तित हो रही थी।

क्‍या कहती है हालिया रिसर्च? 

इंटरनेशनल जर्नल ऑफ कैंसर में प्रकाशित अध्ययन में पांच महाद्वीपों के 40 देशों में युवा वयस्कों में फेफड़ों के कैंसर की दर की जांच की गई। जिसमें शोधकर्ताओं के अनुसार, कनाडा में कैलगरी विश्वविद्यालय के लोगों सहित, उभरती हुई प्रवृत्ति व्यापक है, जो विभिन्न भौगोलिक स्थानों और आय स्तरों के देशों में महिलाओं को प्रभावित करती है। शोधकर्ताओं का मानना है कि महिलाओं के बीच एडेनोकार्सिनोमा फेफड़ों के कैंसर की बढ़ती दर के कारण बदलाव दिखाई दिया। 

Lung Cancer Rates Rising in Young Women

इसे भी पढें: बच्‍चों में नींद की कमी बन रही है डिप्रेशन, चिंता और अन्‍य मानसिक समस्‍याओं का कारण: शोध

देखा जाए, तो आमतौर पर सभी देशो में पुरूषों में फेफड़ों के कैंसर की घटनाओं में कमी आई है, जबकि महिलाओं में ये दर उन देशों के पुरूषों की तुलना बढ़ती दिख रही है। वैज्ञानिकों ने अध्ययन में उल्लेख किया, " ये क्रोसोवर्स महिलाओं में एडेनोकार्सिनोमा की घटनाओं की दर में वृद्धि से प्रेरित किया गया थे। हालांकि ऐतिहासिक रूप से धूम्रपान डेटा वाले उन देशों के लिए, जिनमें महिलाओं में धूम्रपान का प्रचलन बढ़ा था, लेकिन शायद ही कभी पुरूषों से अधिक रहा हो।"

Lung Cancer

शोधकर्ताओं ने कहा, पहले के अध्ययनों में पुरुषों की तुलना में महिलाओं की तुलना में फेफड़ों के कैंसर की दर,अधिक होने का उल्लेख किया गया है क्योंकि पुरुषों ने बड़ी संख्या में धूम्रपान करना शुरू किया था। हालांकि, हाल के अध्ययनों में, उन्होंने कहा कि लिंगों के बीच फेफड़ों के कैंसर की घटनाओं में परिवर्तन की सूचना दी है। 

इसे भी पढें:  19 साल की लड़की के मसूड़ों में उगे बालों को डॉक्टरों ने सर्जरी से निकाला, 60 साल में छठा मामला

अध्‍ययन के निष्‍कर्ष 

इस अध्‍ययन के निष्कर्षों के लिए, '' शोधकर्ताओं ने 1993-2012 के 30-64 आयु वर्ग के बीच लोगों के फेफड़े और ब्रोन्कियल कैंसर के मामलों को पांच महाद्वीपों में कैंसर की घटनाओं से निकाला गया था। जिसमें पाया गया कि युवा पुरुषों की तुलना में युवा महिलाओं में फेफड़ों के कैंसर की उच्च उभरती हुई दर पाई गई और धूम्रपान के पैटर्न में लिंग के अंतर के बारे में पूरी तरह से नहीं बताया गया है।"

शोधकर्ताओं के अनुसार, युवा महिलाओं में फेफड़े के कैंसर की बढ़ती घटनाओं के कारणों की पहचान करने के लिए भविष्य के अध्ययन की आवश्यकता है।

Read More Article On Health News In Hindi  

Disclaimer