Expert

ये हैं सबसे कम कैलोरी वाले 5 अनाज, वजन घटाने के लिए डाइट में शामिल करें इन्हें

यदि आप वजन कम करने के लिए कम कैलोरी वाले अनाज को अपनी डाइट में जोड़ना चाहते हैं तो यहां दिए विकल्प आपके काम आ सकते हैं।

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Jan 21, 2022Updated at: Jan 21, 2022
ये हैं सबसे कम कैलोरी वाले 5 अनाज, वजन घटाने के लिए डाइट में शामिल करें इन्हें

ज्यादातर लोगों को लगता है कि यदि वह अपनी डाइट में अनाज को जोड़ेंगे तो इससे उनका वजन बढ़ सकता है। लेकिन बता दें कि यह सिर्फ एक मिथक है। असल सच्चाई यह है कि यदि व्यक्ति अपनी डाइट में कम कैलोरी वाले अनाज को जोड़ें तो इससे वह न केवल अपने वजन को कम कर सकता है बल्कि अपनी सेहत को भी तंदुरुस्त बना सकता है। अब सवाल यह है कि कम कैलोरी वाले अनाज कौन से हैं, तो आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपनी इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि ऐसे कौन से अनाज हैं, जिनके अंदर कम कैलोरी पाई जाती है। इसके लिए हमने न्यूट्रिशनिस्ट और वैलनेस एक्सपर्ट वरुण कत्याल ( Nutritionist and wellness expert varun katyal) से भी बात की है। पढ़ते हैं आगे...

 

1 - कुट्टू का इस्तेमाल

अक्सर आपने देखा होगा कि कुट्टू के आटे का इस्तेमाल ज्यादातर व्रत के दौरान किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कूट्टू के आटे के अंदर भरपूर मात्रा में प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम होता है लेकिन इसके अंदर कैलोरी बेहद कम मौजूद होती है। ऐसे में यदि अपने पेट को कम करना चाहते हैं तो आप अपनी डाइट में कूटू के आटे को जोड़ सकते हैं।

2 - रागी का इस्तेमाल

रागी भी आपके वजन को कम करने में उपयोगी है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसके अंदर भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम, फाइबर, जरूरी विटामिन, मिनरल्स आदि मौजूद होते हैं लेकिन इसके अंदर कम कैलोरी पाई जाती है। ऐसे में इसके सेवन से व्यक्ति न केवल अपना वजन कम कर सकता है बल्कि अपने शरीर में ऊर्जा को बरकरार रख सकता है और पाचन क्रिया को भी तंदुरुस्त बनाए रख सकता है।

इसे भी पढ़ें- वेट लॉस के लिए जरूरी है कैलोरी कंट्रोल करना, एक्सपर्ट से जानें रोजाना डाइट से 200-500 कैलोरी कैसे कम करें

3 - ओट्स का इस्तेमाल

ओट्स के इस्तेमाल से भी व्यक्ति अपने वजन को नियंत्रित कर सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि ओट्स के अंदर फाइबर मौजूद होता है जो न केवल पाचन क्रिया को तंदुरुस्त बनाए रख सकता है बल्कि इसके अंदर प्रोटीन, एंटीऑक्सीडेंट तत्व मौजूद होते हैं जो ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित रख सकते हैं। बता दें कि ओट्स के अंदर कैलोरी की मात्रा बेहद कम पाई जाती है ऐसे में व्यक्ति अपनी डाइट में ओट्स को जोड़ सकता है।

4 - जौं का इस्तेमाल

जब बात कम कैलरी वाले अनाज की आती है तो सबसे पहला नाम जौं का ही आता है। बता दें कि जौं के अंदर भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जो पाचन क्रिया को बेहतर बना सकता है। वहीं यह शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर और ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रख सकता है। इससे अलग जौं के अंदर कैलोरी की मात्रा बेहद कम होती है ऐसे में इसके सेवन से वजन को भी निर्धारित किया जा सकता है।

5 - ब्राउन राइस का इस्तेमाल

ब्राउन राइस के इस्तेमला से भी व्यक्ति अपने वजन को नियंत्रित रख सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि ब्राउन राइस के अंदर कैलोरी की मात्रा बेहद कम पाई जाती है। वहीं इसके अंदर फाइबर मौजूद होता है जो न केवल पाचन क्रिया को तंदुरुस्त रख सकता है बल्कि ब्राउन राइस के अंदर प्रोटीन, मैग्नीशियम और एंटीऑक्सीडेंट गुण भी पाए जाते हैं जो सेहत को कई समस्याओं से दूर रख सकते हैं।

 इसे भी पढ़ें- एक दिन में कितनी कैलोरीज बर्न करनी चाहिए? एक्सपर्ट से जानें कैलोरी घटाने के सुरक्षित तरीके

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि यदि व्यक्ति अपना वजन कम करना चाहता है तो ऐसे में कुछ अनाज उनके बेहद काम आ सकते हैं। लेकिन यदि व्यक्ति पहले से ही कोई स्पेशल डाइट फॉलो कर रहा है या किसी गंभीर समस्या से ग्रस्त हैं तो अपनी डाइट में बदलाव करने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह लेनी जरूरी है।

इस लेख में फोटोज़ Freepik से ली गई हैं।

Disclaimer