ऋतिक रोशन और टाइगर श्रॉफ बाइसेप्स बनाने के लिए करते हैं Preacher Curl Exercise, जानें क्या है ये

प्रिचर कर्ल वर्कआउट बाइसेप्स की आइसोलेशन एक्सरसाइज है, जिसमें सारी टेंशन बाइसेप्स के मांसपेशियों पर ही क्रिएट की जाती है।

 
Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jun 02, 2020
ऋतिक रोशन और टाइगर श्रॉफ बाइसेप्स बनाने के लिए करते हैं Preacher Curl Exercise, जानें क्या है ये

बाइसेप्स बनाना आज कल के यंगस्टर की पहली पसंद है। वो इसके लिए बाइसेप्स बनाने की एक्सरसाइज (Bicep Exercises) से लेकर कई प्रकार के हार्ड वर्कआउट करते हैं। पर प्रिचर कर्ल (Preacher Curl) बाइसेप्स बनाने में लोगों की पहली पसंद है। जॉन अब्राहम, रितिक रोशन और टाइगर श्रॉफ जैसे सेलेब भी बाइसेप्स बनाने के लिए प्रिचर कर्ल की मदद लेते हैं। ये आमतौर पर बॉडी बिल्डिंग और बड़े बाइसेप्स को बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। तो आइए विस्तार से जानते हैं प्रिचर कर्ल (Preacher Curl) है क्या और इसे कैसे किया जाता है (How To Do The Preacher Curl)।

inside PreacherCurlExercise

प्रिचर कर्ल एक्सरसाइज (Preacher Curl) क्या है

बड़े बाइसेप्स बनाने के लिए प्रिचर कर्ल किया जाता है। ये मांसपेशियों में एक टेंशन पैदा करता है और बाइसेप्स को पंक करके इसके एक अच्छा आकार देता है। आप जिन लोगों के बाइसेप्स को उठा हुआ और उभरा हुआ देखते हैं, दरअसल वो इसी एक्सरसाइज की मदद से किया जाता है। प्रिचर कर्ल मुख्य रूप से बाइसेप्स के ब्राची मसल्स (Biceps Brachii) और ब्राचियलिस मसल्स (Brachialis muscle) मांसपेशियों को टारगेट करता है, जो बाइसेप्स के निचले हिस्से में पाए जाते हैं।

इसे भी पढ़ें : इन 4 कारणों से वेट लिफ्टिंग के दौरान जरूरी है रिस्टबैंड (Wristband) पहनना, जानें किन बातों का रखें ख्‍याल

प्रिचर कर्ल के प्रकार (Types Of Preacher Curl)

  • -बाइसेप्स कर्ल (Biceps Curl)
  • -डम्बल कर्ल (Dumbbell Curl)
  • -केटलबेल कर्ल (Kettlebell Curl) 
  • -केबल मशीन कर्ल (Cable Machine Curl)
  • -हैमर कर्ल (Hammer Curl)

प्रीचर कर्ल में बाइसेप कर्ल से करें शुरुआत

बाइसेप कर्ल और प्रीचर कर्ल व्यक्तिपरक प्रशिक्षण शैली पर आधारित है। बाइसेप कर्ल प्रीचर कर्ल से थोड़ा कम कठिन हो सकता है। दरअसल बाइसेप हेड आपके कंधे / स्कैपुला क्षेत्र के आसपास विभिन्न स्थानों पर शुरू होते हैं। जब आप बाइसेप करते हैं, तो ये आपके कोहनी की फेलेक्सिबिलिटी बढ़ाता है। पर अगर आप बाइसेप कर्ल और प्रीचर कर्ल दोनों को साथ में करें, तो ये दोनों ही मांसपेशियों पर काम करेंगे। यह सब इस बात पर निर्भर करता है कि कोई व्यक्ति कितने समय से प्रशिक्षण ले रहा है। एक व्यक्ति जिसने अभी शुरुआत की है, वो बाइसप कर्ल पहले करता है, जबकि एक अनुभवी लिफ्टर प्रीचर कर्ल करता है। 

insideBicepcurl

प्रिचर कर्ल कैसे करें (Learn How the Preacher Curl)

  • -इसे करने के लिए एक बैंच को ऐसे सेट करें कि आपके आर्मपिट बैंच के ऊपरी सिरे से सटे हुए हों।
  • -कंधे की लंबाई में ई-जेड कर्ल बार को पकड़ते हुए अपने ऊपरी बांहों और छाती को ऊपरी बेंच पैड के खिलाफ रखें।
  • -जब आप सांस छोड़ते हैं, तब तक वजन को कम करने के लिए बाइसेप्स का उपयोग करें जब तक कि आपके बाइसेप्स पूरी तरह से सिकुड़ न जाएं और बार कंधे की ऊंचाई पर न हो।
  • - बाइसेप्स को मुश्किल से निचोड़ें और एक सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें।
  • -जब आप सांस लेते हैं, तो धीरे-धीरे बार को नीचे करें, जब तक कि आपकी ऊपरी बांह की मांसपेशियां फूल न जाए और बाइसेप्स पूरी तरह से फैला हुआ न हो।
  • -इसी तरह एक्सरसाइज को बार-बार दोहराएं।

इसे भी पढ़ें : लोअर बॉडी को मजबूत करने के लिए करें स्लैम बॉल एक्सरसाइज, जानें इसे करने के तरीके

प्रिचर कर्ल के फायदे ( Preacher Curl Benefits)

  • -इस एक्सरसाइज करने से बाइसेप्स टोन होते हैं और उन्हें शेप मिलता है।
  • -प्रिचर कर्ल मूवमेंट सीखने में सबसे आसान है और आपके मांसपेशियों के लिए एक अच्छा एक्सरसाइज है।
  • -प्रिचर कर्ल की मदद से आर बाजू के फैट को भी आसानी से बर्न कर सकते हैं, इस तरह ये वजन घटाने में भी मददगार है।
  • -आप इसे केबल, बारबेल और डंबल्स के साथ भी कर सकते हैं, इस तरह यह एक काफी वर्सटाइल एक्सरसाइज है।

Read more articles on Fitness-Exercises in Hindi

Disclaimer