इन दिनों हर समय थकान और चिंता में डूबे रहना कहीं 'क्वाटंराइन फटीग' तो नहीं, जानें लक्षण और रोकने के आसान तरीके

चिंता, चिड़चिड़ापन और दिनभर थकान जैसी समस्याएं इन दिनों काफी बढ़ गई हैं और इनका कारण  है 'क्वारंटाइन फटीग'। जानें इन समस्याओं से कैसे निपट सकते हैं आप

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Aug 28, 2020Updated at: Aug 28, 2020
इन दिनों हर समय थकान और चिंता में डूबे रहना कहीं 'क्वाटंराइन फटीग' तो नहीं, जानें लक्षण और रोकने के आसान तरीके

क्या आप भी इन दिनों हर समय थकान महसूस करते हैं और चिंता में डूबे रहते हैं? अगर हां, तो ऐसा महसूस करने वाले आप अकेले नहीं हैं। कमोबेश ये स्थिति दुनियाभर में इन दिनों बहुत सारे लोगों के साथ बनी हुई है और इस समस्या का कारण कोरोना वायरस है। कोरोना वायरस महामारी ने पूरी दुनिया में एक अजीब स्थिति पैदा कर दी है, जिसके कारण लोग बड़ी संख्या में मानसिक तनाव, चिंता और डिप्रेशन का शिकार हो रहे हैं। पूरी दुनिया में भविष्य और जीवन को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है, आर्थिक मंदी की स्थिति पहले ही आ गई है, मंहगाई बढ़ रही है और लोगों की नौकरियां जा रही हैं, काम बंद हैं। ऐसे में जिस प्रकार की चिंता और चिंता से पैदा होने वाली थकान ने लोगों को परेशान किया हुआ है, उसे हेल्थ एक्सपर्ट्स ने 'क्वारंटाइन फटीग' का नाम दिया है।

quarantine fatigue

क्या हैं क्वारंटाइन फटीग के लक्षण?

  • दिनभर हल्की-फुल्की या बहुत ज्यादा थकान रहना
  • स्वभाव में चिड़चिड़ापन
  • रात में अच्छी नींद न आना या बहुत ज्यादा सोना
  • चिंता
  • मोटिवेशन की कमी
  • भावनात्मक रूप से अस्थिरता
  • अकेलापन महसूस होना
  • निराशा
negativity and fatigue

क्वारंटाइन फटीग से कैसे बच सकते हैं आप?

कोरोना वायरस महामारी कब तक रहेगी और कब तक जीवन पहले जैसा स्थिर होगा, इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है। लेकिन अगले कुछ महीनों में वैक्सीन आ जाने के बाद धीरे-धीरे स्थिरता आ सकती है। इसलिए आपको अपने घरों में अगले कुछ समय तक और रहना पड़ सकता है। इसलिए ऊपर बताई गई समस्याओं से बचने का सबसे पहला तरीका यह है कि आप मानसिक रूप से अपने आप को तैयार कर लें और स्वीकार कर लें कि ये समय बीत जाएगा और फिर से सबकुछ सही हो जाएगा। इसके अलावा कुछ उपाय अपनाकर भी आपकी परेशानी कम हो सकती है।

इन तरीकों से आप निपट सकते हैं क्वारंटाइन फटीग से

  • हर समय फोन या सोशल मीडिया पर लगे रहना ठीक नहीं, इसलिए थोड़ा समय फोन और सोशल मीडिया से ब्रेक लें।
  • अच्छा और हेल्दी खाना खाएं, जिससे आपके शरीर को सभी पोषक तत्व मिलें।
  • अपने जागने, सोने, खाने और दूसरे कामों का एक तय रूटीन बनाएं, जिससे कि आपको परेशानी न हो।
  • बचे हुए समय को घर के कामों में लगाएं, जैसे- घर को सजाने के लिए छोटी-मोटी चीजें बनाएं, घर की साफ-सफाई करें, पौधे उगाएं।
  • अपनी एनर्जी को सही दिशा में खर्च करने का तरीका ढूंढें, जैसे आप इस समय कोई नई चीज, नया आर्ट सीख सकते हैं, इंटरनेट पर नए कोर्स सीख सकते हैं।
  • हर दिन थोड़ा एक्सरसाइज, योगासन और मेडिटेशन जरूर करें।
  • अच्छी और इंस्पिरेशनल किताबें पढ़ें।
  • तनाव और चिंता के लक्षणों पर नजर रखें ताकि इन्हें मैनेज करना आसान हो।
  • इस बात की प्लानिंग करें कि सबकुछ सही होने के बाद आपको क्या पाना है, उसे पाने के लिए कैसे मेहनत करनी है और अन्य फ्यूचर प्लान्स के बारे में सोचें।

कुल मिलाकर अगर आप अपने आपको बिजी रखेंगे, तो आपको निराशा और निगेटिव विचार नहीं आएंगे। इसलिए कोशिश करें कि आप खुद को व्यस्त रखें।

इसे भी पढ़ें: मन को शांत और तनाव मुक्त करने के ये प्राकृतिक तरीके हैं बेहद कारगर, आसान हो जाएगा जीवन

इन बातों का भी रखें ध्यान

  • कोरोना वायरस से बचने के लिए सभी जरूरी निर्देशों का पालन करें।
  • खानपान अच्छा रखें और इम्यूनिटी बढ़ाने वाले उपायों को अपनाएं, ताकि आप बीमार न पड़ें।
  • अपने घर के सदस्यों और बच्चों से संपर्क में रहें और उनसे बातचीत करते रहें, ताकि आप अकेलापन न महसूस करें।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer