Expert

प्रेगनेंसी में बेर खाना चाहिए या नहीं? एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे और नुकसान

Jujube In Pregnancy: अक्सर गर्भवती महिलाओं के मन में यह सवाल रहता है कि उन्हें बेर खाने चाहिए या नहीं। जानें प्रेगनेंसी बेर खाने के फायदे और नुकसान।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Apr 28, 2022Updated at: Apr 28, 2022
प्रेगनेंसी में बेर खाना चाहिए या नहीं? एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे और नुकसान

प्रेगनेंसी किसी भी महिला के जीवन का सबसे खास समय होता है। लेकिन महिलाओं के लिए प्रेगनेंसी काफी तकलीफ और दर्द से गुजरना पड़ता है। साथ ही कई शरीर में कई गंभीर बीमारियों का जोखिम भी बढ़ जाता है। ऐसे में गर्भवती महिलाओं को अपना खास ध्यान रखने की जरूरत होती हैं। प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को जिस चीज का सबसे खास ध्यान रखने की सलाह दी जाती है वह है उनका खानपान, क्योंकि प्रेगनेंसी में महिला के साथ ही गर्भ में पल रहे बच्चे को भी पर्याप्त पोषण की बहुत जरूरत होती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ प्रेगनेंसी के दौरान मौसमी फल और सब्जियों को खाने का अधिक सुझाव देते हैं।

गर्मियां शुरू होते है ही प्रेगनेंट महिलाओं को एक सवाल जो सबसे ज्यादा परेशान करता है वह यह कि क्या प्रेगनेंसी में बेर खाना चाहिए या नहीं। बेर एक बेहतरीन फल है जो पोषक तत्वों से भरपूर होता है, साथ ही सेहत को भी कई तरह से फायदेमंद होता है। ये फल गर्मियों के सीजन में ही देखने को मिलता है। लेकिन सवाल यह है कि गर्भवती महिलाएं बेर खा सकती हैं या नहीं? क्या  बेर खाना गर्भवती महिलाओं के लिए नुकसानदायक हो सकता है? यह जानने के लिए हमने क्लीनिकल न्यूट्रिशनिष्ट और डायटीशियन गरिमा गोयल (एमएस. आरडी, सीडीई) से बात की। इस लेख में प्रेगनेंसी में बेर खाने के फायदे और नुकसान (Jujube In Pregnancy Benefits And Side Effects In Hindi) के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

Image Source: Freepik

प्रेगनेंसी में बेर खाना चाहिए या नहीं (Should You Eat Jujube In Pregnancy In Hindi)

डायटीशियन गरिमा के अनुसार प्रेगनेंसी में बेर का सेवन किया जा सकता है, यहां तक कि गर्भवती महिला अगर बेर खाती है तो इससे उसे कई लाभ मिल सकते हैं। लेकिन एक चीज जिसका आपको खास ध्यान रखने की जरूरत वह यह कि आपको बेर से एलर्जी तो नहीं? गर्भवती महिला को बेर का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लेलेनी चाहिए, क्योंकि अगर किसी महिला को बेर से एलर्जी है तो इससे उसे गर्भावस्था के दौरान कई जटिलताओं का सामना करना पड़ सकता है। तो एलर्जी होने पर बेर के सेवन से बचें।

इसे भी पढें: कलौंजी का पानी पीना है सेहत के लिए बहुत फायदेमंद, एक्सपर्ट से जानें इसके 5 फायदे

दूसरा आपको सीमित मात्रा में ही बेर का सेवन करना चाहिए, इसका ध्यान रखें कि आप बहुत अधिक मात्रा में बेर नहीं खा रहे हैं। यहां तक कि आपको कितनी मात्रा में बेर का सेवन करना चाहिए इसके लिए भी अपने डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए।

Image Source: Freepik

प्रेगनेंसी में बेर खाने के फायदे और नुकसान (Jujube In Pregnancy Benefits And Side Effects In Hindi)

प्रेगनेंसी में बेर खाने के फायदे (Jujube Beneifts In Pregnancy In Hindi)

डायटीशियन गरिमा के अनुसार प्रेगनेंसी में बेर खाने से गर्भवती महिला को कई फायदे मिल सकते हैं जैसे:

  • मतली या जी मिचलाने की समस्या से राहत प्रदान करने में बेर खाना बेहद लाभकारी है। इसके साथ ही अगर गर्भवती महिला को उल्टी हो रही है तो बेर खाने से उल्टी रोकने में मदद मिल सकती है।
  • इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में मदद मिलती है, क्योंकि बेर में पॉलीसैकराइड नामक तत्व मौजूद होता हैै। जो शरीर की सर्दी-जुकाम, बुखार और अन्य वायरल संक्रमणों से लड़ने की क्षमता को बेहतर बना सकता है।
  • मां के दूध को शुद्ध करने में मदद करता है। ऐसा माना जाता है कि प्रेगनेंसी के दौरान मां के दूध में हानिकारक तत्व बनते हैं, लेकिन बेर का सेवन करने से इन हानिकारक तत्वों को खत्म करने और दूध को हानिरहित बनाने में मदद मिलती है।
  • प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले पेट में दर्द को कम करने में मदद कर सकता है।  प्रेगनेंसी के दौरान महिला के शरीर में कई बदलाव होते हैं जिससे पेट दर्द की समस्या होती है। बेर खाने से दर्द में आराम मिल सकता है।
Image Source: Freepik

प्रेगनेंसी में बेर खाने के नुकसान (Jujube In Pregnancy Side Effects In Hindi)

  • ज्यादा बेर का सेवन करने से रात को सोते समय बेचैनी और घबराहट की समस्या हो सकती है और बहुत अधिक पसीना भी आ सकता है।
  • कुछ दवाओं पर बुरा असर डाल सकता है, जिससे जटिलताएं बढ़ सकती हैं।
  • बेर में प्राकृतिक चीनी होती है, अगर ज्यादा मात्रा में इसका सेवन किया जाता है तो इससे ब्लड शुगर में वृद्धि हो सकती है। डायबिटीज वाली महिलाओं को इससे बचना चाहिए।

अगर कोई महिला प्रेगनेंट है और बेर खाना चाहती है तो उसे पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए, नहीं तो इससे मां के साथ ही बच्चे के स्वास्थ्य को भी नुकसान पहुंच सकता है।

Main Image Source: Freepik And Shutterstock

(With Inputs Dietitian Garima Goyal, MS, RD, CDE, Founder- Dt. Garima Diet Clinic , Ludhiana, Punjab)

Disclaimer