क्‍या कोरोना वायरस का इलाज संभव है?

चीन से शुरू हुआ जानलेवा कोरोना वायरस का डर धीरे-धीरे दुनियाभर में फैल रहा है। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन लगातार इस संबंध में लोगों को जागरूक कर रहा है।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Jan 28, 2020Updated at: Feb 05, 2020
क्‍या कोरोना वायरस का इलाज संभव है?

What is Novel Corona Virus: विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) के अनुसार, कोरोना वायरस (Corona Virus), विषाणुओं का एक बड़ा परिवार है जो सामान्‍य सर्दियों से लेकर गंभीर बीमारियों जैसे मिडिल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (Middle East Respiratory Syndrome) और सीवियर एक्‍यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (Severe Acute Respiratory Syndrome) जैसी बीमारियों का कारण बनता है। 

क्‍या है ये नोवेल कोरोना वायरस?  

नोवेल कोरोना वायरस (Novel coronavirus) का तात्‍पर्य एक नए कोरोना वायरस से है। यह 2019 के कोरोना वायरस की तरह ही है, जिसे पहले कभी इंसानों में नहीं देखा गया है। मगर अब यह इंसानों में भी देखा जा रहा है।

इनके लक्षणों की बात करें तो यह वायरस पर निर्भर करता है। मगर इसके कुछ सामान्‍य संकेत हैं: 

  • श्‍वसन संबंधी लक्षण
  • बुखार
  • खांसी
  • सांस में कमी और सांस लेने में तकलीफ

कोरोना वायरस के गंभीर मामलों में, यह निमोनिया, सीवियर एक्‍यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम, आदि का कारण बन सकता है।

क्‍या इस नए कोरोना वायरस से बचाव और इलाज में एंटीबायोटिक्‍स कारगर है?

नहीं, एंटीबायोटिक्‍स कोरोना वायरस के खिलाफ काम नहीं करते हैं, ये केवल बैक्‍टीरिया के लिए काम करते हैं। नोवेल कोरोना वायरस, एक वायरस है। इसलिए एंटीबायोटिक्‍स का उपयोग इलाज या रोकथाम के लिए नहीं किया जाना चाहिए।

क्‍या कोरोना वायरस के संक्रमण का इलाज है?

इस नए कोरोना वायरस का कोई विशेष इलाज नहीं है। हालांकि, कई लक्षणों का इलाज कर सकते हैं और इसीलिए इसका इलाज मरीज की स्थिति के आधार पर किया जाता है।

क्‍या पालतू जानवरों से फैल सकता है कोरोनो वायरस?

वर्तमान में, ऐसा कोई प्रमाण नहीं है जो पालतू पशुओं जैसे- कुत्‍ते, बिल्‍ली आदि वायरस से संक्रमित हो सकते हैं। हालांकि, यह एक अच्‍छा आइडिया है कि आप अपने हाथों को साबुन और पानी से जरूर धोएं, खासकर जब आप अपने पालतू जानवरों को छूते हैं। 

क्‍या कोरोना वायरस बुजुर्गों को प्रभावित कर सकता है? 

कोरोना वायरस, किसी भी उम्र के व्‍यक्ति को संक्रमित कर सकता है। बुजुर्ग लोग और वे पहले से मौजूद चिकित्सा स्थितियों वाले लोग वायरस से गंभीर रूप से बीमार हो सकते हैं। 

कोरोना वायरस से खुद का बचाव कैसे करें?

कोरोना वायरस से खुद को बचाने के लिए विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने गाइडलाइन जारी की है: 

  • हाथों को साबुन और पानी से धोएं या अल्‍कोहल बेस्‍ड हैंड रब का इस्‍तेमाल करें। 
  • खांसते और झींकते समय नाक और मुंह रूमाल या टिश्‍यू पेपर से ढककर रखें, या हाथों को इस्‍तेमाल करें।
  • जिन व्‍यक्तियों में कोल्‍ड और फ्लू के लक्षण हों उनसे दूरी बनाकर रखें। 
  • अंडे और मांस का सेवन बिल्‍कुल न करें।
  • जंगली जानवरों के साथ असुरक्षित संपर्क से बचें

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

Disclaimer