प्रेगनेंसी में हरा सेब (ग्रीन एप्पल) खाने से क्या फायदे मिलते हैं?

प्रेगनेंसी में पोषक तत्वों की जरूरत बढ़ जाती है। हरे सेब में ढेर सारे पोषक तत्व होते हैं, जो प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली समस्याओं से बचा सकते हैं।

Monika Agarwal
महिला स्‍वास्थ्‍यWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jun 26, 2022Updated at: Jun 26, 2022
प्रेगनेंसी में हरा सेब (ग्रीन एप्पल) खाने से क्या फायदे मिलते हैं?

हरे सेब यानी ग्रीन एप्पल स्वाद में थोड़ा खट्टे और चटपटे होते हैं, लेकिन सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। इन्हें अच्छी स्किन, अच्छे स्वास्थ्य और अच्छे बालों के लिए खाया जा सकता है। आमतौर पर इसका प्रयोग कुकिंग करते समय ही किया जाता है लेकिन इसे ऐसे ही खा लेना भी पाचन के लिए काफी अच्छा होता है और इसका स्वाद भी बढ़िया लगता है। गर्भवती महिलाओं को भी इसका सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि इसे खाने से प्रेग्नेंसी के दौरान भी बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ देखने को मिल सकते हैं। हालांकि इसका सेवन करते समय मात्रा का खास ख्याल रखना चाहिए नहीं तो इसके लाभ मिलने की बजाए साइड इफेक्ट्स देखने को मिल सकते हैं। आइए जानते हैं प्रेग्नेंसी के दौरान हरा सेब खाने से कौन कौन से लाभ प्राप्त हो सकते हैं।

भूख कंट्रोल करता है ग्रीन एप्पल

प्रेग्नेंसी के दौरान भूख काफी अजीब ही हो जाती है। कभी कभी बिलकुल भूख नहीं लगती है तो कभी कभार काफी ज्यादा भूख लगती है। अगर इस समस्या को सुलझाना है तो हरे सेब का सेवन किया जा सकता है। इससे भूख लगने में काफी सुधार देखा जा सकता है।

पाचन के लिए अच्छा  

प्रेग्नेंसी के दौरान पाचन से जुड़ी बहुत सी परेशानियां देखने को मिल सकती हैं जैसे कब्ज होना, आईबीएस होना या अपच होना। लेकिन हरा सेब खाने से पाचन दुरुस्त रहता है और इन सब लक्षणों को दूर करने में भी सहायता मिलती है। इस सेब में फाइबर की अच्छी मात्रा उपलब्ध होती है जो पाचन तंत्र को अच्छे से काम करने में मदद करती है।

pregnancy-diet-tips-in-hindi

इसे भी पढ़े: Pregnancy First Month Diet: प्रेगनेंसी के पहले महीने क्या खाना चाहिए और क्या नहीं?

हाई ब्लड प्रेशर से बच सकती हैं

प्रेग्नेंसी के दौरान ब्लड प्रेशर बढ़ना मां और बच्चे दोनों के लिए ही खतरनाक होता है। इस दौरान विटामिन सी की कमी के कारण प्रीक्लेम्पसिया रोग यानी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या भी देखने को मिल सकती है। यह ऐसी समस्या है जिसका खतरा इन दिनों बहुत सारी प्रेगनेंट महिलाओं में देखने को मिलता है। इसलिए प्रेग्नेंसी के दौरान ज्यादा से ज्यादा विटामिन सी से भरपूर खट्टी चीजों का सेवन करना चाहिए। हरा सेब भी विटामिन सी का एक अच्छा स्रोत है।

डीएनए डैमेज से बचाव 

प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में काफी सारे बदलाव देखने को मिलते हैं। इसके कारण डीएनए भी डैमेज हो सकता है जिसके कारण बाद में कैंसर देखने को मिल सकता है। हरे सेब में बहुत सारे एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं जो शरीर में डीएनए को डैमेज होने से बचाते हैं।

स्किन के लिए अच्छा होता है हरा सेब

प्रेग्नेंसी के दौरान स्किन भी काफी प्रभावित होती है। इससे आत्म विश्वास भी कम हो सकता है। इसलिए अच्छी स्किन के लिए विटामिन सी युक्त फलों का सेवन करना चाहिए। हरा सेब भी ऐसे ही फलों में से एक है। इसमें विटामिन ए, बी और सी होते हैं जो स्किन को बढ़िया करने में मदद करते हैं।

पौष्टिक तत्वों का अच्छा स्रोत 

हरे सेब में विटामिन ए, सी और बी6 होते हैं। इसमें कैल्शियम, आयरन, पोटेशियम और मैग्नीशियम जैसे मिनरल भी पाए जाते हैं। इसका सेवन करने से काफी सारे पौष्टिक तत्वों को पूर्ति हो जाती है। इसके अंदर प्रोटीन की भी मात्रा पाई जाती है। इसलिए इसका सेवन सेहतमंद होता है।

इसे भी पढ़े: प्रेग्नेंसी में ज्यादा पसीना आए तो इन 5 घरेलू उपायों से दूर करें ये समस्या

लीवर को हेल्दी रखने में सहायक

ज्यादा मात्रा में होने वाला बाइल सेक्रीशन प्रेग्नेंसी के दौरान कई सारी मुसीबतों का कारण बन सकता है। इसमें बच्चे का समय से पहले जन्म लेना भी शामिल है। हरा सेब लीवर की सेहत के लिए भी काफी सहायक माना जाता है और इन सब लक्षणों से भी हरा सेब खाने से बचा जा सकता है। 

हरा सेब खाना स्वास्थ्य के लिए अच्छा है लेकिन इसकी मात्रा का ध्यान रखें और रोजाना एक सेब से ज्यादा न खाएं। अगर आपको किसी खास तरह की एलर्जी है, तो इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें।

Disclaimer