क्या कोरोना मरीजों के लिए कारगर है डेक्सामेथासोन? डॉक्टर से जानें किसके लिए है यह फायदेमंद

कोविड के गंभीर मरीजों के लिए डेक्सामेथासोन दवाई को काफी कारगर बताया जा रहा है। चलिए जानते हैं किन मरीजों को इसे लेना फायदा पहुंचा सकता है।  

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: May 06, 2021Updated at: May 06, 2021
क्या कोरोना मरीजों के लिए कारगर है डेक्सामेथासोन? डॉक्टर से जानें किसके लिए है यह फायदेमंद

कोरोना काल में आपने कई ऐसी दवाईयों का नाम सुना होगा, जिनके बारे में शायद ही आपने पहले कभी सुना हो। इन्हीं में से एक है डेक्सामेथासोन (Dexamethasone)। इस दवाई को कोरोना से पीड़ित लोगों के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है। इस समय जब दुनियाभर में कोरोना की कोई दवा मौजूद नहीं है, तो कोरोना से पीड़ित गंभीर लोगों को डेक्सामेथासोन देना कारगर साबित हो रहा है। यह ऐसी दवा है, जिसे कोरोना मरीजों के उपयोग में लाने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) ने भी मंजूरी दे रखी है। डेक्सामेथासोन के बारे में विस्तार से जानकारी लेने के लिए हमने सीएचसी छपरौली के डिप्टी सीएमओ और एमएस डॉक्टर अरविंद मलिक से बातचीत की और डेक्सामेथासोन (Dexamethasone) दवाई के बारे में जाना। कोरोना वायरस के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए भारत सरकार ने कम लागत वाली स्टेरॉइड दवा डेक्सामेथासोन को उपयोग में लाने की अनुमति दे रखी है। यहां तक ही ब्रिटेन के शोधकर्ताओं ने भी डेक्सामेथासोन को कोविड-19 के मरीजों को बचाने के लिए कारगर बताया है। इसके इस्तेमाल से गंभीर रूप से बीमार कोरोना मरीजों की मृत्यु दर को एक तिहाई तक घटाई जा सकी है। 

 dexamethasone

क्या है डेक्सामेथासोन ( What is Dexamethasone)

दरअसल, डेक्सामेथासोन कोई नई दवा नहीं है। बल्कि इसका इस्तेमाल 1960 के दशक से किया जा रहा है। डेक्सामेथासोन को गठिया और सांस संबंधी बीमारियों को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है। यह अस्थमा के इलाज में इस्तेमाल होनी वाली दवा है। डेक्सामेथासोन एक कार्टिकोस्टेरॉइड है, जिसका इस्तेमाल सांस की समस्या, एलर्जिक रिएक्शन, सूजन और अर्थराइटिस के इलाज के लिए किया जाता रहा है। कोरोना काल में कोरोना से पीड़ित जिन लोगों को वेंटिलेटर की जरूरत पड़ रही है, उनके लिए यह दवा प्रभावी साबित हो रही है। क्योंकि यह एक तिहाई जोखिम को कम कर देता है। इतना ही नहीं इसका इस्तेमाल इम्यूनोसप्रेसेंट प्रभावों के लिए भी किया जाता है। एक यह एक बहुत ही सस्ती दवा है। इसका परीक्षण यूनाइटेड किंगडम के राष्ट्रीय नैदानिक में किया गया था, इसमें गंभीर रूप से बीमार रोगियों को इससे लाभ मिला था। 

इसे भी पढ़ें - क्या होती है कोविड-19 के आरटी-पीसीआर रिपोर्ट में मौजूद सीटी वैल्यू? डॉक्टर से जानें इसके बारे में

कोरोना के हल्के लक्षण वाले मरीजों के लिए नहीं है कारगर (Not Effective For Patients With Mild Corona Symptoms)

डेक्सामेथासोन सिर्फ कोरोना के गंभीर मरीजों के लिए ही फायदेमंद हो सकता है। कोरोना के सामान्य या हल्के लक्षण होने पर इस दवा को लेने से कोई फायदा नहीं मिलता है। हल्के लक्षणों वाले मरीजों को यह दवा नहीं दी जाती है। जो लोग गंभीर है, जिनका ऑक्सीजन लेवल कम होता जा रहा है, उनके लिए यह प्रभावी साबित हो रहा है। लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप अपने मन से ही इस दवा का सेवन करना शुरू कर दें। आपको डॉक्टर की सलाह पर ही इसे लेना चाहिए।

dexa

गंभीर मरीजों के लिए है कारगर (It is Effective For Serious Patients)

डॉक्टर अरविंद मलिक बताते हैं कि डेक्सामेथासोन कोरोना के गंभीर रोगियों के लिए ही कारगर है। वेंटिलेटर पर रहने वाले मरीजों के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। वेंटिलेटर पर रह रहे मरीजों पर इसके इस्तेमाल से मृत्यु दर को लगभग एक तिहाई कम किया जा सकता है। ऑक्सीजन पर रहने वाले मरीजों के लिए भी यह कारगर हो सकता है।

कितनी ले सकते हैं खुराक (How Much Dose Can be Taken)

डेक्सामेथासोन को एक दिन में एक बार दस दिनों के लिए 6 मिलीग्राम की खुराक दी जा सकती है। गर्भावस्था या स्तनपान करने वाली महिला रोगियों को प्रेडनिसोलोन 40 मिलीग्राम दिया जा सकता है। लेकिन आपको इसका सेवन अपने आप करने से बचना चाहिए। हमेशा डॉक्टर की सलाह पर ही इसका सेवन करना चाहिए। 

dexamethasone1 

डेक्सामेथासोन के साइड इफेक्ट्स (Dexamethasone Side Effects) 

डेक्सामेथासोन के सेवन से सिर्फ फायदे ही नहीं बल्कि अगर इसे गलत तरीके से लिया जाए, तो इसके नुकसान भी हो सकते हैं। वैसे तो डेक्सामेथासोन एक सुरक्षित दवा है। यह निमोनिया के गंभीर मरीजों के लिए लाभकारी हो सकता है। लेकिन इसके सेवन से उच्च रक्त शर्करा का स्तर अस्थायी हो सकता है। लंबे समय तक इसके उपयोग से (दो सप्ताह से अधिक समय तक)  ग्लूकोमा, मोतियाबिंद, द्रव प्रतिधारण, उच्च रक्तचाप, मनोवैज्ञानिक प्रभाव जैसी प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। लंबे समय तक इसके इस्तेमाल से शरीर के दूसरे अंगों को भी यह नुकसान पहुंचा सकता है।

इसे भी पढ़ें - आपको भी पड़ सकती है ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की जरूरत, लेने से पहले इसके बारे में जान लें सभी जरूरी बातें

सभी देशों में हैं मौजूद डेक्सामेथासोन (Dexamethasone is Avialable in All Countries)

डेक्सामेथासोन ऑफ-पेटेंट है और कई वर्षों से विभिन्न योगों में विपणन किया गया है। यह आमतौर पर ज्यादातर देशों में उपलब्ध हैं। डेक्सामेथासोन दुनिया भर में अधिकृत (authorized worldwide) है। 

डेक्सामेथासोन एक सुरक्षित दवा है, लेकिन असीमित मात्रा में गलत तरीके से इसका सेवन करने पर इसके कई साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं। ऐसे में आपको इसका सेवन अपने आप नहीं करना चाहिए, डॉक्टर की सलाह पर ही इसका सेवन करें। अगर आपका कोई कोरोना मरीज गंभीर है, तो भी उसे इस दवा का सेवन अपने आप करने से बचें। एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें। बिना डॉक्टर की सलाह के इसे बिल्कुल न लें। 

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer