Covid-19: तनाव के कारण असंतुलित हो रहा है आपका मेंस्ट्रुअल साइकिल? अपनाएं ये 4 आयुर्वेदिक टिप्स

Covid-19 का तनाव आपके पीरियड्स में देरी कर रहा है? ये आयुर्वेद टिप्स आपकी मदद कर सकते हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 21, 2020
Covid-19: तनाव के कारण असंतुलित हो रहा है आपका मेंस्ट्रुअल साइकिल? अपनाएं ये 4 आयुर्वेदिक टिप्स

मेंस्ट्रुअल साइकिल में व्यवधान पैदा करने वाले सभी कारणों में से एक जो मुख्य कारण है, वो है तनाव। ऐसे में तनाव किसी कारण हो या किसी भी प्रकार का हो ये आपके पीरियड्स साइकिल को प्रभावित कर सकता है। Covid-19 महामारी के कारण इस समय बहुत से लोग स्ट्रेस में हैं और इसका उनके स्वास्थ्य पर भी असर पड़ रहा है। ऐसे में महिलाओं में इस तनाव के कारण मेंस्ट्रुअल साइकिल में गड़बड़ी या गैप आ सकती है। दरअसल ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि एक सामान्य मेंस्ट्रुअल साइकिल के लिए हार्मोन मस्तिष्क से जारी किए जाते हैं, लेकिन स्ट्रेस बढ़ने से इस पर असर पड़ने लगता है।

insideayurvedictips

तनाव के संभावित कारणों की पहचान 

इस महामारी के कारण आपका दिमाग हर पल इसी के बारे में सोचता है और शरीर आराम में रह कर भी आराम नहीं कर पा रहा है, जिसके कारण ये परेशानी हो सकती है। तनाव के अलावा अगर आप बीमार हैं तो भी आपका पीरियड्स में गैप आ सकते हैं या ये आगे-पीछे हो सकता है। ऐसे में आयुर्वेद के अनुसार कुछ ऐसे उपाय हैं, जो इस तनाव को कम कर करने में आपकी मदद कर सकते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में।

मेंस्ट्रुअल साइकिल को रेगुलेट करने के लिए आयुर्वेदिक टिप्स

शतावरी के पॉउडर का इस्तेमाल करें

आयुर्वेद के अनुसार, शतावरी मेंस्ट्रुअल साइकिल को रेगुलेट करने में मदद करती है। इसके साथ ही ये मासिक धर्म की जटिलताओं को कम करती है और तनाव से लड़ने में मदद करती है। इसके साथ ही ये उम्र बढ़ने के संकेत को कम करती है। इसका इस्तेमाल करने के लिए आप शतावरी की जड़ का एक चम्मच पाउडर ले सकते हैं और इसे एक कप पानी में उबाल सकते हैं। इसके बाद इसमें एक चम्मच शहद मिला कर खा लें। इस तरह ये आपके मेंस्ट्रुअल साइकिल को रेगुलेट करने में मदद करेगा।

खुद को हेल्दी रखने के बारे में कितने जागरूक हैं आप? खेलें ये क्विज:

Loading...

इसे भी पढ़ें : Quarantine: अपने ब्रेस्ट को दें 'Bra-Break', जानें लॉकडाउन में घर पर रहते हुए ब्रा पहनना कितना जरूरी?

फेस मास्क से खुद को डि-स्ट्रेस करें

हैरानी की बात है कि आपको ग्लोइंग स्किन फेस मास्क चहरे को खूबसूरत बनाने के अलावा वास्तव में आपकी नसों को शांत करता है और आपको दिन के तनाव से मुक्ति दिलाता है। ऐसे में अपने DIY कौशल को परीक्षण करके घर पर मास्क बनाना चाहिए।यहाँ एक आयुर्वेदिक फेस मास्क नुस्खा है:

  • -दो चम्मच दूध की मलाई, एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी लें और इसमें कुछ बूंदें चंदन एसेंस या कैमोमाइल एसेंस मिलाएं।
  • -इसे अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं और लेट जाएं। चंदन में-अल्फा-सेंटानोल होता है जो मन को शांत करता है, हृदय गति और रक्तचाप को संतुलित करता है। 
insideashwgandha

’दशांग’ के साथ अपनी नसों को शांत करें

दशांग एक विशेष आयुर्वेदिक धूप है जो चंदन, जटामांसी और अन्य शांत जड़ी बूटियों के साथ बनाया जाता है।जबकि कोरोनावायरस के बढ़ते आंकड़े आपको तनाव दे सकते हैं, यह आपकी नसों के लिए समय निकालने का समय देता है। दशांग धुप सुबह के योग और ध्यान सत्र के लिए बहुत अच्छे हैं। दशांग धुप केवल आपके दिमाग को शांत नहीं करता है, यह हवा को भी शुद्ध करेगा और आपके रहने की जगह में सकारात्मक वास्तु ऊर्जा को बहाल करेगा।

इसे भी पढ़ें : गर्भवती महिला के शरीर में आए ये 4 बदलाव बढ़ा देते हैं पैरों और एड़ियों की सूजन, जानें किन वजह से आती है सूजन

कैफीन किक के लिए इन आयुर्वेदिक विकल्पों को आज़माएं

मलकाग्नि, ज्योतिष्मती, ब्राह्मी, अश्वगंधा आपके दिमाग को तेज और समग्र तंत्रिका स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए बढ़िया विकल्प हैं। जब भी आपको कैफिन के लिए क्रेविंग हो तो इन अभूतपूर्व जड़ी-बूटियों में से किसी का भी काढ़ा बनाएं। यह आपको आपकी कैफीन निर्भरता से मुक्त करेगा, और समस्याओं से निपटने के लिए अपने मस्तिष्क को शांत करेगा।

Read more articles on Women's Health in Hindi

Disclaimer