क्या ब्राउन शुगर वजन घटाने में मदद कर सकता है?

Wajan Ghatane ke liye Brown sugar : ब्राउन शुगर गुड़ का ही एक शुद्ध रूप होता है। इसे खाने से शरीर को कई तरह के फायदे मिलते हैं।

 

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Sep 24, 2022 11:30 IST
क्या ब्राउन शुगर वजन घटाने में मदद कर सकता है?

Brown sugar for weight loss: वजन कम करने के लिए आजकल लोग कई तरह के नुस्खे आजमा रहे हैं। वजन को मेंटेन रखा जा सके इसके लिए लोग एक्सरसाइज, डाइट, डिटॉक्स ड्रिंक्स और कई तरह के सलाद का सेवन करते हैं। जो लोग वजन कम करने की प्लानिंग करते हैं डाइटिशियन और हेल्थ एक्सपर्ट्स उन्हें सफेद चीनी न खाने की सलाह देते हैं। ऐसा माना जाता है कि सफेद चीनी का सेवन करने से शरीर को वजन और मोटापा बढ़ता है। इस स्थिति में लोगों को सफेद ही जगह ब्राउन शुगर (Brown sugar Health Benefits) का सेवन करने की सलाह दी जाती है। ब्राउन शुगर का इस्तेमाल करने वाले लोग अक्सर एक ही सवाल पूछते हैं कि क्या वाकई ये वजन और मोटापे को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है। 

इस सवाल का जवाब जानने के लिए हमने रायबरेली स्थिति जिला अस्पताल के डॉक्टर राकेश कुमार से बातचीत की। डॉक्टर ने बताया कि ब्राउन शुगर कुछ और नहीं बल्कि गुड़ का ही एक प्योर रूप है। सफेद चीनी को तैयार करने के लिए कई तरह के प्रोसेस और मशीनों का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन ब्राउन शुगर के साथ ऐसा बिल्कुल नहीं है। इसे तैयार करने के लिए बहुत ही कम प्रोसेस की जरूरत होती है। साथ ही इसमें केमिकल्स बिल्कुल नहीं पाया जाता है। 

इसे भी पढ़ेंः बालों में लगाएं अंडे का पीला हिस्सा, रुकेगा हेयर फॉल और बढ़ेंगे बाल

Weight-Loss-Diet-Plan

क्या ब्राउन शुगर वजन घटाने में मदद कर सकता है? - kya brown sugar wajan kam kar sakta hai

लो कैलोरी

डॉक्टर का कहना है की सफेद चीनी के मुकाबले ब्राउन शुगर में कैलोरी की मात्रा बहुत कम पाई जाती है। इसके साथ ही ब्राउन शुगर विटामिन बी, आयरन, कैल्शियम, पोटैशियम, जिंक, कॉपर, फास्फोरस, प्रोटीन का अच्छा सोर्स है इसलिए इसका बिल्कुल सुरक्षित है। ब्राउन शुगर में बहुत ही कम मात्रा में कैलोरी पाई जाती है जो वजन कम करने में मदद कर सकती है।

मेटाबॉलिज्म को करता है बूस्ट

नियमित तौर पर ब्राउन शुगर का सेवन करने से मेटाबॉलिज्म रेट को बूस्ट करने में मदद मिलती है। शरीर का मेटाबॉलिज्म बूस्ट होने से भूख कंट्रोल करने में मदद मिलती है, जिसकी वजह से वजन को कंट्रोल करने में आसानी हो जाती है।

इसे भी पढ़ेंः युवा महिलाओं में बढ़ते पीठ दर्द का कारण, बचाव और उपाय

नॉन-अल्कोहलिक फैट कम होता है

सफेद चीनी के मुकाबले ब्राउन शुगर में नॉन-अल्कोहलिक फैट जमा कम होता है, जिसकी मदद से वजन कम करने में मदद मिल सकती है। 

ब्राउन शुगर का उपयोग – How to Use Brown Sugar in Hindi

ब्राउन शुगर को सफेद चीनी की जगह बिना किसी संकोच के इस्तेमाल किया जा सकता है।

सफेद चीनी की तरह ही ब्राउन शुगर का इस्तेमाल भी मिठाई, खीर और घर में बनने वाले सभी प्रकार के व्यंजनों में किया जा सकता है।

डेजर्ट, बेक किए गए कुकीज में भी ब्राउन शुगर इस्तेमाल की जा सकती है

चाय या कॉफी में ब्राउन शुगर का उपयोग किया जा सकता है।

ब्राउन शुगर के नुकसान – Side Effects of Brown Sugar

डॉक्टर का कहना है कि जिस तरह से सफेद चीनी का अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने से शरीर को नुकसान पहुंच सकता है, ठीक वैसे ही ब्राउन का ज्यादा उपयोग भी सेहत के लिए हानिकारक है। अधिक मात्रा में ब्राउन शुगर का इस्तेमाल करने से डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर,स्किन एलर्जी जैसी कई समस्याएं हो सकती हैं। अगर आप प्रेग्नेंट हैं या छोटे बच्चों को स्तनपान करवा रही हैं और वजन घटाने की प्लानिंग में ब्राउन शुगर का इस्तेमाल करने की सोच रही हैं, तो एक बार अपने डॉक्टर या डाइटिशियन से इसके बारे में पूछताछ जरूर करें।

Disclaimer