युवा महिलाओं में बढ़ते पीठ दर्द का कारण, बचाव और उपाय

Remedies for Back pain: पीठ दर्द की समस्या कुछ लोगों में तो जल्दी ठीक हो जाती है, लेकिन कुछ के लिए ये जी का जंजाल बन जाती है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Sep 19, 2022Updated at: Sep 20, 2022
युवा महिलाओं में बढ़ते पीठ दर्द का कारण, बचाव और उपाय

Back Pain in Women: 30 की उम्र के बाद महिलाओं को अक्सर कमर दर्द, पीठ में दर्द और बैक बोन में दर्द की समस्या से दो-चार होना पड़ता है। भारत में हुए एक सर्वे के मुताबिक देश में पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को पीठ के दर्द की समस्या से ज्यादा जूझना पड़ता है। हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है की पीठ में दर्द की समस्या के कई लाइफस्टाइल और स्वास्थ्य कारण हो सकते हैं। रक्तवाहिनी, स्नायु तंत्रिका, मस्तिष्क, रीढ़ की हड्डी या डिस्क संबंधी जैसी बीमारियों में भी महिलाओं को पीठ के दर्द जैसी समस्या से गुजरना  पड़ता है। पीठ दर्द की समस्या कुछ लोगों में तो जल्दी ठीक हो जाती है, लेकिन कुछ के लिए ये जी का जंजाल बन जाती है। आइए जानते हैं क्यों होता है युवा महिलाओं में बढ़ते पीठ दर्द का कारण और इससे बचाव के उपायों के बारे में।

पीठ दर्द का कारण क्या है?

हेल्थ एक्सपर्ट और डाइटिशियन नीता मेहरा का कहना है कि महिलाओं में पोषक तत्वों की कमी के कारण पीठ दर्द की समस्या हो सकती है। कई बार पीठ में दर्द का कारण खराब आसन, अचानक झटके से खड़े होगा, लंबे समय तक खड़े रहना या बैठना, बिना ब्रेक के लंबे समय तक गाड़ी चलाना हो सकता है। कुछ मामलों में पीठ का दर्द पारिवारिक स्वास्थ्य और एक्सरसाइज न करने की वजह से भी होती है। 

इसे भी पढ़ेंः किडनी में पथरी से राहत दिलाएगा तुलसी का जूस, जानें सेवन का तरीका

causes of back pain

एक्सपर्ट का कहना है कि पीठ में दर्द की समस्या कैल्शियम, विटामिन की कमी, रूमेटायड आर्थराइटिस, कशेरुकाओं की बीमारी, मांसपेशियों में खिंचाव, गर्भाशय में किसी तरह का इंफेक्शन, पीरियड्स में प्रॉब्लम के कारण भी हो सकती है। अगर पीठ दर्द की समस्या 1 या 2 सप्ताह तक रहती है तो इस स्थिति में डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

पीठ में दर्द कम करने के घरेलू उपाय

अगर आप पीठ के दर्द से परेशान हैं, तो  इन घरेलू नुस्खों को ट्राई कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः क्या आपको भी है बीच-बीच में मीठा खाने की आदत, जानें इससे सेहत को होने वाले नुकसान

अदरक और शहद

कमर के दर्द से परेशान महिलाएं अदरक और शहद का सेवन कर सकते हैं। अदरक और शहद के पोषक तत्व कमर और रीढ़ की हड्डी के दर्द से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित होते हैं। इसके लिए 15 से 20 ग्राम अदरक को कूटकर पानी में उबालें। जब पानी अच्छे से उबल जाए, तो इसे छानकर लें। अदरक के पानी में शहद डालकर इसका सेवन करें।

तुलसी का करें सेवन

तुलसी में औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो शरीर को कई बीमारियों से बचाने में मददगार साबित होते हैं। कमर और पीठ दर्द से राहत पाने के लिए तुलसी का सेवन अच्छा माना जाता है। आप रेगुलर चाय में तुलसी के पत्तों को डालकर पी सकते हैं।

लहसुन का तेल लगाएं

कमर दर्द से राहत पाने के लिए लहसुन का तेल काफी फायदेमंद साबित होता है। इसके लिए 5 से 7 लहसुन की कलियां छीलकर निकाल लें। इसके बाद थोड़े से सरसों के तेल में लहसुन की कलियां डालकर उबालें। हल्के गुनगुने तेल को पीठ के दर्द वाले हिस्से पर लगाएं। ऐसा करने से दर्द में राहत मिलती है।

 
Disclaimer