सूखी खांसी में अदरक को इन 5 तरीकों से करें इस्तेमाल, जल्द मिलेगी राहत

सूखी खांसी होने पर अगर आप अदरक की चाय और काढ़ा पी कर थक गए हैं, तो इन तरीकों से भी आप अदरक का इस्तेमाल कर सकते हैं। जानते हैं इनके फायदे। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Oct 20, 2021
सूखी खांसी में अदरक को इन 5 तरीकों से करें इस्तेमाल, जल्द मिलेगी राहत

सर्दी-खांसी होने पर अदरक का इस्तेमाल आज से नहीं बल्कि, कई सालों से  किया जाता रहा है। इसे आयुर्वेद में भी कई रोगों का इलाज माना गया है। अदरक में एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो कि मौसमी बीमारियों से लड़ने में हमारी मदद करते हैं। अदरक में पाए जाने वाले कुछ यौगिक सर्दी-जुकाम के लक्षणों को कम करने के साथ फेफड़ों को स्वस्थ रखने में भी मददगार हैं। ज्यादातर लोग सर्दी-जुकाम में अदरक को काढ़े या फिर चाय में डाल कर लेन को कहते हैं। पर तब क्या जब हमें सूखी खांसी हो। दरअसल, सूखी खांसी होने पर अदरक ना सिर्फ खांसी को शांत करता है बल्कि गले को भी आराम पहुंचाने का काम करता है। ये गले में होने वाली एलर्जी के असर को धीमा करता है और बार-बार गले में महसूस होने वाली खिचखिच को कम करता है। तो, आइए आज जानते हैं कि जब आपको सूखी खांसी हो तो, आप अदरक को कैसे ले सकते हैं और इन्हें ऐसे लेने के फायदे क्या हैं?

Insidedrycough

सूखी खांसी में कैसे लें अदरक-How to use ginger in dry cough

1. शहद में मिला कर मुंह में दबाएं अदरक

जब किसी को सूखी खांसी होती है तो गले में खिचखिच ज्यादा महसूस होती है और बिना कफ के खांसने से गला बार-बार सूखने लगता है। साथ ही नाक से मुंह तक आने वाले पैसेज छिल जाते हैं और कई बार उनमें सूजन आ जाता है। ऐसे में अदरक को शहद में मिला कर खाना गले के साथ नेसेल पैसज की सूजन को भी कम करता है। अदरक जहां नाक से मुंह तक आने वाली इन नलिकाओं के मेम्ब्रेन की सूजन कम करता है वहीं शहद इसमें एक आरामदायक परत की तरह काम करता है। इस तरह ये दोनों मिल कर गले का आराम देते हैं।

इसे भी पढ़ें: कब्ज-एसिडिटी जैसी पेट की कई समस्याओं का घरेलू इलाज है धनिया पाउडर, इन 5 तरीकों से करें सेवन

2.  घी में अदरक पका कर खाएं

घी में अदरक पका कर खाना दादी-नानी के कुछ खास नुस्खों में से हैं। दरअसल, जब हम घी में अदरक पका कर लेने से ये गले के पैसेज को क्लीन करने में मदद करता है। साथ ही अदरक का एंटीबैक्टीरियल गुण इंफेक्शन या फिर एलर्जी को कम करने में मदद करता है। साथ ही सूखी खांसी के कारण जो हमारा गला बार-बार सूखता है, उस गले में घी एक नमी की परत बनाए रखता है। और दोनों मिल कर सूखी खांसी से आराम दिलाते हैं।

3. अदरक और गुड़ में बनाएं लड्डू

अदरक और गुड़ दोनों ही सर्दी-खांसी में शरीर को अंदर से गर्म करने का काम करते हैं। साथ ही अदरक का एंटीवायरल गुण गले में वायरस को बढ़ने से रोकता है। अगर किसी को मौसमी इंफेक्शन की वजह स सूखी खांसी हुई है तो ये इंफेक्शन को कम करता है। तो गुड़ का सेवन नेचुरल क्लीनजिंग एजेंट की तरह काम करता है। ये पूरे रेस्पिरेटरी सिस्टम के पैसेज को साफ करता है और सांस लेने को आसान बनाता है। इसलिए जब आपको सूखी खांसी होती है तो आप अदरक को कूच कर और गुड़ में पका कर लड्डू बनाना चाहिए। फिर आप इसे दिन में दो से तीन बार खा सकते हो। 

Insidedrycoughremedies

इसे भी पढ़ें: वजन घटाने के लिए अदरक का इन 5 तरीकों से करें इस्तेमाल, तेजी से होगा फैट-बर्न

4. अदरक और लौंग से बनाएं कफ सिरप

अदरक और लौंग दोनों को पीस कर और शहद में मिला कर आप एक कफ सिरफ तैयार कर सकते हैं। ये काफी फायदेमंद होता है। दरअसल, लौंग में एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल, एंटीऑक्सीडेंट और एंटीसेप्टिक गुण है जो कि सूखी खांसी के कारणों को बेअसर करते हैं और खांसी से राहत दिलाते हैं। साथ ही अदरक के गुण भी कुछ इसी प्रकार के हैं और दोनों मिल कर सूखी खांसी निजात दिलाते हैं। साथ ही शहद का इस्तेमाल गले का आराम पहुंचाता है।

5. अदरक, लौंग, दालचीनी, मुलेठी और गुड़ से बनाएं चूर्ण

अदरक, लौंग, दालचीनी, मुलेठी और गुड़ इन सबको पहले दरदरा करके पीस लें। अब सबको सूखे पैन में गर्म कर लें। अब इसे एक डिब्बे में बंद करके रख लें। और खांसी आने पर या रात में सोने से पहले गर्म पानी के साथ लें। ये आपकी सूखी खांसी को कम करने में आपकी मदद करेगी। साथ ही ये सीने की जगड़न को कम करेगा, नेसेल पैसेज को क्लीन करेगा और सांस लेने में आपकी मदद करेगा। 

तो, इस तरह आप इन 5 तरीकों से सूखी खांसी होने पर अदरक का इस्तेमाल कर सकते हैं। हमारा सुझाव है कि आप इन चीजों को ताजे अदरक से बनाएं और ताजा ही इस्तेमाल करें। इससे आपको ज्यादा फायदा मिलेगा। पहले से ही इसे बना कर रखने और इस्तेमाल करने से बचें।

all images credit: freepik

Disclaimer