बच्चे को साइकिल चलाना सिखाएं तो फॉलो करें ये 5 टिप्स, चोट लगने और गिरने का डर होगा कम

बच्चों को आसान व सुरक्षित तरीके से साइकिल चलाना सिखाने के लिए जानें कुछ आसान टिप्स। 

Shilpy Arya
Written by: Shilpy AryaPublished at: Apr 26, 2022Updated at: Apr 26, 2022
बच्चे को साइकिल चलाना सिखाएं तो फॉलो करें ये 5 टिप्स, चोट लगने और गिरने का डर होगा कम

जैसे-जैसे बच्चे बड़े हो रहे होते हैं माता-पिता उन्हें नई-नई चीजें सिखाने लगते हैं जो उनके लिए बहुत जरूरी होती हैं। जैसे खुद स्कूल ड्रेस पहनना, जूते के फीते बांधना, ठीक से भोजन करना, साइकिल चलाना आदि। आज हम इस बारे में बात कर रहे हैं कि माता-पिता बच्चों को आसानी से साइकिल चलाना कैसे सिखा सकते हैं। साइकिल एक ऐसी सवारी है जिसे चलाने की ट्रेनिंग आपको बचपन में सबसे पहले दी जाती है। जब बच्चे कुछ नया सीख रहे होते हैं तो उन्हें सबसे पहले साइकिल चलाना सिखाया जाता है। लेकिन साइकिल चलाना आसान नहीं होता क्योंकि इससे बच्चों के गिरने व चोट लगने का जोखिम भी रहता है।

अगर आप भी अपने बच्चे को साइकिल चलाना सिखा रहे हैं तो आपको कुछ जरूरी टिप्स का ध्यान रखना चाहिए। चलिए विस्तार से जानते हैं उन टिप्स के बारे में - 

बच्चों को साइकिल चलाना सिखाने की सही उम्र

बच्चों को साइकिल सिखाने से पहले आपके मन में सबसे पहला ख्याल यही आता हैं कि उन्हें किस उम्र में साइकिल चलाना सिखाना चाहिए। आखिर किस उम्र में आपका बच्चा साइकिल सीखने के लिए तैयार है। जब बच्चा 4 से 6 साल का हो जाए आपको तब उसे साइकिल चलाना सिखाना चाहिए। इस उम्र में बच्चे खुद ही नई चीजों को सीखने की कोशिश करते हैं।

1. सुरक्षा का रखें ध्यान 

जब आप बच्चे को साइकिल चलाना सिखाते हैं तो उसकी सुरक्षा का ध्यान रखना भी आपकी जिम्मेदारी है। इसके लिए उनके पास सुरक्षा से जुड़े सभी उपकरण होने चाहिए। जैसे - हेल्मेट, नी कैप, दस्ताने आदि। यह उनके साइज के होने चाहिए। बच्चे का हेल्मेट ऐसा हो जो उनके आधे माथा को ढक सके। साइकिल चलाना सिखाने से पहले आप बच्चे को यह खुद ही ठीक से पहनाएं।

इसे भी पढ़ें - लाड़-प्यार में बिगड़ गया आपका बच्चा? जानें ऐसे बच्चों को हैंडल करने के टिप्स

2. सही साइकिल चुनें

अगर आप चाहते हैं कि आपका बच्चा जल्दी और सुरक्षित तरीके से साइकिल चलाना सीख जाए तो आपको उसके लिए बेहतर साइकिल का चुनाव करना होगा। आप बच्चे की लंबाई के अनुसार साइकिल लें। उसे ज्यादा ऊंची साइकिल ना दिलाएं। ऊंची साइकिल से अगर कभी गलती से बच्चा गिर जाता है तो उसे चोट भी लग सकती है। 

3. जगह का चुनाव

बच्चे को आसानी से साइकिल चलाना सीखाने के लिए सही जगह का चुनाव बहुत जरूरी है। इसके लिए आप ऐसी जगह चुनें जहां भीड़भाड़ ना हो। बच्चों के साइकिल सीखने के लिए खुली जगह अधिक अच्छी होती है। आप चाहें तो उन्हें पार्क में साइकिल चलाना सिखा सकते हैं। अगर आप कोई सड़क चुनते हैं तो ध्यान रखें उसमें ब्रेकर या गड्ढे ना हों।

4. ट्रेनिंग व्हील निकलवा दें 

ट्रेनिंग व्हील बच्चों के जल्दी साइकिल सीखने में मददगार होते हैं। इससे वे साइकिल चलाना तो सीख जाते हैं लेकिन उन्हें बैलेंस बनाना नहीं आ पाता। ट्रेनिंग व्हील से उन्हें सपोर्ट मिलता रहता है और उन्हें लगता है वे साइकिल चलाना सीख गए हैं। ऐसे में अगर आप चाहते हैं कि बच्चा बैलेंस बनाना सीखे तो आपको ट्रेनिंग व्हील निकलवा देने चाहिए। इसके बाद उन्हें साइकिल चलाने को कहें और सपोर्ट के लिए आप उनके साथ रहें। 

इसे भी पढ़ें - आपके बच्चों को बेहतर इंसान बनाने में मदद करेंगी ये 6 आदतें, जीवन में मिलेगी सफलता

5. सीट की उंचाई 

जब बच्चा साइकिल सीख जाता है तब वह फर्राटे भरने की कोशिश करता है। ऐसे में उसके गिरने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। जिससे उसे चोट लग सकती है। इस समय आपको उसकी सीट की उंचाई का खास ध्यान रखना है। बच्चे के पैर साइकिल से जमीन पर आसानी से लग सकें उसकी सीट उतनी ही ऊंची हो। जिससे वो जरूरत पड़ने पर जमीन पर पैर लगाकर साइकिल रोक सके।

इन तरीकों से आप बच्चे को आसानी से साइकिल चलाना सिखा सकते हैं। साथ ही जब आप बच्चे को साइकिल सिखा रहे हों तब आप उसे सहारा देने के लिए उसके आसपास ही रहें। बच्चे को हमेशा आगे देखकर साइकिल चलाने को कहें क्योंकि साइकिल चलाते समय बच्चे नीचे की ओर देखते हैं और इस तरह वे गिर भी सकते हैं।  

Disclaimer