H3N2 Influenza: तेजी से फैल रहा है इंफ्लुएंजा, बच्चों को इससे बचाने के लिए अपनाएं ये 6 टिप्स

H3N2 Influenza Virus in Kids: इंफ्लुएंजा के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। बच्चों को इसका अधिक जोखिम होता है। जानें, बच्चों को इंफ्लुएंजा से कैसे बचाएं? 

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Mar 29, 2023 14:48 IST
H3N2 Influenza: तेजी से फैल रहा है इंफ्लुएंजा, बच्चों को इससे बचाने के लिए अपनाएं ये 6 टिप्स

मलेरिया और डेंगू दिवस 2023: बुखार के कारण, लक्षण और रोकथाम गाइड - Onlymyhealth

Influenza Virus Prevention Tips in Hindi: कोरोना वायरस के साथ ही देश में इंफ्लुएंजा के बढ़ते मामलों से भी लोग डरे हुए हैं। 2-3 महीनों से इंफ्लुएंजा वायरस के मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है। इंफ्लुएंजा होने पर व्यक्ति को श्वसन संक्रमण, खांसी, सांस लेने में तकलीफ और घरघराहट जैसे लक्षणों का सामना करना पड़ता है। वैसे तो इंफ्लुएंजा वायरस किसी को भी अपनी चपेट में ले सकता है, लेकिन बच्चों और बुजुर्गों में इसका जोखिम अधिक रहता है। ऐसे में इंफ्लुएंजा के बढ़ते मामलों ने माता-पिता की चिंता बढ़ा दी है। अगर आपके घर में भी छोटे बच्चे हैं, तो आप कुछ उपायों की मदद से इससे बचाव कर सकते हैं। तो चलिए, विस्तार से जानते हैं बच्चों को इंफ्लुएंजा से कैसे बचाएं (Bacho ko Influenza se Kaise Bachaye)?

बच्चों को इंफ्लुएंजा से कैसे बचाएं?- How to Prevent Kids from Influenza in Hindi

1. वैक्सीनेशन करवाएं

बच्चों को इंफ्लुएंजा से बचाने के लिए वैक्सीनेशन करवाना बहुत जरूरी है। 6 महीने और उससे अधिक उम्र के लोगों को हर साल इंफ्लुएंजा का टीका लगवाने की जरूरत होती है। इसलिए आपको भी अपने बच्चे को समय-समय पर वैक्सीन जरूर लगवानी चाहिए। 

2. संक्रमित लोगों के संपर्क में आने से बचाएं

अगर घर में कोई व्यक्ति इंफ्लुएंजा से संक्रमित हो गया है, तो बच्चों को उनके आस-पास जाने से बचाना चाहिए। बच्चों को बीमार लोगों के संपर्क से बचाना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें- इंफ्लुएंजा होने पर क्या खाएं और क्या नहीं? 

3. इम्यूनिटी मजबूत बनाएं

बच्चों को इंफ्लुएंजा से बचाने के लिए उनकी इम्यूनिटी को मजबूत बनाए रखना बहुत जरूरी होता है। मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली फ्लू सहित कई बीमारियों के खिलाफ काम कर सकता है। इसके लिए आप बच्चों को फलों और सब्जियों का सेवन करवाएं। इसके अलावा, दाल, जूस और सूप पिलाएं। इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए बच्चों के लिए पर्याप्त नींद भी बहुत जरूरी होता है। साथ ही, फिजिकल एक्टिविटी का भी ख्याल रखें।

influenza

4. हाथों की हाइजीन का ख्याल रखें

बच्चों को इंफ्लुएंजा से बचाने के लिए उनके हाथों की हाइजीन का ख्याल रखना जरूरी होता है। इसके लिए बच्चों को खाना खाने से पहले हाथों को साबुन और पानी से धोना सिखाएं। साथ ही, हाथों से वायरस और बैक्टीरिया को मारने के लिए हैंड सैनिटाइजर का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। साबुन और सैनिटाइजर वायरस को मारने में काफी प्रभावी साबित हो सकते हैं। 

5. मुंह और नाक को ढकाकर रखें

बच्चों को इंफ्लुएंजा से बचाने के लिए मुंह और नाक को ढकना बहुत जरूरी होता है। इससे आपका बच्चा संक्रमित व्यक्ति से बच सकता है। इसके अलावा, अगर आपके बच्चे को संक्रमण है और वह मुंह और नाक को ढककर रखता है, तो इससे दूसरे लोगों में संक्रमण फैलने से बच सकता है। आपको बता दें कि इंफ्लुएंजा का वायरस खांसने, छींकने और बात करने पर निकलने वाले बूंदों के माध्यम से फैल सकता है। 

इसे भी पढ़ें- Central Advisory: खांसी को न समझें सामान्‍य लक्षण, तेजी से फैल रहा इंफ्लुएंजा, ब‍िना जांच न खाएं दवा

6. आंखों, नाक और मुंह को छूने से बचें

बच्चे अक्सर अपने हाथों से आंखों, नाक और मुंह को छूते रहते हैं। इससे संक्रमण होने की संभावना बढ़ जाती है। ऐसे में आपको बच्चों को बताना चाहिए कि आंखों, नाक और मुंह को छूने से बचना चाहिए। दरअसल, जब कोई व्यक्ति वायरस से दूषित चीज को छूता है और फिर आंखों, नाक या मुंह को छूता है, तो इससे संक्रमण फैलता है। 

अगर आप भी इन बातों का ध्यान रखेंगे, तो इससे बच्चों को इंफ्लुएंजा से बचाया जा सकता है।

Disclaimer