कोरोना वायरस इंफेक्शन से बचने के लिए आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, डॉ. यतिन मेहता से जानें उपाय

मेदांता हॉस्पिटल के इंस्टीट्यूट ऑफ क्रिटिकल केयर एंड एनस्थीसियोलॉजी विभाग के चेयरमैन डॉ. यतिन मेहता से जानें कोरोना वायरस से बचने के उपाय।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Feb 20, 2020Updated at: Feb 20, 2020
कोरोना वायरस इंफेक्शन से बचने के लिए आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, डॉ. यतिन मेहता से जानें उपाय

कोरोना वायरस भले ही मुख्य रूप से चीन में फैला बताया जा रहा है, मगर भारत में भी इसकी चिंता जायज है। अब तक 3 भारतीयों में कोरोना वायरस की पुष्टि की जा चुकी है और हजारों संदिग्ध पाए गए हैं। वहीं चीन में इस वायरस की चपेट में आने वालों की संख्या 75,000 के पार पहुंच गई है। कोरोना वायरस ने पिछले 2 महीनों में चीन में काफी तबाही मचाई है। WorldOmeter द्वारा 20 फरवरी की सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार चीन में अब तक इस वायरस से मरने वालों की संख्या 2,130 हो चुकी है।

भारत और चीन के रिश्ते ऐसे हैं कि व्यापार से लेकर एकेडमिक कामकाज के लिए बहुत सारे भारतीय चीन जाते रहते हैं और चीनी नागरिक भारत आते रहते हैं। यही कारण है कि भारत सरकार के साथ-साथ हेल्थ एक्सपर्ट्स के लिए भी कोरोना वायरस चिंता का विषय बना हुआ है। कोरोना वायरस से जुड़े तमाम मुद्दों पर ओनलीमायहेल्थ की टीम ने Institute of Critical Care and Anaesthesiology, Medanta- The Medicity के चेयरमैन डॉ. यतिन मेहता से बातचीत की, तो उन्होंने कई महत्वपूर्ण बातें बताईं।

कोरोना वायरस के लक्षण क्या हैं?

डॉ. यतिन के अनुसार कोरोना वायरस के लक्षण आमतौर पर फ्लू जैसे होते हैं। इसके होने पर बुखार होगा, खांसी होगी, मांसपेशियों में दर्द होगा। अगर किसी की कंडीशन ज्यादा खराब होती है, तो उसे बलगम निकलनी शुरू हो सकती है, चक्कर आ सकते हैं, पेचिश (डायरिया) हो सकता है, ब्लड प्रेशर डाउन होने लगता है और सांस लेने में तकलीफ होने लगती है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस से जुड़ी ये 6 बातें हैं अफवाह, कहीं आपने तो यकीन नहीं कर लिया इनपर?

आखिर कब हमें डॉक्टर के पास जाना चाहिए?

अगर आपका बुखार बढ़ रहा है, खांसी बढ़ रही है, शरीर का दर्द ठीक नहीं हो रहा है, सांस तेज चल रही है, खांसी के साथ बलगम या खून आ रहा है, तो मेरी सलाह है कि आपको डॉक्टर के पास जाना चाहिए।

कोरोना वायरस से बचने के लिए क्या करें?

डॉ. मेहता बताते हैं कि कोरोना वायरस से बचने के लिए जरूरी है कि आप कुछ बातों का ध्यान रखें।

  • किसी भी ऐसे व्यक्ति के मिलने के बाद जिसे खांसी या रेस्पिरेटरी बीमारी है, अपने हाथों को सैनिटाइजर से जरूर साफ करें।
  • पब्लिक प्लेस पर जाते समय N-95 मास्क पहनें।
  • लोगों से हाथ मिलाने से बेहतर है कि इंडियन स्टाइल में नमस्ते कहें।
  • छींकते-खांसते समय अपने मुंह पर रूमाल रखें या अगर रूमाल न हो तो बाहों के सहारे छींकें।
  • अगर आपको वायरस के लक्षण दिखते हैं, तो बिना देरी किए डॉक्टर से संपर्क करें।

इसके अलावा डॉ. मेहता बताते हैं कि किसी भी वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सबसे जरूरी बात ये है कि आपको अपनी इम्यूनिटी को मजबूत बनाना चाहिए। आगे हम आपको बता रहे हैं इम्यूनिटी बूस्ट करने के कुछ खास तरीके।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस के मरीजों का कैसे किया जा रहा है इलाज? इलाज के बाद कैसे की जा रही है रिकवरी

कैसे बढ़ाएं शरीर की इम्यूनिटी

हेल्थ हार्वर्ड के अनुसार इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए आपको अपनी लाइफस्टाइल में कुछ छोटे-छोटे बदलाव करने बेहद जरूरी हैं। ये बदलाव इस प्रकार हैं-

  • धूम्रपान न करें।
  • अपनी डाइट में फलों और सब्जियों को ज्यादा से ज्यादा शामिल करें।
  • रोजाना एक्सरसाइज करें।
  • अपना वजन संतुलित रखें और मोटापे से बचें।
  • अगर आप एल्कोहल का सेवन करते हैं, तो इसे सीमित मात्रा में पिएं।
  • रोजाना पर्याप्त नींद लें। (वयस्कों के लिए 7-9 घंटे की नींद जरूरी है।)
  • इंफेक्शन से बचने के लिए हाथ को लगातार साफ करते रहें और मांस को अच्छी तरह पकाकर ही खाएं।
  • स्ट्रेस से बचें।

इसके अलावा किसी भी तरह की अस्वस्थता महसूस होने पर आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए, ताकि आपकी बीमारी का सही समय पर पता लगाकर आपका इलाज शुरू किया जा सके। कोरोना वायरस से जुड़ी अफवाहों पर ध्यान न दें। डॉ. यतिन बताते हैं कि ये वायरस चाइनीज खाने, आइस्क्रीम, नॉन वेजिटेरियन फूड्स आदि से नहीं फैलता है।

Read more articles on Other Diseases in Hindi

Disclaimer