बच्चों के लिए गुड मैनर्स: ऐसे सुधारें बच्चों के खाने-पीने की आदत, सिखाएं ये 7 बातें

अपने बच्चों को बचपन से ही खाने-पीने से जुड़ी ये 7 अच्छी आदतें सिखाएं, जिससे उनकी सेहत पर अच्छा प्रभाव पड़ेगा।

Ambika Kimothi
Written by: Ambika KimothiPublished at: Mar 22, 2022Updated at: Mar 23, 2022
बच्चों के लिए गुड मैनर्स: ऐसे सुधारें बच्चों के खाने-पीने की आदत, सिखाएं ये 7 बातें

बच्चों का स्वभाव पानी की तरह होता है। जैसे पानी को जिस बर्तन में डाला जाता है, उसी बर्तन का आकार ले लेता है, वैसे ही बच्चों को बचपन से जिस माहौल में रखा जाता है, वही माहौल आगे चलकर उनकी आदत बन जाता है। इसलिए बच्चों को बचपन में ही अच्छी आदतें सिखानी चाहिए क्योंकि इसी से उनका भविष्य जुड़ा होता है। आज हम इसी विषय में बात करने जा रहे हैं।

हर माता-पिता का ये दायित्व होता है कि वो अपने बच्चे को खाने-पीने का सही तरीका सिखाएं, जैसे- उन्हें खाना कैसे खाना चाहिए, कितना पानी पीना चाहिए, खाने को बर्बाद नहीं करना चाहिए आदि। चलिए जानते हैं कि वो ऐसी कौन-सी आदते हैं, जिससे आप अपने बच्चों के खानपान में सुधार कर सकते हैं।

1. चबाकर खाना सिखाएं

आप बच्चों को खाना अच्छे से चबाकर खाना सिखाएं। कई बच्चे खाना आराम से खाना पसंद करते हैं। ऐसे में जल्दी के चलते कई पेरेंट्स बच्चों को जल्दी-जल्दी खाने को कहते हैं, जो कि बच्चे के सेहत के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं होता है। कोशिश करें कि खाते समय आप बच्चे के साथ हों और उसको खाना ज्यादा से ज्यादा चबाने को कहें।

teach to chew

इसे भी पढ़ें-अपने 7 साल तक के बच्चों को जरूर सिखाएं ये 7 सोशल स्किल्स, व्यक्तित्व का होगा विकास

2. खाते समय शांत जगह पर बैठाएं 

आप अपने बच्चे को एक जगह शांति से बैठकर खाना खाने की आदत डलवाएं। आजकल ज्यादातर बच्चों को मोबाइल और टीवी की ऐसी लत लग गई है कि वो बिना इन चीजों के खाना खाने से मना करने लगते हैं। लेकिन खाना खाते समय टीवी देखना बच्चों के सेहत पर बुरा प्रभाव डाल सकता है। इससे बच्चे खाना ठीक से चबाकर नहीं खाते हैं और उनके मस्तिष्क पर भी बुरा असर पड़ता है। आप बच्चे के लिए एक शांत वातावरण तैयार करें और उसे शांति से खाने को बोलें।

3. जंक फूड्स के नुकसान बताएं

आप अपने बच्चों को फास्ट फूड्स, जंक फूड्स से सेहत को होने वाले नुकसान के बारे में बताएं और उनको जागरूक करें। उनको बताएं कि बाहर का खाना सेहत के लिए बुरा हो सकता है क्योंकि बाहर मिलने वाले ज्यादातर फूड्स में बहुत ज्यादा तेल और मसालों का इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा पैकेटबंद फूड्स में आर्टिफिशियल कलर, प्रिजर्वेटिव्स और टेस्ट इंहैंसर का इस्तेमाल किया जाता है, जो सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकते हैं। लंबे समय में इन फूड्स को खाने से वो बीमार पड़ सकते हैं।

ask to drink enough water

4. पर्याप्त पानी पीने को बोलें

आप बच्चों को दिन में कई बार पानी पीने के लिए बोलें। उनको बताएं कि पानी हमारे शरीर के लिए बहुत आवश्यक है। आप उनमें पानी पीने की आदत को विकसित करने के लिए बच्चों को उनके पसंद के रंग की बोतल में पानी भरकर दे सकते हैं। इससे वो बोतल हमेशा अपने पास रखेंगे और समय-समय पर पानी पीते रहेंगे। इसके अलावा आप उनकी डाइट में पानी से भरपूर फल और सब्जियां जैसे- तरबूज, खरबूजा, केला, खीरा, अंगूर, संतरा, मौसमी आदि भी शामिल कर सकते हैं।

5. भूख के हिसाब से प्लेट में खाना लेना सिखाएं

माता-पिता अपने बच्चे को जितनी भूख हो, उतना खाना प्लेट में लेना सिखाएं। बच्चे अक्सर प्लेट में खाना भरकर लेने की जिद करते हैं और बाद में खाना छोड़ देते हैं, जिससे खाना बर्बाद होता है। बच्चों को अन्न का सम्मान करना सिखाएं। उनको बोलें कि आप प्लेट में पहले थोड़ा खाना लें, उसे खत्म करें तभी और खाना लें।

इसे भी पढ़ें-अच्छी सेहत के लिए अपने बच्चों को जरूर सिखाएं ये 6 आदतें, जीवनभर मिलेगा फायदा

food on the plate according to hunger

6. रात में दूध पीने की आदत डालें

आप बच्चों में रात को हल्दी दूध पीने की आदत डलवाएं। इससे उनकी हड्डियों और दांतों को कैल्शियम मिलेगा। बच्चों की इम्यूनिटी कमजोर होती है। ऐसे में बदलते मौसम में उनको संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है। इसलिए बच्चों की इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए आप गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पिलाएं। इससे बच्चे स्वस्थ और सेहतमंद रहेंगे।

7. पैकेटबंद फूड्स खाने की आदत छुड़वाएं

बच्चों को बताएं कि पैकेटबंद फूड्स उनकी सेहत के लिए कितने हानिकारक हो सकते हैं। अगर बच्चे को कोई चीज बहुत ज्यादा पसंद है और वो बार-बार इसे खाने की जिद करता है, तो उस चीज के लिए एक टाइम फिक्स कर दें, जैसे- सप्ताह में 1 दिन या महीने में 1 दिन। बच्चों के सामने शर्त रखें कि अगर वो फल और हरी सब्जियां नियमित रूप से खाएंगे, स्कूल का टिफिन खत्म करेंगे, पढ़ाई करेंगे और खेलने जाएंगे, तो उनको महीने या हफ्ते में एक दिन उनका मनपसंद फूड खाने को देंगे।

अगर आपके बच्चे इन सारी बातों को मानते हैं और इन्हें अपनी आदत में शामिल करते हैं तो आप उनको कुछ रिवॉर्ड दे सकते हैं, जिससे उनका मनोबल बढ़े और वो इन नियमों के प्रति ईमानदार रह सकें।

Disclaimer