9 दिनों तक जिंदा रह सकता है कोरोनावायरस, जानें अपने आस-पास इसे खत्म करने का तरीका

दुनियाभर में फैली कोरोनावायरस की दहशत के बीच ये सवाल खड़ा हो गया है कि ये वायरस कितनी देर तक जिंदा रह सकता है।

 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Feb 24, 2020Updated at: Feb 24, 2020
9 दिनों तक जिंदा रह सकता है कोरोनावायरस, जानें अपने आस-पास इसे खत्म करने का तरीका

दुनियाभर में दहशत का दूसरा नाम बन चुके कोरोनावायरस (COVID-19) से सिर्फ चीन में ही 2,300 से ज्यादा जानें जा चुकी हैं जबकि विश्व में इस वायरस से मरने वालों की संख्या 2621 पहुंच चुकी है। कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण कई देशों ने दूसरों देशों से सटी सीमाओं को बंद कर दिया है। बता दें कि कोरोनावायरस (Coronavirus) के अब तक 79,636 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जिसमें से 11,568 लोगों की हालत बहुत ज्यादा गंभीर है। आलम ये है इस घातक वायरस के अन्य देशों में तेजी से फैलने की बढ़ती चिंताओं ने ये सवाल खड़ा कर दिया है कि ये वायरस कितनी देर तक सतह पर जिंदा रह सकता है। 

coronavirus

चीन वापस लेगा ढेर सारे नोट

एक न्यूज वेबसाइट के मुताबिक, कोरोनावायरस के तेजी से फैलने के डर के चलते चीन के सेंट्रल बैंक ने अपनी मुद्रा के ढेर सारे नोटों को साफ और नष्ट करने का फैसला किया है क्योंकि ये दिन में कई हाथों से होकर गुजरते हैं। 

संचरित रोग है कोरोनावायरस

वहीं यूएस सेंटर फॉर डिजीज एंड प्रीवेंशन (सीडीसी) के मुताबिक, कोरोनावायरस, वायरसों का एक समूह है, जो ज्यादातर जानवरों और  कुछ दुर्लभ मामलों जैसे कि जूनोटिक कहते हैं उनमें पाया जाता है। यह जानवरों जैसे की चमगादड़ों से इंसानों में संचरित होने वाला संक्रमण है।

इसे भी पढ़ेंः क्या है कोरोनावायरस? कहां से फैला, लक्षण और कितना है खतरनाक, जानें वायरस से बचाव के उपाय

छींकने और खांसने से फैलता है कोरोना

सीडीसी के मुताबिक, कोरोनावायरस छींकने और खांसने जैसी सांस संबंधी दिक्कतों और सतह पर उनकी खराब स्थिति के कारण फैलता है। सीडीसी की वेबसाइट के मुताबिक, ऐसा संभव है कि किसी व्यक्ति को कोरोनावायरस किसी सतह या फिर किसी चीज को छूने से हो जाए क्योंकि उस पर संक्रमण हो सकता है। और जब आप उस सतह को छूते हैं और अपने मुंह, नाक या अपनी आंख पर लगाते हैं तो वायरस फैलने की संभावना बहुत ज्यादा होती है।

coronavirus tips

कोई भी व्यक्ति हो सकता है संक्रमित

सीडीसी के मुताबिक, फ्लू वायरस किसी विशिष्ट सतह पर करीब 48 घंटे तक जिंदा रह सकता है और संभावित रूप से सतह के संक्रमित न होने पर भी किसी व्यक्ति को संक्रमित कर सकता है।

नौ दिन तक जिंदा रह सकता है कोरोना

जर्नल ऑफ हॉस्पिटल इंफेक्शन में प्रकाशित शोध के मुताबिक, वहीं एसएआरसी और एमईआरसी जैसे इंसानी कोरोनावायरस  नौ दिनों के लंबे समय तक निर्जीव सतहों पर लगातार जिंदा रह सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसा माना जाता है कि आम कीटाणुशोधन उत्पादों के साथ सफाई से सतह पर अंतर जरूर आ सकता है। शोध में यह भी पाया गया है कि लगभग 62-71 प्रतिशत इथेनॉल, 0.5 प्रतिशत हाइड्रोजन पेरोक्साइड या 0.1 प्रतिशत सोडियम हाइपोचाइट या ब्लीच के साथ सतह को साफ कर एक मिनट के भीतर मानव कोरोनावायरस को निष्क्रिय किया जा सकता है। कोरोनावायरस पर पहले प्रकाशित हो चुके 22 अध्ययनों का विश्लेषण कर ये शोध किया गया है।

इसे भी पढ़ेंः Corona Virus से दहशत में क्‍यों है दुनिया? विस्‍तार से जानें कोरोना वायरस के कारण और लक्षण

5 मिनट से होती है शुरुआत

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के संक्रमण रोग प्रोफेसर डॉ. चार्लस चियू का कहना है कि मौजूदा उपलब्ध डेटा के आधार पर मैं यह कहना चाहूंगा कि हम प्रारंभिक रूप से एसएआरएस कोरोनावायरस के डेटा पर निर्भर हैं। एसएआरएस कोरोनावायरस नोवल कोरोनावायरस से करीबी रूप से संबंधित है और अभी तक की जांच में सामने आया है कि दोनों में 80 फीसदी तक समानता है। एसएआरएस कोरोनावायरस के लिए सतह पर जिंदा रहने की अवधि 5 मिनट से लेकर नौ दिनों तक है।

और अध्ययन की जरूरत

उन्होंने कहा, ''हालांकि, विभिन्न निष्कर्षों, वायरल टाइटर्स और पर्यावरणीय परिस्थितियों के कारण नोवल कोरोनोवायरस के लिए इन निष्कर्षों को विस्तार करना बहुत मुश्किल है, जो कि विभिन्न अध्ययनों में परीक्षण किए गए थे और साथ ही कोरोनोवायरस पर डेटा की कमी थी। हालांकि कोरोनावायरस सतह पर कितनी देर तक जिंदा रह सकता है इसके लिए और अधिक संस्कृतियों का प्रयोग कर अधिक शोध किए जाने की जरूरत है।''

सोर्सः (https://www.worldometers.info/coronavirus/& CNN)

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

Disclaimer