Strength Training: स्ट्रेंथ ट्रेनिंग की शुरुआत करने वाले लोग इस तरह करें खुद को तैयार, फिटनेस होगी बेहतर

अगर आप भी स्ट्रेंथ ट्रेनिंग की शुरुआत करने जा रहे हैं तो जान लें कैसे करना चाहिए खुद को तैयार जो आपकी फिटनेस को रखेगा बेहतर।

Vishal Singh
Written by: Vishal SinghUpdated at: Oct 02, 2020 15:00 IST
Strength Training: स्ट्रेंथ ट्रेनिंग की शुरुआत करने वाले लोग इस तरह करें खुद को तैयार, फिटनेस होगी बेहतर

स्ट्रेंथ ट्रेनिंग की शुरुआत करने वाले लोगों को कुछ खास बातों पर ध्यान देने की जरूरत होती है। स्ट्रेंथ ट्रेनिंग आमतौर पर आपको कुछ बदलाव करने के लिए प्रेरित करता है। स्ट्रेंथ ट्रेनिंग आपको प्रेरित करती है, इसमें आप काफी उत्साहित होते हैं, और एक नए की कल्पना के साथ होते हैं। स्ट्रेंथ ट्रेनिंग की शुरुआत आपको थोड़ी मुश्किल लग सकती है। लेकिन हां ये ट्रेनिंग या वर्कआउट इतनी कठिन नहीं है कि आप इसे शुरू नहीं कर सकते। हम आपको शुरू करने के लिए शक्ति प्रशिक्षण की मूल बातें बताने जा रहे हैं जो आपको अपने व्यक्तिगत लक्ष्यों को प्राप्त करने की दिशा में लक्षित करते हैं। 

शुरू करें

योजना और तैयारी दोनों एक दूसरे के लिए और आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है, लेकिन सफल होने के लिए आपको गति की भी जरूरत होती है। वर्कआउट के इस गति को बनाने और बनाए रखने का सबसे अच्छा तरीका कार्रवाई के साथ है। हालांकि यह आपके वजन घटाने के लक्ष्यों और सामान्य फिटनेस लक्ष्यों को इंगित करने के लिए बहुत अच्छा है, बस व्यायाम करने के लिए अपने लक्ष्य पर ध्यान दें। तभी आप स्ट्रेंथ ट्रेनिंग को पूरी तरह से अपना सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: गठिया के मरीजों के लिए ये 7 एक्‍सरसाइज है फायदेमंद, जोड़ों के दर्द से मिलेगी राहत

डॉक्टर की मंजूरी जरूर लें

अगर आप स्ट्रेंथ ट्रेनिंग को करने की शुरुआत कर रहे हैं और खुद को ज्यादा फिट रखना चाहते हैं तो सबसे पहले जरूरी है कि आप डॉक्टर से मंजूरी जरूर लें। ऐसे में डॉक्टर से मंजूरी लेना इसलिए जरूरी है क्योंकि आपके पास कोई चोट, बीमारी या स्थिति है, या किसी भी दवाइयों पर हैं, तो यह सुनिश्चित करने के लिए अपने चिकित्सक से बात करें कि व्यायाम करना ठीक है। कुछ दवाएं आपके हृदय गति को प्रभावित कर सकती हैं, और यह जानना महत्वपूर्ण है कि आपके वर्कआउट से कैसे संबंधित हो सकते हैं।

वर्कआउट की तैयारी करें

स्ट्रेंथ ट्रेनिंग आपको शुरुआती दौर में थोड़ी मुश्किल जरूर लग सकती है, लेकिन ये आपके स्वास्थ्य के लिए बेहतरीन होती है। इसमें कार्डियो भी शामिल है, जो आपके दिल की दर को बढ़ाकर आपकी कैलोरी को जलाता है और चयापचय को बढ़ाने का काम करता है। इसके साथ ही ये शक्तिशाली वजन घटाने के परिणाम को पैदा कर सकता है। इस कार्यक्रम में शामिल कार्डियो वर्कआउट किसी भी कार्डियो मशीन जैसे, ट्रेडमिल, बाइक या रोइंग मशीन हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें: भारतीयों के कद-काठी के पैमाने (BMI) में बदलाव, अब पुरुषों में 65 और महिलाओं में 55 किलो माना जाएगा आदर्श वजन

स्ट्रेंथ एक्सरसाइज के लिए अपने उपकरण इकट्ठा करें

एक्सरसाइज बॉल्स: अपने शरीर को मजबूत बनाने के साथ आप अपनी एब्स और पीठ को भी एक्सरसाइज बॉल की मसस से मजबूत बना सकते हैं। 

मैट: आपकी एक्सरसाइज के लिए मैट भी काफी जरूरी होते हैं जो आपकी पकड़ बनाने में मदद करते हैं। मोटा मैट पिलेट्स और पेट के व्यायाम के लिए अच्छा माना जाता है क्योंकि वे रीढ़ को कुशन करते हैं और पीठ को दर्द नहीं देते। 

डम्बल: कुछ खास एक्सरसाइज के लिए भारी वजन की जरूरत होती है, जबकि दूसरे को हल्के वजन या किसी की भी जरूरत नहीं होगी। 

Read More Articles on Exercise and Fitness in Hindi

Disclaimer