High Cholesterol Symptoms: कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर दिखते हैं ये 5 लक्षण, इन उपायों से करें कंट्रोल

High Cholesterol Symptoms in Hindi: शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने पर आपको कुछ लक्षण महसूस हो सकते हैं। ये हैं कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Sep 08, 2022Updated at: Sep 11, 2022
High Cholesterol Symptoms: कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर दिखते हैं ये 5 लक्षण, इन उपायों से करें कंट्रोल

High Cholesterol Symptoms in Hindi: कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना एक गंभीर समस्या होती है। जब कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ता है, तो धमनियों में प्लाक का निर्माण होता है। जिसकी वजह से स्ट्रोक और हार्ट अटैक जैसी समस्याएं पैदा होने लगती हैं। बढ़ता कोलेस्ट्रॉल हृदय रोग गंभीर बीमारियों का कारण बन सकता है। आपको बता दें कि कोलेस्ट्रॉल एक फैट जैसा पदार्थ होता है, जिसे आपका लिवर बनाता है। यह कोशिका झिल्ली, विटामिन डी और कुछ हार्मोन के निर्माण के लिए जरूरी है। कोलेस्ट्रॉल पानी में घुलनशील नहीं है, इसलिए यह शरीर में खुद से फ्लो नहीं करता है। कोलेस्ट्रॉल को शरीर में प्रवाह करने के लिए लिपोप्रोटीन मदद करता है। लिपोप्रोटीन रक्तप्रवाह के माध्यम से कोलेस्ट्रॉल को सर्कुलेट करने में मदद करता है। लेकिन कभी-कभी शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ जाता है। इसे एलडीएल के रूप में भी जाना जाता है। एलडीएल का स्तर बढ़ने पर कई तरह की गंभीर समस्याएं जन्म ले सकती हैं। लेकिन शुरुआत में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर कुछ लक्षण नजर आते हैं। आइए, कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर क्या क्या लक्षण दिखाई देते हैं (High Cholesterol ke Lakshan)?, कोलेस्ट्रॉल के लक्षण क्या है? जानते हैं-

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण- High Cholesterol Symptoms in Hindi

वैसो तो हाई कोलेस्ट्रॉल का कोई लक्षण नहीं होता है। लेकिन जब हाई कोलेस्ट्रॉल की वजह से मस्तिष्क या हृदय में रक्त संचार अवरुद्ध होता है, तो शरीर में इसके कुछ लक्षण नजर आ सकते हैं। कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण इस प्रकार हैं-

foot pain

1. सीने में दर्द होना

सीने में दर्द होना कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का लक्षण होता है। जब शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है, तो आपको सीने में दर्द का अहसास हो सकता है। इस स्थिति में आपको सीने का दर्द कुछ समय या दिनों के लिए हो सकता है। सीने का दर्द गंभीर भी हो सकता है। कई बार यह सीने का दर्द हार्ट अटैक का लक्षण भी माना जाता है। इसके अलावा आपको पैरों में भी दर्द महसूस हो सकता है।

इसे भी पढ़ें- हार्ट अटैक कितनी बार आ सकता है?

2. वजन बढ़ना

लगातार बढ़ता वजन भी हाई कोलेस्ट्रॉल का लक्षण होता है। दरअसल, जब मोटापा बढ़ता जाता है, तो कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का खतरा भी अधिक होता है। इसलिए अगर आपका वजन अधिक है, साथ ही आपको सीने में लगातार दर्द भी हो रहा है, तो इन लक्षणों को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। ऐसे में आपको कोलेस्ट्रॉल के स्तर की जांच करवा सकते हैं.

3. अधिक पसीना आना

वैसे तो पसीना आना सामान्य होता है। लेकिन जिन लोगों को बहुत अधिक पसीना आता है, वह किसी-न-किसी समस्या का संकेत होता है। जरूरत से ज्यादा पसीना आना हाई कोलेस्ट्रॉल का लक्षण हो सकता है। इसके साथ ही ब्लड शुगर का स्तर बढ़ने पर भी पसीना अधिक आता है। ऐसे में आपको कोलेस्ट्रॉल के स्तर की जांच करवा लेनी चाहिए।

4. त्वचा के रंग में बदलाव

आप सोच रहे होंगे कि कोलेस्ट्रॉल का असर त्वचा पर भी पड़ता है। तो जी हैं, कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने पर त्वचा के रंग में बदलाव नजर आ सकता है। कोलेस्ट्रॉल का स्तर अधिक होने पर आपको त्वचा पर पीले चकत्ते नजर आ सकते हैं। इसलिए अगर आपको इस तरह का कोई लक्षण दिखाई दे, तो सतर्क हो जाए।

5. क्रैंप्स

पैरों, जांघों, कूल्हों और पंजों पर क्रैंप्स या ऐंठन महसूस होना भी हाई कोलेस्ट्रॉल का लक्षण होता है। इसलिए अगर आपको शरीर के किसी भी हिस्से में तेज दर्द हो, या फिर मांसपेशियों में अकड़न महसूस हो तो इस स्थिति को बिल्कुल भी अनदेखा न करें।

इसे भी पढ़ें- महिलाओं में हृदय रोग के लक्षण: हार्ट की समस्या होने पर दिख सकते हैं ये 8 संकेत

कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के उपाय- How to Control High Cholesterol in Hindi

कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के लिए हेल्दी डाइट लेना बहुत जरूरी होता है। इसके लिए आप तला-भूना और जंक फूड से पूरी तरह से परहेज करें। इसके साथ ही खुद को सक्रिय भी रखें। एक्टिव लाइफस्टाइल अपनाने से आपका हृदय स्वास्थ्य बेहतर हो सकता है।

High Cholesterol Symptoms in Hindi: पसीना आना, सीने में दर्द होना, वजन बढ़ना, क्रैंप्स या ऐंठन होना और त्वचा का रंग पीला पड़ना भी कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लक्षण होते हैं। इसलिए अगर आपको इनमें से कोई भी लक्षण महसूस हो, तो तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट करें।

Disclaimer