Doctor Verified

PCOD: सर्दियों में पीसीओडी वाली महिलाएं अपनाएं ये 5 टिप्स, कंट्रोल रहेंगे लक्षण

PCOD: पीसीओडी के लक्षणों को कंट्रोल करने के ल‍िए सर्दि‍यों में कुछ हेल्‍दी आदतों को रूटीन में शाम‍िल कर सकती हैं। जानें इनके बारे में।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Jan 13, 2023 15:22 IST
PCOD: सर्दियों में पीसीओडी वाली महिलाएं अपनाएं ये 5 टिप्स, कंट्रोल रहेंगे लक्षण

PCOD: पॉलिसिस्टिक ओवरी डिसीज या पीसीओडी म‍ह‍िलाओं में होने वाली बीमारी है। इस बीमारी में शरीर में हार्मोन्‍स असंतुलि‍त हो जाते हैं। साथ ही ओवरी में स‍िस्‍ट बन जाती है। जीवनशैली की गलत आदतें, पीसीओडी का सबसे बड़ा कारण माना जाता है। आज के समय में गलत खानपान, कसरत की कमी, तनाव आद‍ि कारणों से पीसीओडी के लक्षण बढ़ सकते हैं। पीसीओडी के कारण ब्‍लड में इंसुलि‍न का स्‍तर भी बढ़ सकता है। पहले ये बीमारी 30 से 40 वर्ष की मह‍िलाओं में देखने को म‍िलती थी लेक‍िन आज के समय में पीसीओडी से 16-17 साल की लड़क‍ियां भी प्रभाव‍ित हो रही हैं। सर्दि‍यों का मौसम आने के साथ हम अपनी सेहत के प्रत‍ि लापरवाह हो जाते हैं, ऐसे में पीसीओडी के लक्षण बढ़ सकते हैं। पीसीओडी के लक्षणों (PCOD Symptoms) को बढ़ने से रोकने के ल‍िए कुछ आसान ट‍िप्‍स की मदद ले सकते हैं ज‍िनके बारे में हम आगे बात करें। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के झलकारीबाई अस्‍पताल के गाइनोकॉलोज‍िस्‍ट डॉ दीपा शर्मा से बात की। 

diet for PCOD

1. पीसीओडी में लें हेल्‍दी व‍िंटर डाइट    

पीसीओडी के लक्षणों को कंट्रोल करने के ल‍िए डाइट एक खास भूम‍िका न‍िभाती है। अपनी डाइट से शुगर, र‍िफाइंड कॉर्ब्स और प्रोसेस्‍ड फूड्स को हटा दें। डाइट में पालक, ब्रोकली, गाजर, मूली और अन्‍य मौसमी सब्‍ज‍ियों को शाम‍िल करें। इसके अलावा संतरा, सेब, चीकू, अमरूद आद‍ि का सेवन करें। ठंड के द‍िनों में मुट्ठी भर सीड्स और नट्स को म‍िलाकर खाना न भूलें। अपनी डाइट में होल ग्रेन्‍स को भी शाम‍िल करें।

2. सर्दि‍यों में पानी की कमी से बचें 

पीसीओडी के लक्षणों को कंट्रोल करने के ल‍िए पानी का सेवन जरूरी है। पानी का सेवन न करने से शरीर ड‍िहाइड्रेशन का श‍िकार हो जाता है। ड‍िहाइड्रेशन (Dehydration) और पीसीओडी (PCOD) बढ़ने से डायब‍िटीज, हार्ट की बीमारी, हाई कोलेस्‍ट्रॉल और अन्‍य समस्‍याएं बढ़ सकती हैं। पीसीओडी के साथ हेल्‍दी रहने के ल‍िए पानी का ज्‍यादा से ज्‍यादा सेवन करें। पानी के अलावा फलों को डाइट में शाम‍िल करें। फलों में वॉटर कंटेंट ज्‍यादा होता है। इसके अलावा सर्द‍ियों में सब्‍ज‍ियों के ताजे सूप का सेवन भी कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- सर्दियों में चाय-कॉफी नहीं, इन 3 चीजों से करें दिन की शुरुआत, रुजुता दिवेकर से जानें फायदे     

3. सर्द‍ियों में तनाव कम करने के उपाय अपनाएं 

सर्दि‍यों में मौसम के बदलाव के कारण मूड पर भी असर पड़ता है। कई लोग सर्दियों में ज्‍यादा खुश रहते हैं, तो कई लोग इस दौरान तनाव महसूस करते हैं। अगर आपको पीसीओडी है, तो मूड अच्‍छा रखने के ल‍िए व‍िंटर सीजन में मेड‍िटेट करना न भूलें। ध्‍यान करने से पीसीओडी के लक्षणों को काफी हद तक काबू में क‍िया जा सकता है। इसके अलावा पर्याप्‍त मात्रा में पानी का सेवन करें। साथ ही सुबह-सुबह डीप ब्रीद‍िंग एक्‍सरसाइज (Deep Breathing Exercise) करना न भूलें।  

4. पीसीओडी के लक्षणों को कसरत से कम करें 

exercise for pcod

सर्दि‍यों में पीसीओडी के लक्षणों को कंट्रोल करने के ल‍िए कसरत की मदद लें। जरूरी नहीं है क‍ि आप हाई इंटेंस कसरत का सहारा लें। घर पर आरामदायक तरीके से योगा या कसरत करें। कसरत के बजाय समय तय करके वॉक‍िंग भी कर सकती हैं। हर द‍िन 40 से 50 म‍िनट बाहर न‍िकलकर वॉक करें। बाहर जाने से आपको धूप में व‍िटाम‍िन डी भी म‍िलेगी। व‍िटाम‍िन डी की सही मात्रा शरीर में मौजूद होगी, तो तनाव नहीं होगा।           

5. पीसीओडी में हार्मोन्‍स को संतुलि‍त करेगी नींद  

पीसीओडी के लक्षणों (PCOD Symptoms) को कंट्रोल में रखने के ल‍िए सर्द‍ियों में अच्‍छी नींद लें। पीसीओडी में हार्मोन्‍स को संतुलि‍त करने के ल‍िए अच्‍छी नींद की खास अहम‍ियत होती है। जब आप सोती हैं, तो द‍िमाग शांत होता है और तनाव कम होता है। शरीर में सूजन और दर्द भी सोने से कम हो जाता है। पीसीओडी में दर्द को कम करने के ल‍िए भी समय पर सोना एक फायदेमंद कदम हो सकता है। ठंड के मौसम में नींद आसानी से आ जाती है। इसी का लाभ उठाएं और नींद पूरी करें। रात को समय पर सोएं और फोन का इस्‍तेमाल रात को करने से बचें।          

Winter Health Tips with PCOD: सर्द‍ियों के द‍िनों में पीसीओडी के साथ हेल्‍दी रहने के ल‍िए हेल्‍दी डाइट लें, पानी की कमी से बचें, रोजाना कसरत करें, तनाव कम करें और अच्‍छी नींद लें।   

Disclaimer