पहली बार मां बनने वाली महिलाओं को करना पड़ता है इन 3 समस्याओं का सामना, जानें इनसे कैसे निपटें

जो महिलाएं पहली बार मां बनती हैं तो उन्हें डिलीवरी के बाद कुछ सामान्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जानें ऐसी 3 समस्याएं।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: May 11, 2022Updated at: May 11, 2022
पहली बार मां बनने वाली महिलाओं को करना पड़ता है इन 3 समस्याओं का सामना, जानें इनसे कैसे निपटें

जब कोई महिला पहली बार मां बनती है तो वह उसके जीवन का सबसे खास पल होता है। साथ ही एक मां के लिए यह सबसे यादगार समय होता है। लेकिन बच्चे को जन्म देना कोई आसान बात नहीं है। जब बच्चे का जन्म होता है तो मां के लिए जिम्मेदारियां बहुत बढ़ जाती हैं। छोटे बच्चों की बहुत ज्यादा देखभाल करनी पड़ती है और उनके लिए कुछ भी करते समय हर छोटी से छोटी बातों का खास ध्यान रखना पड़ता है। जो महिलाएं पहली बार मां बनती हैं उनके लिए बच्चे की देखभाल करना किसी चुनौती से कम नहीं है, क्योंकि इस दौरान उन्हें भी कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इस लेख में हम पहली बार मां बनने वाली महिलाओं को होने वाली कुछ आम समस्याओं (Common Health Issues New Mothers Face In Hindi) और उनसे निपटने के तरीके के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

पहली बार मां बनने वाली महिलाओ की 3 समस्याएं (Common Health Issues Faced By New Mothers In Hindi)

1. डिलीवरी के बाद हार्मोन्स में बदलाव होता है

बच्चे को जन्म देने के बाद महिलाओं में हार्मोन्स के स्तर उतार-चढ़ाव होना बहुत सामान्य है। ज्यादातर महिलाएं डिलीवरी के हार्मोन्स में बदलाव का अनुभव करती हैं। इस दौरान यह देखा जाता है कि महिलाओं के शरीर में प्रोजेस्टेरोन और एस्ट्रोजेन का स्तर बहुत अधिक बढ़ जाता है। हालांकि, यह डिलीवरी के कुछ समय बाद दिनों बाद सामान्य हो जाता है, लेकिन हार्मोन्स में यह बदलाव महिलाओं में डिप्रेशन जैसी समस्याओं को ट्रिगर कर सकता है। इसको लेकर आपको ज्यादा चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि यह हार्मोन्स के सामान्य होने पर ठीक हो जाता है।

इसे भी पढें: क्‍या प्रेगनेंसी में स‍िट-अप्‍स करना सुरक्ष‍ित है? जानें डॉक्‍टर की राय

2. बच्चे को दूध स्तनपान कैसे कराएं

पहली बार जब कोई महिला मां बनती है तो उसके लिए समझ पाना बहुत मुश्किल होता है कि उसे बच्चे को स्तन पान कैसे कराना चाहिए या किन बातों का ध्यान रखना चाहिए। जन्म के कुछ घंटे बाद ही बच्चे को मां का दूध पिलाना बहुत जरूरी होता है। बच्चे को स्तनपान कराने के लिए सही तरीके के बारे में जानने के लिए आप डॉक्टर से मदद ले सकती हैं, साथ ही इसमें मदद करने के लिए आप अपने परिवार के सदस्यों से भी मदद ले सकती हैं।

3. नींद पूरी नहीं होती

जब शिशु छोटा होता है तो वह रात में अक्सर जागता है और मां को सोने नहीं देता है। वे रात में भूखे होने रोना भी शुरू कर देते हैं। ऐसे में बच्चे की देखभाल के लिए मां को रात में कई बार जागना पड़ता है, जिससे कि वे शिशु को किसी भी तरह की परेशानी न होने दे। लेकिन इस कोशिश में उनकी खुद की रातों की नींद उड़ जाती है। पहली बार मां बनने वाली महिलाओं के लिए रात के दौरान बच्चे को संभालने में थोड़ा दिक्कतें आती हैं। जिसकी वजह से कई बार उनका व्यवहार चिड़चिड़ा भी हो जाता है। आप अपनी नींद पूरी करने और बच्चे की देखभाल के लिए अपने पति और परिवार की मदद ले सकते हैं, और बारी-बारी बच्चे की देखभाल कर सकते हैं। जिससे आपको सोने के लिए पर्याप्त समय मिल सके।

इसे भी पढें: प्रेग्नेंसी के दौरान नाभि में क्यों होती है खुजली? ऐसे करें बचाव

इन बातों का रखें खास ध्यान

पहली बार मां बनने वाली महिलाओं के लिए इस तरह की समस्याएं होना बहुत सामान्य है। लेकिन आपको इनको लेकर चिंतित होने या घबराने की जरूरत नहीं है। क्योंकि इससे आपके स्वास्थ्य प्रभावित हो सकती है जो आपके बच्चे के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है। इसलिए घबराएं नहीं, और किसी भी स्थिति में अपने डॉक्टर या परिवार से मदद लेने में न हिचकिचाएं।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer