सुबह ही नहीं रात में जॉगिंग करना भी है आपके लिए बहुत फायदेमंद, जानें इससे मिलने वाले 6 फायदे

सुबह जोगिंग करने के फायदे से तो आप परिचित होंगे। पर अगर आप जॉगिंग करने के समय को लेकर कंफ्यूज हैं। तो रात में जॉगिंग करने के फायदे के बारे में जानें। 

Monika Agarwal
एक्सरसाइज और फिटनेसWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jul 25, 2021Updated at: Jul 25, 2021
 सुबह ही नहीं रात में जॉगिंग करना भी है आपके लिए बहुत फायदेमंद, जानें इससे मिलने वाले 6 फायदे

जॉगिंग (Jogging benefits) करने के बहुत से लाभ हैं। यह आपके वजन को कम करने में सहायक है। साथ ही यह आपके इम्यून सिस्टम( Immune system) को भी मजबूत करती है। अगर आपकी उम्र 30 साल से ऊपर हो गई है तो आपको जॉगिंग करना शुरू कर देना चाहिए। कुछ लोग अपनी दिन की शुरुआत ही जॉगिंग से करते हैं और वह ताजी हवा में जॉगिंग का आनंद उठाना पसंद करते हैं तो कुछ लोग रात में जॉगिंग करते हैं। क्या इन दोनों के बीच में कोई अंतर है? इन दोनों के बीच केवल समय का अंतर है बाकी सभी स्वास्थ्य लाभ दोनों के एक जैसे ही हैं। असल में कुछ लोगों के लिए सुबह जल्दी उठकर जोगिंग के लिए जाना, नाश्ता बनाना या खाना थोड़ा मुश्किल लगता है। ऐसे में अगर वह शाम का समय चुनते हैं तो इन सब परेशानियों से बच सकते हैं। साथ ही कुछ रिसर्च के अनुसार सुबह के मुकाबले वे शाम को ज्यादा एनर्जेटिक होते हैं। तो आज हम रात में जॉगिंग (Jogging At night) करने के निम्न स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानेंगे। 

inside1nightJogging

रात में जॉगिंग के फायदे -Health benefits of jogging at night

1. स्ट्रेस को कम करता है (Reduce Stress)

हम पूरा दिन काम करते हैं और इसी बीच हमें बहुत सी काम से संबंधित चिंता या परेशानी होने लगती हैं जिससे आपको स्ट्रेस का सामना करना पड़ता है। अगर आप रात में थोड़ी देर जॉगिंग (Jogging At night) कर लेते हैं तो आपके शरीर से एंडोर्फिन नामक हार्मोन रिलीज होते हैं। जो आपके स्ट्रेस को कम करने में बहुत सहायक होते है। इसके द्वारा आप रिलैक्स महसूस करेंगे और आपका मूड भी अच्छा रहेगा।

2. आपको अच्छी नींद आती है (Good Sleep)

जब आप रात में सोते हैं तो आपको अगले दिन की या जो आपने पूरा दिन किया उसकी चिंता सताने लगती है। जिसके कारण आपको अच्छी नींद भी नहीं आ पाती। इसलिए अगर आप जॉगिंग करते हैं तो आप थोड़े थक जाते हैं। जिस कारण आपको रात में बहुत अच्छी नींद आती है और आप रात में बहुत कम बार उठते हैं। इससे आपका अगला दिन भी बहुत खुशगवार रहता है।

इसे भी पढ़ें : रोज साइकिलिंग करते हैं तो जरूर करें ये 4 स्ट्रेच एक्सरसाइज, दूर होगी शरीर में अकड़न और दर्द की समस्या

3. गर्मी न लगना (Cooler Weather In The Evening)

अगर आप दिन के समय जॉगिंग करते हैं तो कुछ तो जॉगिंग करने से आपके शरीर से पसीना और हीट निकलती है और कुछ सूर्य के कारण आपको और अधिक गर्मी लगती है जो आपको बहुत परेशान कर सकती है। लेकिन अगर आप रात के समय जॉगिंग करते हैं तो रात में आपको सूर्य की गर्मी की चिंता करने की जरूरत नहीं है और आपको कम गर्मी लगेगी। जिस कारण आप आसानी से जॉगिंग कर सकेंगे और थकेंगे भी कम।

inside1nextbetterday

4. अधिक समय मिल पाना (Less Morning Rush)

अगर आप सुबह सुबह जॉगिंग करते हैं तो आप जॉगिंग को उतना समय नहीं दे पाते। क्योंकि आपके पास ऑफिस जाना, खाना तैयार करना आदि बहुत से काम होंगे। जिनके कारण आपको ज्यादा समय नहीं मिल पता होगा। लेकिन अगर आप सुबह की बजाए रात में जॉगिंग करते हैं तो आपके पास बहुत सारा समय होता है और आपको किसी चीज की जल्दी भी नहीं होती है। इसलिए रात में सारे काम निपटा के जॉगिंग करें।

इसे भी पढ़ें : कठोर मांसपेशियों को आराम देने के लिए अपनाएं ये 4 टिप्स

5. भरपूर एनर्जी मिलन (You Have More Fuel)

बहुत से लोग जो सुबह के समय जॉगिंग या वर्क आउट करते हैं वह ब्रेकफास्ट या कुछ भी खाने से पहले ही करते हैं और उनके अंदर इतनी एनर्जी नहीं बची होती इसलिए वह बहुत जल्दी ही थक जाते हैं। लेकिन अगर आप रात में जॉगिंग करते हैं तो आपने तीन समय का खाना तो कम से कम खाया होता है और आपके अंदर भी भरपूर एनर्जी बची होती है। जिसे आप वर्कआउट या जॉगिंग के समय प्रयोग कर सकते हैं और रात के खाने को पचा भी सकते हैं।

6. अगले दिन के लिए अधिक पावर महसूस होना (Gives More Energy)

अगर आप रात में जॉगिंग करते हैं तो आप स्ट्रेस से भी राहत पा रहे होते हैं। आपको अगले दिन जल्दी उठ कर वर्कआउट करने की भी चिंता नहीं होती है।आप रात में भी अच्छी नींद ले पाते हैं। जिस कारण आप सुबह एक अच्छे मूड के साथ उठते हैं और आप अपने आप में ही संतुष्ट रहते हैं। इसलिए रात में जॉगिंग जरूर करनी चाहिए।

अगर आपके पास सुबह जल्दी उठने का समय नहीं है या फिर बहुत काम हैं तो आप रात में जॉगिंग कर सकते हैं।

Read more articles on Exercise and Fitness in Hindi

Disclaimer