Expert

पान के पत्तों का काढ़ा पीने से मिलते हैं ये 6 जबरदस्त फायदे

Betel Leaves Kadha Benefits: पान की पत्तियों का काढ़ा पीने से कई गंभीर रोगों के जोखिम को कम करने में मदद मिलती है, जानें इसके 6 फायदे।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Aug 29, 2022Updated at: Aug 30, 2022
पान के पत्तों का काढ़ा पीने से मिलते हैं ये 6 जबरदस्त फायदे

Betel Leaves Kadha Benefits In Hindi: पान के पत्ते चबाना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं सिर्फ पान के पत्ते ही नहीं, अगर आप पान के पत्तों का काढ़ा बनाकर सेवन करते हैं, तो यह कई गंभीर रोगों को आपसे दूर रखने में मदद करता है। क्लीनिकल न्यूट्रिशनिस्ट और डायटीशियन गरिमा गोयल के अनुसार पान के पत्तों में कई औषधीय गुण होते हैं, साथ ही इनमें एल्केलाइड, फिनाइल,  प्रोपेन और टैनिन जैसे यौगिक होते हैं। साथ ही इनका स्वाद कसैला होता है। सेहत के लिहाज से पान के पत्तियों का काढ़े का सेवन बहुत फायदेमंद है। यह शरीर में सूजन को कम करने और दर्द से छुटकारा दिलाने के साथ ही कई अन्य लाभ भी प्रदान करता है। इस लेख में हम आपको पान के पत्ते का काढ़ा (paan ke patte ka kadha) पीने के 6 फायदे बता रहे हैं।

पान के पत्तों का काढ़ा पीने के फायदे- betel leaves kadha pine ke fayde

1. ब्लड शुगर कंट्रोल में लाभकारी है

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर पान के पत्ते फ्री रेडिकल्स से लड़ने और ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने में मदद करते हैं। जिससे यह ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के साथ ही डायबिटीज मेलेटस को मैनेज करने में भी मदद करते हैं।

Betel Leaves Kadha Benefits in Hindi

2. कोलेस्ट्रॉल कम करने में मददगार है

पान की पत्तियों में यूजेनॉल हाई लिपिड लेवल को कम करने में मदद करते हैं, जिससे यह खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ावा देने में मदद करता है। इस तरह यह हार्ट अटैक और स्ट्रोक जैसे रोगों के जोखिम को कम करने में भी लाभकारी है।

इसे भी पढ़ें: पीरियड्स के बाद होती है योनि में खुजली? ये 5 घरेलू उपाय दिलाएंगे छुटकारा

3. सांस संबंधी समस्याओं में लाभकारी है

सांस संबंधी जैसी समस्याएं जैसे अस्थमा सूजन से जुड़ी स्थितियां हैं। पान के पत्तों में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण सूजन से लड़ने और अस्थमा को मैनेज करने में मदद करते हैं। यह सांस के मार्ग की सूजन को करने  और खोलने में भी मदद करती हैं जिससे सांस लेने में आसानी होती है।

4. मानसिक रोगों को दूर करता है

तनाव, चिंता और अवसाद जैसे रोगों से राहत प्रदान करने में पान के पत्तों का काढ़ा बहुत लाभकारी है। पान के पत्तों का काढ़ा पीने से भलाई, खुशी की भावना को बढ़ावा मिलता है। यह शरीर में कैटेकोल माइन को रिलीज करने में भी लाभकारी है, जिसका कम स्तर अवसाद जैसी स्थितियों का कारण बनता है।

5. पेट के लिए फायदेमंद है

पेट से जुड़ी समस्याओं को दूर करने और पाचन को मजबूत बनाने में भी पान के पत्तों का कढ़ा बहुत लाभकारी है। यह गैस्ट्रिक अल्सर को ठीक करने में भी मदद करता है। साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण टॉक्सिन्स से लड़ने में मदद करते हैं।

6. मुंह को स्वस्थ रखता है

सांसों से दुर्गंध, दांतों में कैविटी, मसूड़ों से खून या सूजन की समस्या में पान के पत्तों के काढ़े से कुल्ला करने से बहुत लाभ मिलता है। यह सूजन को कम करता है और मुंह में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को मारता है। यह आपके दांतों और मसूड़ों को मजबूत बनाता है।

इसे भी पढ़ें: तेजी से वजन बढ़ाने में मदद करेंगे ये 5 आयुर्वेदिक उपाय, रोजाना करें फॉलो

पान पत्ते का काढ़ा कैसे बनाएं- How To Make Betel Leaves Kadha

पान के पत्तों का काढ़ा बनाने के लिए आपको एक बर्तन में पानी और 4-5 पान के पत्ते डालकर अच्छी तरह उबालना है, जब तक कि पानी आधा न रह जाए। इसके आप चाहें तो इसमें तुलसी की पत्तियां, दालचीनी आदि भी डाल सकते हैं। इसके हल्का ठंडा कर लें और नींबू, शहद मिलाकर सेवन करें।

All Image Source: Freepik.com

(With Inputs: Dietitian Garima Goyal, MS, RD, CDE, Founder- Dt. Garima Diet Clinic , Ludhiana, Punjab)

Disclaimer