Expert

आयुर्वेद के अनुसार रात के खाने (डिनर) में नहीं खानी चाहिए ये 5 चीजें, सेहत को होता है नुकसान

Foods To Avoid In Dinner: रात के खाने या डिनर में कुछ फूड्स का सेवन करने से सेहत को नुकसान पहुंच सकता है, जानें डिनर में क्या नहीं खाना चाहिए।

 

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Jun 15, 2022Updated at: Jun 15, 2022
आयुर्वेद के अनुसार रात के खाने (डिनर) में नहीं खानी चाहिए ये 5 चीजें, सेहत को होता है नुकसान

रात के खाने (डिनर) के दौरान अपने खानपान को लेकर काफी सावधानी बरतने की जरूरत होती है। आयुर्वेद के अनुसार रात को खाने के दौरान कुछ गलत फूड्स का सेवन न सिर्फ वजन बढ़ाने में योगदान दे सकता है, बल्कि पाचन तंत्र और मेटाबॉलिज्म को भी प्रभावित कर सकता है। आपको या तो रात को खाने से बचना चाहिए या बहुत हल्का भोजन करना चाहिए। क्योंकि रात के दौरान आपकी पाचन अग्नि कमजोर हो जाती है, और पाचन क्रिया भी धीमी हो जाती है। डिनर में आप जो कुछ भी खाते हैं उसे पचाने में आपके पाचन तंत्र को काफी मेहनत करनी पड़ती है। साथ ही भोजन ठीक से पच भी नहीं पाता है, जो सिर्फ वजन बढ़ाने में योगदान देता है।

आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. रेखा राधामोनी (BAMS Ayurveda) की मानें तो रात के खाने के दौरान फूड्स का चुनाव बहुत सोच समझकर करना चाहिए, क्योंकि यह आपकी सेहत को प्रभावित कर सकता है। ऐसे कई फूड्स हैं जिनका आपको डिनर में सेवन नहीं करना चाहिए। इस लेख में हम ऐसे 5 फूड्स के बारे में जानेंगे जिनका सेवन आपको रात के खाने या डिनर में करने से बचना चाहिए (Foods To Avoid In Dinner As Per Ayurveda In Hindi)।

आयुर्वेद के अनुसार रात के खाने (डिनर) में नहीं खाने चाहिए ये 5 फूड्स (Foods To Avoid In Dinner As Per Ayurveda In Hindi)

1. गेहूं से बनी चीजें

रात के दौरान गेहूं के आटे से बनी चीजें खाने से पेट संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि गेहूं पचने में भारी होते हैं और इन्हें पचाने में बहुत समय लगता है। साथ ही रात के दौरान हमारी पाचन अग्नि भी कमजोर होती है, जिससे भोजन ठीक से पच नहीं पच पाता है। यह शरीर में अमा (विषाक्तता) को बढ़ावा देता है और पेट संबंधी समस्याओं का कारण बनता है। इसलिए रात को हल्का भोजन करें और रोटी ज्यादा न खाएं।

Foods To Avoid In Dinner

2. दही

वैसे तो दही का सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह पाचन को मजबूत बनाने के साथ ही इम्यूनिटी को भी मजबूत बनाता है। लेकिन दही का सेवन दोपहर के दौरान करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि दही पचने में भारी होती है और दोपहर के दौरान आपकी पाचन अग्नि अपने चरम पर होती है। दही की तासीर ठंडी होती है, रात के समय दही का सेवन करने से यह शरीर में पित्त और कफ को बढ़ाता है। हालांकि आप छाछ का सेवन कर सकते हैं।

इसे भी पढें: लूज मोशन होने पर इस तरह करें चावल का सेवन, मजबूत होगा पाचन और दूर होगी दस्त की समस्या

3. मैदा से बनी चीजें

मैदा का सेवन सेहत के लिए नुकसानदायक माना जाता है। इ इसे पचाने के लिए पाचन तंत्र को बहुत मशक्कत करनी पड़ती है। साथ ही इसमें पोषक तत्व भी बहुत कम होते हैं। यह आपके पाचन को खराब करने के साथ ही वजन बढ़ाने में योगदान देता है। मैदा से बनी चीजों को दिन के समय ही पचा पाना बहुत मुश्किल होता है। रात को भोजन के दौरान मैदा का सेवन, जिस दौरान आपका पाचन तंत्र पहले ही धीमा गति से काम कर रहा है पेट संबंधी समस्याओं का कारण बन सकता है।

Foods To Avoid In Dinner

4. मीठे फूड्स

भोजन के बाद कुछ मीठा खाने की इच्छा तो हम सभी को होती है। दिन के दौरान भोजन के बाद मीठा खाने से सेहत को नुकसान नहीं पहुंचता है। लेकिन मीठे फूड्स पचने में भारी होते हैं। इसलिए रात को भोजन के बाद कुछ मीठा खाने से पाचन खराब होता है साथ ही यह बलगम को भी बढ़ाता है। इसलिए रात को मीठा खाने से बचें। केक, चॉकलेट आदि का सेवन भी न करें।

इसे भी पढें: पेट फूलने (ब्लोटिंग) की समस्या हो तो खाएं ये 5 फूड्स, जल्द मिलेगा आराम

5. कच्चा सलाद

कच्चा सलाद आपके पाचन को मजबूत बनाने के लिए एक बेहतरीन फूड है। कच्ची सब्जियों में फाइबर अच्छी मात्रा में मौजूद होता है, जिससे यह आपके पाचन को बेहतर बनाने में मदद करता है। लेकिन कच्ची सब्जियों का सेवन भी दिन के समय करना ही फायदेमंद माना जाता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि कच्ची सब्जियां प्रकृति में ठंडी और ड्राई होती है। साथ ही यह वात दोष को बढ़ावा दती हैं। आप रात के भोजन के दौरान पकी हुई या हल्की भुनी हुई सब्जियों या सलाद का सेवन कर सकते हैं।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer