Expert

मुंहासे ज्यादा होते हैं तो कम कर दें इन 3 फूड्स का सेवन, बढ़ा सकते हैं आपकी समस्या

Foods to avoid in Acne: मुंहासे होने पर कुछ फूड्स का सेवन करने से आपकी समस्या बढ़ सकती है, जानें मुंहासे होने पर किन फूड्स को खाने से बचना चाहिए।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Apr 04, 2022Updated at: Apr 04, 2022
मुंहासे ज्यादा होते हैं तो कम कर दें इन 3 फूड्स का सेवन, बढ़ा सकते हैं आपकी समस्या

त्वचा पर मुंहासे (Acne) होना एक बेहद आम समस्या है। हम में ज्यादातर लोगों ने कभी न कभी त्वचा पर मुंहासों की समस्या का सामना जरूर किया है। त्वचा पर मुंहासों के लिए कई कारण (Acne Causes In Hindi) जिम्मेदार हो सकते हैं जैसे त्वचा पर सीबम और केराटिन का उत्पादन, मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया, हार्मोन, बंद रोम छिद्र और सूजन। लेकिन क्या आप जानते हैं आपके द्वारा खाए जाने वाले कुछ फूड्स भी मुंहासों को ट्रिगर (Foods That Can Cause Acne In Hindi) कर सकते हैं और त्वचा पर पहले से मौजूद एक्ने और पिंपल्स को बढ़ाते हैं, खासकर पीसीओएस (PCOS) वाले मुंहासों की स्थिति में। 

बोर्ड स्किनकेयर एक्सपर्ट और बोर्ड सर्टिफाइड डर्मेटोलॉजिस्ट डॉ. जयश्री शरद बताती हैं कि मुंहासे में आपकी डाइट (Diet In Acne In Hindi) एक अहम भूमिका निभाती है। आप जो कुछ भी खाते हैं वह आपके मुंहासों को सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह से प्रभावित करता है। इस लेख में हम ऐसे 3 फूड्स के बारे में जानेंगे जिनका सेवन आपको मुंहासे होने पर नहीं करना चाहिए (Foods To Avoid In Acne In Hindi)।

मुंहासे होने पर क्या नहीं खाना चाहिए (Foods To Avoid In Acne In Hindi)

1. चीनी वाले फूड्स (Sugary Foods)

डॉ. जयश्री शरद बताती हैं कि जब आपको मुंहासे होते हैं तो आपको किसी भी रूप में चीनी के सेवन से बचना चाहिए (Why Shoul Avoid Sugar In Acne In Hindi), क्योंकि चीनी शरीर में "आईजीएफ 1 (IGF1)'' नामक हार्मोन को बढ़ाती है जो मुहांसों को बढ़ाता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार चीनी मुंहासे के दो प्रमुख कारणों को ट्रिगर करती है पहला हार्मोन और दूसरा सूजन। चीनी का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल में तेजी से वृद्धि होती है और आपका अग्न्याशय इंसुलिन जारी करता है। चीनी के सेवन को सीमित करने या अपनी डाइट से चीनी युक्त खाद्य पदार्थों को बाहर निकालने से इंसुलिन की मात्रा को कम करने में मदद मिल सकती है, जिसके कारण आपकी त्वचा पर अतिरिक्त तेल और मुंहासों का उत्पादन होता है।

इसे भी पढें: सिंपल आई मेकअप कैसे करें: जानें 5 टिप्स जो आपकी आखों को देंगें फेशनेबल और ट्रेंडी लुक

2. दूध से बने उत्पाद या डेयरी प्रोडक्ट्स (Dairy Products)

डॉ. जयश्री के अनुसार दूध से बने उत्पाद (Dairy Products In Hindi) या सिर्फ दूध भी हार्मोन के स्तर में बदलाव का कारण (Hormone Imbalance Causes In Hindi) बन सकता है और त्वचा पर मुंहासों का कारण (Acne Causes In Hindi) बन सकता है। जब आप दूध या दूध से बने उत्पादों का सेवन करते हैं तो यह हार्मोन्स असंतुलन को बढ़ावा दे सकता है, जिससे त्वचा पर मुंहासे हो सकते हैं। हालांकि, सभी डेयरी प्रोडक्ट्स मुंहासों समान रूप से प्रभावित नहीं करते हैं। एक्सपर्ट्स के अनुसार स्किम मिल्क से बने उत्पाद ज्यादा मुंहासों को ट्रिगर (Foods That Can Trigger Acne In Hindi) करते हैं।

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Jaishree Sharad (@drjaishreesharad)

3. हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले फूड्स (High Glycemic Index Foods)

डॉ. जयश्री के अनुसार मुंहासे होने पर हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले फूड्स से बचना चाहिए। हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स जैसे- व्हाइट ब्रेड, कॉर्न फ्लेक्स, पफ्ड व्हीट सीरियल (Puffed Wheat Cereal), आलू, शकरकंद, तरबूज, अनानास, केक, कुकीज, मिठाई, पैकेज्ड ब्रेकफास्ट सीरियल्स सभी शरीर में IGF1 हार्मोन के स्तर को बढ़ाते हैं, जो मुंहासों का कारण बनता है। जब आप हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले फूड्स का सेवन करते हैं तो ब्लड शुगर में वृद्धि होती है। वहीं कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले फूड्स धीरे-घीरे पचते और अवशोषित होते हैं।

इसे भी पढें: आपके होठों को काला बना सकती हैं ये 5 गलत आदतें, नर्म-गुलाबी होंठ चाहिए तो रखें इनका ध्यान

एक्सपर्ट क्या सलाह देते हैं

डॉ. जयश्री सलाह देती हैं कि पीसीओएस (PCOS), बढ़ा हुआ प्रोलैक्टिन, इंसुलिन रेजिस्टेंस और हाइपोथायरायडिज्म जैसी हार्मोनल स्थितियों वाले लोगों को उपरोक्त सभी फूड्स से सख्ती से बचना चाहिए।साथ ही अपनी त्वचा को हाइड्रेट रखने के लिए एक व्यक्ति को दिन में कम से कम 1.5 से 2 लीटर पानी पीना जरूर पीना चाहिए।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer