Doctor Verified

रोज सुबह 5 म‍िनट के योगासन रूटीन से करें द‍िन की शुरूआत, पूरे द‍िन रहेगी सकारात्‍मक ऊर्जा

आप अपने द‍िन को पॉज‍िट‍िव और एनर्जी से भरना चाहते हैं तो रोजाना उठकर ये स‍िंंपल 5 म‍िनट का योगा रूटीन फॉलो करें  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jun 09, 2022Updated at: Jun 09, 2022
रोज सुबह 5 म‍िनट के योगासन रूटीन से करें द‍िन की शुरूआत, पूरे द‍िन रहेगी सकारात्‍मक ऊर्जा

कभी-कभी ऐसा होता है क‍ि हम सुबह उठते तो हैं पर काम करने के ल‍िए मोटि‍वेशन कम होता है या बॉडी को एनर्जी नहीं म‍िल पाती, अगर आपके साथ भी ऐसी समस्‍या है तो आप रोजाना 5 म‍िनट का योगा रूटीन फॉलो कर सकते हैं। इसे कोई भी कर सकता है। इसमें 5 तरह के योगासन शाम‍िल हैं जैसे बालासन, अधोमुख श्वानासन, ऊर्ध्व मुख श्वानासन, अंजनेयासन, पद्मासन। इन योगासन को करने से आपके शरीर में एनर्जी आएगी और आपके शरीर का ब्‍लड फ्लो बेहतर होगा। इस रूटीन को करने से शरीर और ब्रेन में ऑक्‍सीजन का फ्लो भी अच्‍छा होगा। इन योगासन को करने से आप बैक को अच्‍छी तरह से स्‍ट्रेच कर पाएंगे और बॉडी और माइंड की टेंशन कम होगी। इस लेख में हम जानेंगे क‍ि आपको 5 म‍िनट के रूटीन में क‍िन 5 योगासन को फॉलो करना चाह‍िए, प्रत्‍येक योगा को एक-एक म‍िनट दें। जून माह में हम योगा के प्रत‍ि लोगों को जागरूक करेंगे और omh की खास पहल focus of the month में आप इस लेख के जरिए जानेंगे सुबह पॉज‍िट‍िव और एनर्जेट‍िक रहने के ल‍िए 5 म‍िनट का योगा रूटीन। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के रवींद्र योगा क्लीनिक के योगा एक्सपर्ट डॉ रवींद्र कुमार श्रीवास्तव से बात की। 

yoga routine in morning  

1. बालासन (Child Pose)

  • बालासन को करने के स्‍टेप्‍स में आप सबसे पहले घुटनों के बल बैठ जाएं।
  • टखने और एड़‍ियों को आपस में छुएं। 
  • घुटनों को बाहर की तरफ फैलाएं।
  • गहरी सांस खींचकर आप आगे की ओर झुकें।  
  • पेट के दोनों जांघों के बीच ले जाएं और सांस छोड़ें।
  • कमर के पीछे के ह‍िस्‍से को चौड़ा करें।
  • कूल्‍हे को स‍िकोड़ते हुए नाभ‍ि की तरफ खींचने की कोश‍िश करें।
  • स‍िर को गर्दन के थोड़ा पीछे से उठाने की कोश‍िश करें।  
  • दोनों कंधों को फर्श से छुआने की कोश‍िश करें।
  • आपको 30 सेकेंड से लेकर कुछ म‍िनट तक इसी स्‍थ‍ित‍ि में रहना है। 
  • फ‍िर आपको सामान्‍य अवस्‍था में आ जाना है।

इसे भी पढ़ें- ग्रीन टी या ब्लैक कॉफी, सुबह योग करने से पहले क्या पीना है सही? योग गुरु से जानें

2. अधोमुख श्वानासन (Downward Facing Dog Pose)

  • आपको योगा मैट पर पेट के बल लेटना है फ‍िर सांस को अंदर खींचते हुए पैर और हाथ के बल शरीर को उठाना है।
  • सांस को बाहर न‍िकालते हुए ह‍िप्‍स को ऊपर की ओर उठाना है।
  • कोहनी और घुटने को सख्‍त बनाकर रखें ताक‍ि शरीर उल्‍टे वी के आकार में आ जाए।
  • इस आसन से कंधे और हाथ को एक सीध में रखें।   
  • हाथों को नीचे जमीन की तरफ से दबाएं और गर्दन को लंबा खींचने की कोश‍िश करें।
  • कान आपके हाथों के पास वाले ह‍िस्‍से को छूए और नाभ‍ि पर ध्‍यान केंद्रि‍त करने का प्रयास करें।  
  • इस स्‍थि‍त‍ि में आप कुछ सेकेंड्स के ल‍िए रुकें फ‍िर पहले वाली अवस्‍था में आ जाएं।   

3. ऊर्ध्व मुख श्वानासन (Upward Facing Dog Pose)

  • आप पेट के बल लेट जाएं।
  • पैर के शीर्ष जमीन को छूने चाह‍िए।
  • बाजुओं को शरीर की सीध में रखें, फ‍िर बाजुओं को कोहनी के पास से मोड़ें।   
  • सांस लेते हुए हथेल‍ियों को जमीन पर रखकर दबाने का प्रयास करें, फ‍िर घुटने, कूल्‍हे और धड़ को ऊपर उठाएं।  
  • सामने देखें और स‍िर को पीछे झुकाएं।
  • आपको ध्‍यान रखना है क‍ि गर्दन पर कोई दबाव न हो।  
  • इसी मुद्रा में रहें और सांस लेते रहें।

4. अंजनेयासन (Low Lunge or Anjaneyasana)

  • सबसे पहले आप योगा मैट पर वज्रासन की मुद्रा में बैठ जाएं।
  • इसके बाद अपने बाएं पैर को पीछे की तरफ ले जाएं और दाहिने पर के तलवे को जमीन पर रखें।
  • अब अपने दोनों हाथों को सिर के ऊपर से ले जाकर आपस में जोड़ लें।
  • इसके बाद आप धीरे-धीरे पीछे की तरफ झुकने की कोशिश करें।
  • इस दौरान अपने हाथों को जितना संभव हो सकते पीछे की तरफ ले जाएं।
  • 20 से 30 सेकंड तक इसी पोजीशन में रहें।
  • इसके बाद आप सामान्य स्थिति में आ जाएं।
  • शुरुआत में इस आसन का अभ्यास करते समय 4 से 5 बार इसका अभ्यास करें।

5. पद्मासन (Lotus Pose or Padmasana)

  • लोटस पोज करने के ल‍िए आप योग मैट पर सीधे बैठ जाएं।
  • फ‍िर रीढ़ की हड्डी को सीधी रखें और टांग को फैलाकर रखें।
  • दाएं घुटने को मोड़कर बाईं जांघ पर रखें।
  • एड़ी पेट के न‍िचले ह‍िस्‍से को छूनी चाह‍िए।
  • दूसरे पैर को भी पेट तक लेकर जाना है।
  • पैर को क्रॉस करने के बाद हाथों को अपनी पसंद की मुद्रा में रखें। 
  • स‍िर और रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें। 
  • गहरी सांस लेते रहें, इसी आसन को दूसरे पैर को ऊपर रखकर प्रैक्‍ट‍िस करें।

इस रूटीन को आप अपनी द‍िनचर्या में शाम‍िल करें आपको कुछ ही समय में शरीर में बदलाव नजर आएगा।  

Disclaimer