Doctor Verified

गलत ढंग से सोने के कारण हो रहा है गर्दन में दर्द? ट्राई करें ये 3 योगासन

अगर आपको गलत ढंग से सोने के कारण गर्दन में दर्द हो रहा है तो आप इस लेख में बताए 3 योगासन को अपना सकते हैं 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jun 08, 2022Updated at: Jun 08, 2022
गलत ढंग से सोने के कारण हो रहा है गर्दन में दर्द? ट्राई करें ये 3 योगासन

गलत ढंग से सोने के कारण आपकी गर्दन में दर्द हो सकता है। कई बार हम एक ही करवट सो जाते हैं या गर्दन में स्‍ट‍िफनेस महसूस होने के कारण भी गर्दन में दर्द की समस्‍या हो सकती है। गर्दन का दर्द दूर करने के ल‍िए आप 3 आसान योगासन को ट्राय कर सकते हैं। इस लेख में हम 3 आसान योगासन के बारे में बात करेंगे ज‍िन्‍हें अपनाकर आप गर्दन के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के रवींद्र योगा क्लीनिक के योगा एक्सपर्ट डॉ रवींद्र कुमार श्रीवास्तव से बात की।

fish pose in hindi

1. अर्ध मत्स्येन्द्रासन (Ardha Matsyendrasana) 

अर्ध मत्स्येन्द्रासन को हाफ फ‍िश पोज के नाम से भी जाना जाता है। आप शरीर को लचीलापन बनाने के ल‍िए इस पोज को ट्राय कर सकते हैं इसके अलावा गर्दन का दर्द दूर करने के ल‍िए भी ये योगासन फायदेमंद माना जाता है। आप इस योगासन को रोजाना करेंगे तो कूल्‍हे और रीढ़ की हड्डी को भी फ्लेक्‍स‍िबल बना सकते हैं। शरीर को एनर्जी देने और कंधे व गर्दन के ल‍िए ये योगासन फायदेमंद माना जाता है। आप प्रैक्‍ट‍िस करके कुछ द‍िनों में इस योगा को करने से पर्फेक्‍ट तरीका सीख जाएंगे।               

योगासन करने का तरीका: 

  • अर्ध मत्स्येन्द्रासन को करने के ल‍िए आप दंडासन के पोज में बैठ जाएं।
  • फ‍िर हाथों स जमीन को प्रेस करें और सांस को अंदर लेते हुए रीढ़ की हड्डी को लंबा करें।  
  • अब आप बाएं पैर को मोड़ें और दाएं घुटने को ऊपर से बाएं पैर को जमीन पर रखें।
  • फ‍िर दाएं पैर को मोड़ें और पैर को बाएं न‍ितंब के पास जमीन पर रखें।
  • अब आप बाएं पैर के ऊपर से दाह‍िने हाथ को लेकर जाएं।
  • बाएं पैर के अंगूठे को पकड़ें।
  • सांस को छोड़ते हुए आपको धड़ को मोड़ना है।
  • गर्दन को मोड़ें ताक‍ि बाएं कंधे पर फोकस क‍िया जा सके।
  • फ‍िर बाएं हाथ को जमीन पर ट‍िकाकर आप सांस लें।
  • फ‍िर 30 से 60 सेकेंड के ल‍िए इसी मुद्रा में रहें।   
  • फ‍िर सारे स्‍टेप्‍स को आप दूसरी साइड से भी र‍िपीट करें।

इसे भी पढ़ें- गर्दन का कालापन दूर करने के लिए इन 5 तरीकों से इस्तेमाल करें दही, डार्क नेक से मिलेगा छुटकारा

2. उत्तानासन (Uttanasana) 

उत्तानासन को हम स्‍टैंड‍िंग फॉरवर्ड फोल्‍ड के नाम से भी जानते हैं। गर्दन में दर्द की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए ये पोज फायदेमंद होता है। आप इस पोज 15 से 30 सेकेंड के ल‍िए ट्राय कर सकते हैं। इस आसन को करने के ल‍िए स‍िर को घुटनों के पास लेकर जाना होता है ज‍िससे गर्दन की मांसपेश‍ियों पर जोर पड़ता है और फ्लेक्‍सि‍ब‍िल‍िटी बढ़ती है।

योगासन करने का तरीका:      

  • उत्तानासन को करने के ल‍िए आप सीधे खड़े हो जाएं और दोनों हाथ को ह‍िप्‍स के पास रखें।
  • सांस को अंदर लेते हुए कमर को मोड़कर आगे की तरफ झुकाएं।
  • शरीर को बैलेंस करने की कोश‍िश करें और ह‍िप्‍स को हल्‍का पीछे लेकर जाएं।
  • आपको अपने स‍िर को धीरे से नीचे की ओर झुकाना है और टांगों के बीच से झांककर देखना है। 
  • इस पोज‍िशन में आपको 15 से 30 सेकेंड के ल‍िए रुकना है। 
  • अब आप सांस को अंदर खींचते हुए हाथों को अपने ह‍िप्‍स पर रखें।
  • फ‍िर ऊपर की ओर उठें और सामान्‍य होकर खड़े हो जाएं।   

3. उत्थित त्रिकोणासन (Utthita Trikonasana)

trikonasana

उत्थित त्रिकोणासन को एक्‍सटेंडेड ट्राइएंगल पोज भी कहा जाता है। इस योग को करने से गर्दन की मांसपेश‍ियों को आराम म‍िलता है और गर्दन का दर्द ठीक हो जाता है। ये आसान उन लोगों के ल‍िए बेहद फायदेमंद है जो डेस्‍क जॉब करते हैं और शरीर में लचीलापन बढ़ना चाहते हैं क्‍योंक‍ि इस योगासन को करने से शरीर में फ्लेक्‍स‍िब‍िल‍िटी बढ़ती है। आप उत्थित त्रिकोणासन पोज को 30 से 60 सेकेंड के ल‍िए कर सकते हैं। इस योगासन को करने से पसली, ह‍िप्‍स, घुटने, टखने, जांघ, कंधे में मौजूद दर्द भी दूर हो जाएगा।    

योगासन करने का तरीका: 

  • सबसे पहले आप मैट पर सीधे खड़े हो जाएं।
  • अब आप पैरों के बीच गैप करके खड़ हो जाएं ताक‍ि दोनों पैरों पर बराबर वजन पड़े। 
  • इस बीच गहरी सांस लें और धीरे-धीरे सांस को छोड़ते जाएं।
  • सांस छोड़ने के साथ आप ह‍िप्‍स को दाह‍िनी ओर मोड़ें।
  • बाएं हाथ को ऊपर की ओर उठाना है और दाह‍िने हाथ से जमीन को स्‍पर्श करना है।  
  • फ‍िर स‍िर को आपको बाईं ओर मोड़ना है।
  • आपको ज‍ितना हो सके उतना शरीर को स्‍ट्रेच करना है और शरीर को स्‍थि‍र रखकर फोकस करना है।
  • आप इस दौरान अपने हाथों को साइड में रखें और पैरों को सीधा रखें। 
  • इस प्रक्रि‍या को दोहराएं और बाएं पैर के साथ भी इसे दोहराएं। 

इन आसान योगासन को करके आप गर्दन में दर्द की समस्‍या से न‍िजात पा सकते हैं।  

Disclaimer