मछली खाने से आपके दिल की सेहत को मिलते हैं कई फायदे, एक्सपर्ट से जानें किन मछलियों को खाना है सुरक्षित

मछलियां ओमेगा-3 और कई पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं। डायटीशियन से जानें इनके सेवन के हार्ट को मिलने वाले फायदे और इन्हें खाते समय जरूरी सावधानियां।

 

Monika Agarwal
स्वस्थ आहारWritten by: Monika AgarwalPublished at: Oct 09, 2021
मछली खाने से आपके दिल की सेहत को मिलते हैं कई फायदे, एक्सपर्ट से जानें किन मछलियों को खाना है सुरक्षित

यह बात तो आप सब जानते होंगे कि मछली में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, जो आपके हार्ट की सेहत के लिए लाभदायक होता है। अगर आप अपने हृदय की सेहत को लेकर चिंतित रहते हैं तो आज से ही हफ्ते में दो से तीन मछली खाना शुरू कर दें। आप को वो मछलियां खानी चाहिए जो अनसैचुरेटेड फैट से भरपूर हों। मछली खाने से आपका हृदय रोगों का रिस्क बहुत कम हो जाता है। कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल की सीनियर कंसल्टेंट एंड डाइटिशियन शालिनी गार्विन ब्लिस के मुताबिक मछलियां ओमेगा-3 का अच्छा स्रोत होती हैं। ओमेगा 3 फैटी एसिड्स अनसैचुरेटेड फैट होते हैं। जो आपके शरीर से सूजन (Inflammation) को कम कर सकते हैं। अगर आपके शरीर में सूजन होती है तो उससे आपकी ब्लड वेसल्स को नुकसान पहुंच सकता है। इससे हृदय रिस्क और स्ट्रोक आने की संभावना अधिक बढ़ जाती है।

हार्ट के लिए ओमेगा-3 के फायदे (Health Benefits Of Omega-3 For Heart Health)

ओमेगा-3 फैटी एसिड के सेवन से आपकी सेहत को इन तरीकों से फायदा मिलता है-

  • ट्राईग्लिसराइड को कम करता है
  • ब्लड प्रेशर कम करने में मदद करता है।
  • ब्लड क्लॉटिंग कम करता है।
  • स्ट्रोक और हार्ट फेलियर का खतरा कम करता है।
  • अनियमित हार्ट बीट को कम करता है।

हार्ट की अच्छी सेहत के लिए किन मछलियों को खाना चाहिए (Best Fish For Heart Health)

वैसे तो ज्यादातर सी-फूड्स में ओमेगा-3 थोड़ी बहुत मात्रा में पाया जाता है। लेकिन सबसे अधिक मात्रा में यह तत्त्व आपको फैटी फिश में मिलता है। ज्यादा से ज्यादा omega-3 प्राप्त करने के लिए आपको निम्न मछलियों का सेवन करना चाहिए।

  • सर्डिन
  • एटलांटिक मैकेरल
  • कॉड
  • हैरिंग
  • लेक ट्राउट
  • ट्यूना
  • साल्मन

आपको कितना मछली खाना चाहिए? (Amount Of Fish You Can Eat Daily)

  1. अगर आप 18 साल से ऊपर हो गए हैं और ओमेगा से भरपूर मछली खा रहे हैं तो हफ्ते में दो सर्विंग (लगभग 200 ग्राम)  काफी होती हैं।
  2. अगर आप गर्भवती महिला हैं या आप बच्चे को दूध पिलाती हैं तो आपको हफ्ते में ढाई सौ से 300 ग्राम मछली खानी चाहिए और ऐसी मछलियों का चुनाव करें जिसमें मरकरी कम मौजूद हो।
  3. बच्चों को भी हफ्ते में 25 ग्राम मछली ही खानी चाहिए और वह भी मरकरी रहित होनी चाहिए।

क्या मरकरी के कारण मछली के लाभ कम हो जाते हैं? (Having Fish In Diet Can Increase Mercury Intake)

मरकरी मछली में पाई जाने वाली एक प्रकार की टॉक्सिन होती है। मछली में और अधिक टॉक्सिन भी होते हैं जैसे पीसीबी, डायोक्सिन आदि होते हैं और इनसे आपका लाभ कितना कम होता है यह बात आप कौन सी मछली खा रहे हैं इस पर निर्भर करती है। अगर आप ओमेगा 3 आदि से भरपूर और फैटी फिश खा रहे हैं तो मर्करी जैसे टॉक्सिंस से अधिक आपको लाभ मिलेंगे। जिस कारण आपके लाभ कम नहीं होंगे।

आपको शार्क, टीलेफिश, स्वॉर्ड फिश और किंग मैकेरल जैसी मछलियां नहीं खानी चाहिए। क्योंकि इनमें मरकरी की मात्रा बहुत अधिक होती है। खास कर छोटे बच्चों, गर्भवती महिलाओं और जिन महिलाओं के छोटे बच्चे हैं और बच्चों को इस प्रकार की मछली का सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए।

अगर आप मछली खा सकते हैं तो यह आपके हृदय और आपके पूरे शरीर के लिए ही बहुत लाभदायक होती है। लेकिन अगर आप शाकाहारी हैं तो आप ओमेगा-3 का सेवन करने के लिए अन्य कुछ चीजों का जैसे अलसी या अलसी के तेल का, अखरोट, सोयाबीन, चिया सीड्स आदि का सेवन करना चाहिए।

अगर आप चाहें तो मछली की बजाए मछली के तेल या फिर कैप्सूल आदि की फॉर्म में उपलब्ध सप्लीमेंट का भी सेवन कर सकते हैं। पास्ता और डेयरी की चीजों जैसी हेल्दी चीजों का भी सेवन करें।

Disclaimer