Fennel Milk Combination: सौंफ के दूध का सेवन करने से आंखों की समस्या होती है दूर, जानें इसक फायदे और नुकसान

सौंफ और दूध का मिश्रण (Fennel Milk) का सेवन सेहत को कई तरीकों से फायदा पहुंचा सकता है। जानते हैं सौंफ के दूध के फायदे और नुकसान...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: May 10, 2021
Fennel Milk Combination: सौंफ के दूध का सेवन करने से आंखों की समस्या होती है दूर, जानें इसक फायदे और नुकसान

अक्सर आपने देखा होगा जब आप किसी होटल, ढ़ाबे आदि पर खाना खाने जाते हैं तो खाना खाने के बाद आपको मिश्री और सौंफ सर्व किया जाता है। लेकिन पता है ऐसा क्यों? ऐसा इसलिए क्योंकि सौंफ न केवल मुंह की दुर्गंध को दूर करता है बल्कि यह पाचक गुणों के लिए भी बेहद प्रसिद्ध है। वहीं दूध के सेवन से न केवल हड्डियां मजबूत होती हैं बल्कि शरीर कई तरीकों से तंदुरुस्त होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं अगर दूध और सौंफ का एक साथ सेवन किया जाए तो यह सेहत को कई तरीकों से लाभ पहुंचा सकता है आज का हमारा लेख इसी विषय पर है आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि दूध के साथ सौंफ लेने से सेहत को क्या फायदे (fennel seeds and milk combination benefits) होते हैं साथ ही नुकसान (fennel seeds and milk combination side effects) के बारे में भी जानेंगे। पढ़ते हैं आगे...

1 - पीरियड्स के दर्द को करें दूर (fennel milk for periods pain)

कुछ लड़कियां पीरियड्स के दौरान अत्यधिक दर्द और उल्टी से परेशान रहती हैं। बता दें इस परेशानी को करने के लिए एक चम्मच सैंफ के बीजों को दूध में डालना होगा। इसके अलावा आप सौंफ के पाउडर को भी मिला सकते हैं। अब फिर एक और उबाल लेकर दूध को उतारें और इसका सेवन करें। ऐसा करने से पीरियड से के दौरान होने वाली तकलीफ दूर हो जाएगी। साथ ही ब्लड का फ्लो भी सही रहेगा।

2 - याददाश्त को बढ़ाएं (fennel milk for sharp memory)

सौंफ न केवल व्यक्ति की स्मरण शक्ति को बढ़ाता है बल्कि याद्दाश को भी मजबूत करता है। जो लोग केवल ये सोचते हैं कि बादाम ही याद्दाश बढ़ाने का एक मात्र साधन हैं उन्हें बता दें कि अगर सोने से पहले सौंफ के दूध का सेवन किया जाए तो यह यादाश्त बढ़ाने में काफी मददगार है। बता दें कि दूध और सौंफ के सेवन से दिमाग की सभी परेशानी दूर हो जाती है। साथ ही व्यक्ति के सोचने समझने की क्षमता का विकास होता है।

3 - सांस संबंधित समस्याओं को करें दूर (fennel milk for breathing problem)

अगर किसी व्यक्ति को सांस संबंधित समस्याएं हैं तो वे अपनी डाइट में सौंफ का दूध जोड़ सकता है। बता दें कि यह न केवल सांस संबंधित समस्याओं को दूर करता है बल्कि अस्थमा की समस्या से लड़ने में भी बेहद मददगार है। इसके सेवन से रेस्पिरेटरी सिस्टम के कार्यों में सुधार आता है। ऐसे में आप नियमित रूप से रात को सोने से पहले सौंफ के दूध का सेवन करें।

इसे भी पढ़ें- हरी इलायची और सौंफ से पाएं तंबाकू और सिगरेट की लत से राहत, जानें आजमाया हुआ आसान नुस्खा

4 - आंखों के लिए बेहद अच्छा (fennel milk for eyes)

वर्क फ्रॉम होम के कारण लोग पूरे पूरे दिन लैपटॉप या अपने सिस्टम के आगे बैठे रहते हैं, जिसका नकारात्मक प्रभाव हमारी आंखों पर पड़ता है। बता दें कि इस प्रभाव को दूर करने के लिए सौंफ का दूध एक अच्छा उपाय है। सौंफ के दूध के सेवन से ना केवल आंखों से जुड़ी सभी परेशानियां दूर होती हैं बल्कि यह आंखों की सूजन, जलन, पानी आदि से भी छुटकारा दिलाया जा सकता है।

5 - इम्यूनिटी को बढ़ाए (Fennel milk for immunity)

चल रहे कोरोना के समय में इम्यूनिटी को बढ़ाना बेहद जरूरी है। तभी हम इस महामारी से जीत पाएंगे। बता दें कि इम्यूनिटी को बूस्ट करने के लिए सौंफ का दूध भी एक अच्छा विकल्प है। सौंफ के अंदर एंटीवायरल गुण पाए जाते हैं जो इम्यूनिटी को बढ़ाते हैं। वहीं दूध के अंदर पाए जाने वाला प्रोटीन जब सौंफ की पोषक तत्वों के साथ मिलता है तो यह न केवल रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाता है बल्कि शरीर को संक्रमण से भी दूर रखता है।

इसे भी पढ़ें- सौंफ खाने के फायदे और नुकसान, एक्सपर्ट से जानें जानकारी

6 - पाचन तंत्र के लिए अमृत (fennel milk for digestion)

बता दें कि पेट की मांसपेशियों को तंदुरुस्त बनाने के साथ-साथ पाचन क्रिया कि सेहत में सुधार सौंफ के दूध के माध्यम से लाया जा सकता है। यह न केवल कब्ज की समस्या को दूर करता है बल्कि एसिडिटी को भी दूर भगाता है। ऐसे में अगर आप पेट संबंधी समस्या से परेशान हैं तो आप नियमित रूप से सौंफ के दूध का सेवन कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- Milk and Jaggery Combination: दूध और गुड़ के सवन से वजन होता है कम, जानें फायदे और नुकसान

सौंफ और दूध के सेवन से होने वाले नुकसान (side effects of fennel milk)

ध्यान दें कि हर शरीर की तासीर अलग होती है। ऐसे में अगर किसी भी चीज का सेवन अधिक मात्रा में किया जाए तो वह सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकता है। ऐसा ही कुछ सौंफ के दूध के साथ है। अगर आप सौंफ का पाउडर या सौंफ के बीजों को एक चम्मच से ज्यादा दूध में मिलाते हैं तो यह विपरीत परिणाम भी दे सकता है। बता दें कि किसी किसी व्यक्ति को सौंफ या दूध से एलर्जी होती है ऐसे में वे जुकाम, पेट दर्द, छींक आदि कभी शिकार हो सकता है। र्भवती महिला या स्तनपान कराने वाली महिलाएं भी सौंफ के दूध को अपनी दिनचर्या में जोड़ने से पहले एक बार एक्सपर्ट की राय जरूर दें।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि अगर रात को सोने से पहले सौंफ के दूध का सेवन नियमित रूप से किया जाए तो यह सेहत को कई तरीकों से फायदा पहुंचा सकता है। लेकिन इससे कुछ नुकसान भी देखे गए हैं। ऐसे में सबसे पहले डॉक्टर की सलाह पर इसकी मात्रा को जान लेना जरूरी है। उसके बाद ही इसका सेवन करें। इसके अलावा यदि आपको सौंफ या दूध से एलर्जी है तो इसे अपनी डाइट में ना जोड़ें। अगर कोई व्यक्ति स्पेशल डाइट फॉलो कर रहा है या किसी गंभीर बीमारी का शिकार है तो वे भी अपनी डाइट में सौंफ के दूध को जोड़ने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें। गर्भवती महिला या स्तनपान कराने वाली महिलाएं भी सौंफ के दूध को अपनी दिनचर्या में जोड़ने से पहले एक बार एक्सपर्ट की राय जरूर लें। जिन लोगों को दूध से एलर्जी है वे दूध पाउडर का भी इस्तेमाल कर सकता है। आमतौर पर आप नियमित रूप से रात को सोने से पहले सौंफ के दूध का सेवन कर सकते हैं। लेकिन बती दें कि इसकी सटीक जानकारी के लिए एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें। आप सौंफ का इस्तेमाल सौंफ के पाउडर या बीजों के रूप में कर सकते हैं।

ये लेख पारस हॉस्पिटल गुरुग्राम की चीफ डाइटीशियन नेहा पठानिया द्वारा दिए गए इनपुट्स पर बनाया है।

Read More Articles on healthy diet in Hindi

Disclaimer