तला-भुना खाने से पेट में है जलन और एसिडिटी की समस्या तो पियें ये 5 असरदार ड्रिंक्स, तुरंत मिलेगा आराम

पेट में उठने वाली जलन का कारण है एस‍िड‍िटी पर घबरायें नहीं इन ड्र‍िंक्‍स को पीकर देखें। आपको दर्द और जलन से राहत म‍िलेगी। 

सम्‍पादकीय विभाग
Written by: सम्‍पादकीय विभागUpdated at: Dec 30, 2020 15:42 IST
तला-भुना खाने से पेट में है जलन और एसिडिटी की समस्या तो पियें ये 5 असरदार ड्रिंक्स, तुरंत मिलेगा आराम

अगर आपको भी तला-भुना खाने की आदत है और आये द‍िन एस‍िड‍िटी की समस्‍या सताने लगी है तो आपको खाना छोड़ने की नहीं बल्‍क‍ि अपनी डाइट में कुछ ड्र‍िंक्‍स को शाम‍िल करने की जरूरत है। पेट की जलन से बचने के ल‍िये अगर आप कोई अच्‍छा नुस्‍खा नहीं ढूंढ पाए हैं तो आज हम आपको बतायेंगे 5 आसान ड्र‍िंक जो जल्‍दी तो बन ही जाती हैं इसके साथ-साथ ये आपके पेट के ल‍िये भी बहुत फायदेमंद साब‍ित होंगी। इन्‍हें पीकर आपके पेट में उठने वाली जलन काफी हद तक ठीक हो जायेगी।

drinks for acidity

1. जीरा पानी (Jeera drink)

जीरे (Cumin) का पानी पीने से पेट की जलन तुरंत शांत हो जाती है। जीरे में मौजूद फाइबर और म‍िनरल्‍स पाचन तंत्र सुधारने का काम करते हैं। इससे आपका मेटाबॉलिज्‍म ठीक रहता है और पेट में होने वाले दर्द से न‍िजात म‍िलता है। ज‍िन लोगों को पेट फूलने की समस्‍या है उन्‍हें भी जीरे का पानी पीना चाह‍िये। जीरे का पानी पीने के ल‍िये आप खाने के बाद भुना जीरा लें और 1 ग‍िलास उबले पानी के साथ जीरा खा लें। या आप जीरे को 15 म‍िनट पानी में उबालकर उसका पानी छानकर भी पी सकते हैं। कुछ लोग जीरे के साथ सेंधा नमक का चूरण लेते हैं। एस‍िड‍िटी (Acidity) में चूरण भी आपको फायेदा पहुंचाता है।

2. सौंफ का पानी (Saunf water)

सौंफ  (Fennel) के कुछ दाने हाथ में लेकर आप कच्‍चा या भुना दोनों तरह से खा सकते हैं। सौंफ खून को साफ करता है। इससे पेट की जलन, डायर‍िया जैसी समस्‍या नहीं होती। सौंफ आपका वजन कम करने में भी मदद करता है। इसके अलावा रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ाने के ल‍िये भी लोग सौंफ का सेवन करते हैं। सौंफ को रातभर पानी में भ‍िगो दें और सुबह उठकर सौंफ का पानी पी लें। जलन से राहत म‍िलेगी। वहीं अगर इंस्‍टेंट उपाय चाह‍िये तो 1 ग‍िलास गरम पानी के साथ सौंफ खा लें। एस‍िड‍िटी दूर हो जायेगी।

इसे भी पढ़ें- सौंफ खाने के फायदे और नुकसान, एक्सपर्ट से जानें जानकारी

3. ज‍िंजर ड्रिंक (Ginger drink)

अदरक में एंटीबैक्‍टेर‍ियल गुण होते हैं। एस‍िड‍िटी के ल‍िये ज‍िम्‍मेदार बैक्‍टेर‍िया को मारने के ल‍िये अदरक फायदेमंद है। अदरक को कुछ देर पानी में भ‍िगोकर रख दें। पानी का रंग बदलने पर उसमें शहद म‍िलाकर पी लें। आप चाहें तो पानी को उबाल भी सकते हैं। इससे गैस की समस्‍या दूर होगी। अदरक का सेवन करने से गले की खराश भी दूर होती है। ठंड के द‍िनों में आप रोज ज‍िंजर ड्रिंक पी सकते हैं।

4. एलोवेरा जूस (Alovera Juice)

एलोवेरा में एंटी- इंन्‍फ्लामेटरी गुण होते हैं। इसका जूस पीने से पेट की जलन और दर्द दोनों ठीक हो जाता है। अगर आपको पेट की कोई और समस्‍या है तो भी आप एलोवेरा जूस को पी सकते हैं। इसको पीने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। इसमें हील‍िंग गुण होते हैं जिससे पेट से जुड़ी कई बीमार‍ियां ठीक हो सकती है। अगर आपको एलोवेरा का स्‍वाद पसंद नहीं है तो आप इसे नार‍ियल पानी के साथ पी सकते हैं। एलोवेरा का जूस बनाने के ल‍िये एलोवेरा की पत्‍त‍ियों से रस निकालें और म‍िक्‍सी में पीस लें। 1 ग‍िलास में जूस न‍िकालकर पीयें। इससे आपको जलन में राहत म‍िलेगी।

इसे भी पढ़ें- स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से बहुत फायदेमंद है एलोवेरा जूस

5. चैरी ड्रिंक (Cherry drink)

cherry drink for acidity

चैरी में पाए जाने वाला बीटा-कैरोटीन द‍िल की बीमार‍ियों के ल‍िये अच्‍छा माना जाता है। वहीं इसे पीने से पेट की समस्‍या भी दूर होती है। इस ड्रिंक को अपनी डाइट में जरूर शाम‍िल करें। चैरी में फाइबर की अच्‍छी मात्रा होती है ज‍िससे आपको कब्‍ज़ की श‍िकायत नहीं होगी। चैरी शरीर में एनर्जी भी देता है ज‍िससे आप पूरे द‍िन ताज़गी का अहसास करेंगे। चैरी ड्र‍िंक बनाने के ल‍िये चैरी को म‍िक्‍सी में पीस लें और उसका रस छानकर ग‍िलास में डालकर पीयें। आप चाहें तो इस पर सेंधा नमक भी डाल सकते हैं।

एस‍िडिटी से बचने के ल‍िये वॉटर इंटेक को बढ़ावा देना चाह‍िये। पेट की जलन जल्‍द ठीक न हो तो डॉक्‍टर से संपर्क करें।

Read more on Home remedies in hindi

Disclaimer