Expert

सूखे अंजीर vs ताजे अंजीर: सेहत के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद? जानें एक्सपर्ट से

Dried Figs vs Fresh Figs: अंजीर खाने से सेहत को कई लाभ मिलते हैं, लेकिन क्या खाना ज्यादा फायदेमंद है सूखे अंजीर या ताजे अंजीर? जानें यहां..

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Apr 07, 2022Updated at: Apr 07, 2022
सूखे अंजीर vs ताजे अंजीर: सेहत के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद? जानें एक्सपर्ट से

अंजीर का सेवन स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। अंजीर एक बेहतरीन और अनूठा फल है। यह आकार में आपके अंगूठे के बराबर होता है। साथ ही यह बहुत सारे बीजों से भरा होता है। अंजीर में हल्का मीठा स्वाद होता है, इसका ऊपरी छिलका बैंगनी या हरे रंग और भीतर का गूदा गुलाबी होता है। अंजीर को फिकस कैरिका के नाम से भी जाना जाता है। अंजीर का सेवन आपको कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान (Dried Figs vs Fresh Figs Health Benefits In Hindi) करता है, सिर्फ अंजीर ही नहीं बल्कि अंजीर के पत्ते भी आपके स्वास्थ्य के लिए चमत्कार कर सकते हैं। अंजीर और अंजीर के पत्ते दोनों ही पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, जो आपको कई तरह से संभावित स्वास्थ्य लाभ प्रदान (Figs Benefits In Hindi) करते हैं। अंजीर आपके पाचन को बेहतर बनाता हैं, दिल को स्वस्थ रखते हैं और शरीर में ब्लड शुगर के सामान्य स्तर को बनाए रखने में मदद करते हैं।

जब अंजीर के सेवन की बात आती है तो इसका सेवन दो तरह से किया जाता है, पहला ताजे अंजीर और दूसरा ड्राई या सूखे अंजीर (Dried Figs vs Fresh Figs In Hindi)। अक्सर लोग इस बात को लेकर असमंजस में रहते हैं अधिकतम स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के लिए ताजे अंजीर खाना ज्यादा फायदेमंद है सूखे अंजीर का सेवन (Dried Figs vs Fresh Figs Benefits In Hindi)। फिटनेस एक्सपर्ट और डायटीशियन गरिमा गोयल (एमएस, आरडी, सीडीई) बताती हैं कि अंजीर सबसे पौष्टिक खाद्य पदार्थों में से एक है जिसे आप अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। इसे पूरे साल खाया जा सकता है जब यह ताजा रूप में उपलब्ध हो और सूखे अंजीर, दोनों तरह से अंजीर का सेवन किया जा सकता है। इस लेख में हम आपको बता रहे हैं ताजे और सूखे अंजीर में से सेहत के लिए क्या ज्यादा फायदेमंद है (Dried Figs vs Fresh Figs Benefits In Hindi)।

Image Source: Pixabay

क्या फलों को सुखाने से उनके पोषक तत्व कम हो जाते हैं?

हेल्थ एक्सर्ट्स की मानें तो फलों को सुखाने से फलों के पोषक तत्वों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। जब फलों को सुखाया जाता है फलों को सुखाते समय सूरज के प्रकाश और ऑक्सीजन के संपर्क में आने से आंशिक रूप से फलों के पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं। सुखाने से फलों में से विटामिन सी और फोलिक एसिड जैसे कुछ विटामिन समाप्त हो जाते हैं। हालांकि नट्स के साथ ऐसा नहीं होता है, नट्स को सुखाने से उनमें कुछ ऐसे प्रभाव देखने को मिलते हैं जो ताजा होने पर नहीं होते हैं।

इसे भी पढें: क्या गर्मियों में हल्दी वाला दूध पीना चाहिए? डॉक्टर से जानें इसके फायदे और नुकसान

सूखे अंजीर vs ताजे अंजीर (Dried Figs vs Fresh Figs Benefits In Hindi)

  1. जबकि ताजे वाले काफी अच्छे होते हैं, लेकिन सूखे फल आसानी से किसी भी मौसम में मिल जाता हैं और लंबे समय तक शेल्फ लाइफ भी अधिक होती है।
  2. सूखे अंजीर में कोलेस्ट्रॉल कम करने वाली पेक्टिन की मात्रा अधिक होती है।
  3. सूखे अंजीर भी ताजे की तुलना में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा में अधिक होते हैं, जो हानिकारक एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कड़ी टक्कर देते हैं और एथेरोस्क्लेरोसिस से बचाते हैं।
  4. सूखे अंजीर में उच्च पोटेशियम और कम सोडियम सामग्री हाई ब्लड प्रेशर को वास्तव में अच्छी तरह से प्रबंधित करने में मदद करती है। साथ ही हाई पोटेशियम का मतलब यह भी है कि रक्त में स्पाइक्स कम होते हैं, इसलिए यह डायबिटीज के रोगियों के लिए भी बेहद फायदेमंद है।

सूखे अंजीर vs ताजा अंजीर, सेहत के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद (Dried Figs vs Fresh Figs Benefits In Hindi)

डायटीशियन गरिमा गोयल के अनुसार सूखे अंजीर ताजे की तुलना में थोड़े अधिक फायदेमंद होते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आपको अंजीर को उनके प्राकृतिक रूप में नहीं खाना चाहिए। फलों को सुखाने की प्रक्रिया पानी में घुलनशील विटामिन के स्तर को लगभग खत्म सा कर सकती है, जो कि स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है। अंजीर के अधिकतम स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के लिए आप जो सबसे आसान काम कर सकते हैं वह यह कि जब वे मौसम में हों तो ताजे अंजीर का सेवन करने की कोशिश करें, और बाकी समय सूखे अंजीर का नियमित रूप से सेवन करें!

इसे भी पढें: रात के समय नहीं खाने चाहिए ये 5 फल, हो सकती हैं कई स्वास्थ्य समस्याएं

All Image Source: Freepik.com

(With Inputs: Dietitian And Diabetes Educator Garima Goyal, MS, RD, CDE- Dt. Garima Diet Clinic Ludhiana, Punjab)

Disclaimer