क्या स्मॉल पॉक्स और मंकी पॉक्स एक ही है? जानें इन दोनों के लक्षण और बचाव

Monkey Pox vs Smallpox: मंकीपॉक्स और स्मॉलपॉक्स एक-दूसरे से अलग होते हैं। चलिए जानते हैं इन दोनों में क्या अंतर होता है- 

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: May 19, 2022Updated at: May 19, 2022
क्या स्मॉल पॉक्स और मंकी पॉक्स एक ही है? जानें इन दोनों के लक्षण और बचाव

Monkey Pox vs Smallpox in Hindi: ब्रिटेन के बाद कल अमेरिका में भी इंसनों में मंकीपॉक्स का एक मामला सामने आया है। मंकीपॉक्स एक दुर्लभ संक्रमण है, जो आमतौर पर इंसानों में नहीं फैलता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन भी मंकीपॉक्स के बारे में लगातार जागरूक कर रहा है। मंकीपॉक्स से प्रभावित व्यक्ति में लक्षण लगभग एक हफ्ते के अंदर ठीक हो जाते हैं। लेकिन कुछ लोगों में यह संक्रमण गंभीर हो सकता है। कई लोग मंकीपॉक्स और स्मॉलपॉक्स को एक ही समझ बैठते हैं, लेकिन ये दोनों एक-दूसरे से पूरी तरह से अलग होते हैं। दरअसल, मंकीपॉक्स और स्मॉलपॉक्स के कई लक्षण एक समान होते हैं, ऐसे में इनमें अंतर कर पाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। तो चलिए आज के इस लेख में विस्तार से जानते हैं मंकीपॉक्स और स्मॉलपॉक्स में अंतर- 

मंकीपॉक्स क्या है? (What is Monkeypox)

मंकीपॉक्स वायरस के कारण होने वाली एक दुर्लभ बीमारी है। यह ज्यादातर अफ्रीका के क्षेत्रों में पाया जाता है. लेकिन अब यह अन्य क्षेत्रों में भी देखने को मिल रहा है। मंकीपॉक्स को चेचक के समान माना जाता है, लेकिन यह उससे बिल्कुल अलग होता है। इस दौरान संक्रमित व्यक्ति में फ्लू के लक्षण नजर आ सकते हैं। मंकीपॉक्स से सुरक्षा के लिए टीका लगाना जरूरी है। 

fever

मंकीपॉक्स के लक्षण (Monkeypox Symptoms in Hindi)

मंकीपॉक्स के शुरुआती लक्षणों में शामिल हैं जैसे: 

मंकीपॉक्स होने पर इन लक्षणों के साथ 1 से 3 दिनों के बाद त्वचा पर उभरे हुए धक्कों के साथ दाने हो सकते हैं। ये दाने अकसर चेहरे पर शुरू होते हैं और फिर हाथों की हथेलियों और पैरों के तलवों तक पहुंच सकते हैं। मंकीपॉक्स में दाने शरीर के अन्य हिस्सों तक भी फैल सकते हैं। इस स्थिति में दाने सपाट, लाल धक्कों के रूप में शुरू हो सकते हैं। ये दाने फफोले में बदल जाते हैं और मवाद से भर जाते हैं। लेकिन कुछ दिनों बार से ठीक होने लगते हैं। 

इसे भी पढ़ें - दुनिया के कई हिस्सों में फैल रहा है मंकीपॉक्स का खतरा, जानें क्या है ये बीमारी

मंकीपॉक्स से बचाव के उपाय (How to prevent Monkeypox)

  • चेचक का टीका मंकीपॉक्स से सुरक्षा प्रदान कर सकता है। 
  • संक्रमित जानवरों के साथ संपर्क में आने से बचें। 
  • वायरस से दूषित किसी भी सामग्री को छूने से बचना चाहिए। 
  • किसी संक्रमित जानवर के संपर्क में आने के बाद हाथों को साबुन से अच्छी तरह धोएं। 
  • मंकीपॉक्स से बचने के लिए संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से भी बचना चाहिए।

स्मॉलपॉक्स क्या है? (What is Smallpox)

स्मॉलपॉक्स यानी चेचक एक संक्रामण और घातक बीमारी है। यह एक पुरानी बीमारी है, जो इंसानों को प्रभावित करता है। चेचक का कोई इलाज मौजूद नहीं है। चेचक का टीका इस संक्रमण से बचाव कर सकता है। मंकीपॉक्स की तरह की स्मॉलपॉक्स में भी फ्लू जैसे ही लक्षण देखने को मिलते हैं। ऐसे में आपको अधिक सतर्क रहने की जरूरत होती है।

back pain

स्मॉलपॉक्स के लक्षण (Smallpox Symptoms)

चेचक के पहले लक्षण आमतौर पर संक्रमित होने के 10 से 14 दिन बाद दिखाई दे सकते हैं। 7 से 17 दिनों के बाद व्यक्ति इस संक्रमण से रिकवर करना शुरू कर सकता है और दूसरे लोगों को संक्रमित नहीं करता है। 

स्मॉलपॉक्स के लक्षण भी काफी हद तक मंकीपॉक्स की तरह ही होते हैं। इस स्थिति में संक्रमित होने के कुछ दिन बाद चेहरे पर लाल धब्बे नजर आ सकते हैं। ये लाल धब्बे धीरे-धीरे हाथों, बांहों तक फैल सकते हैं। इतना ही नहीं एक या दो दिन के बाद इनमें तरल पदार्थ जैसे मवाद आदि भर सकते हैं और ये धब्बे फफोले का रूप ले सकते हैं। ये दाने त्वचा पर गहरे और धब्बेदार निशान छोड़ सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें - कोरोना वायरस के बाद अब 'मंकीपॉक्स' का खतरा, ब्रिटेन में सामने आये मामले, जानें इस बीमारी के लक्षण

मंकीपॉक्स और स्मॉलपॉक्स के लक्षण काफी हद तक एक समान होते हैं। ऐसे में इन दोनों के बीच खुद से अंतर समझ पाना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। इसलिए ऊपर बताए गए लक्षण नजर आने पर आपको तुरंत डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए।

Disclaimer