Doctor Verified

भीगे बादाम या कच्चे बादाम, गर्मी में सेहत के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद?

बादाम सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। भीगे बादाम और कच्चे बादाम में क्या अधिक फायदेमंद है, जानें-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Apr 13, 2022Updated at: May 27, 2022
भीगे बादाम या कच्चे बादाम, गर्मी में सेहत के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद?

Soaked Almonds vs Raw Almonds: बादाम स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी होते हैं। बादाम खाने से कई ऐसे पोषक तत्व मिलते हैं, जो सेहत के लिए जरूरी होते हैं। बादाम प्रोटीन, फाइबर, विटामिन ई और मैग्नीशियम से भरपूर होता है। बादाम दो तरह से खाया जाता है, भिगोकर या फिर कच्चे। अधिकतर लोग भीगे हुए बादाम खाने की सलाह देते हैं, वही कुछ लोग मुट्ठीभर कच्चे बादाम ही खा लेते हैं। Onlymyhealth के इस महीने के Campaign ‘focus of the month’पर हम Healthy Living पर आपको लेख के माध्यम से रोजाना एक खास जानकारी दे रहे हैं।

आज के इस लेख में हम भीगे बादाम और कच्चे बादाम में अंतर पर बात करेंगे। इस विषय पर बेहतर जानकारी के लिए हमने आरोग्य डाइट और न्यूट्रीशन क्लीनिक, द्वारका की डायटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा से बात की।

भीगे बादाम और कच्चे बादाम में अंतर (Soaked Almonds VS Raw Almonds) 

बादाम पोषक तत्वों से भरपूर होता है, इसलिए अधिकतर लोग बादाम को अपनी डाइट में शामिल करते हैं। लेकिन कुछ लोग कच्चा बादाम खाते हैं, तो कुछ लोग बादाम को रातभर भिगोकर रखते हैं और सुबह छिलका निकालकर खाते हैं। चलिए विस्तार से जानते हैं भीगे बादाम और कच्चा बादाम में अंतर-

  • आयुर्वेद के अनुसार कच्चे बादाम की तासीर बहुत गर्म होती है। वही भीगे हुए बादाम की तासीर सामान्य हो जाती है। ऐसे में पित्त प्रकृति के लोग भी भीगे हुए बादाम खा सकते हैं।
  • कच्चे बादाम की तुलना में भीगे बादाम से हमारा शरीर अधिक विटामिन्स और मिनरल्स अवशोषित करता है। छिलका उतारकर खाने से बादाम के सभी पोषक तत्व शरीर को आसानी से मिल जाता है। भीगे बादाम सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं
  • कच्चे बादाम और भीगे बादाम में अंतर स्वाद में भी किया जा सकता है। इन दोनों के स्वाद में भी अंतर होता है। 
  • भीगे बादाम को छिलका निकालकर खाया जाता है। वही कच्चे बादाम को छिलके के साथ खाया जाता है। बादाम के छिलके में टैनिन होता है, जो पोषक तत्वों के अवशोषण को रोकता है। 
  • कच्चे बादाम को सीधे तौर पर खाया जाता है। भीगे बादाम को पहले पानी में 5-6 घंटे या पूरी रातभर भिगोकर रखा जाता है, फिर छिलका उतारकर खाया जाता है।

बादाम में पोषक तत्व (Almonds Nutrition)

बादाम विटामिन ई, फाइबर, ओमेगा 3 फैटी एसिड का बेहतरीन स्त्रोत है। बादाम में ओमेगा 6 फैटी एसिड, प्रोटीन और मैग्नीशियम भी होता है। बादाम पोषक तत्वों से भरपूर होता है, इसलिए इसे सुपरफूड भी माना जाता है। बादाम में मैंगनीज होता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाता है। कच्चे और भीगे बादाम दोनों में ही समान पोषक तत्व पाए जाते हैं, लेकिन कच्चे बादाम को हमारा शरीर अवशोषण नहीं कर पाता है। वही भीगे बादाम में मौजूद तत्वों को शरीर पूरी तरह से अवशोषित कर लेता है।

इसे भी पढ़ें - गर्मियों में कैसे खाएं बादाम, अंजीर, अखरोट जैसे गर्म तासीर वाले ये 5 ड्राई फ्रूट्स? जानें सही तरीका

भीगे बादाम और कच्चे बादाम में कैलोरी (Soaked Almonds vs Raw Almonds Calories)

बादाम एक हाई कैलोरी फूड है, यह प्रति औंस 164 कैलोरी प्रदान करता है। इसमें मौजूद कैलोरी हेल्दी फैट में आता है। इसलिए दुबले पतले और कमजोर लोगों के लिए बादाम खाना अधिक लाभकारी हो सकता है। प्रत्येक 100 ग्राम कच्चे बादाम में करीब 579 कैलोरी होती है। डॉक्टर सुगीता बताती हैं कि भीगे बादाम और कच्चे बादाम दोनों में कैलोरी एक समान ही होती है। सिर्फ भीगे बादाम की कैलोरी को शरीर अच्छी तरह से अवशोषित कर लेता है।

गर्मी में भीगे बादाम या कच्चे बादाम-क्या है अधिक फायदेमंद

कई लोगों के मन में सवाल आता है कि गर्मी में कच्चे बादाम खाने चाहिए या भीगे बादाम। आयुर्वेद के अनुसार बादाम की तासीर बेहद गर्म होती है। इसलिए गर्मियों में बादाम हमेशा भिगोकर ही खाने चाहिए। इससे बादाम की तासीर सामान्य हो जाती है और शरीर में गर्मी नहीं बढ़ती है। गर्मी में कच्चे बादाम खाने से बचना चाहिए।

भीगे बादाम खाने के फायदे (Soaked Almonds Benefits in Hindi)

  • भीगे बादाम खाने से पाचन में सुधार होता है। भीगे बादाम को पेट आसानी से पचा लेता है, पोषक तत्वों का अवशोषण कर लेता है। 
  • बादाम भिगोने से लाइपेस रिलीज करने में मदद मिलती है। यह एक एंजाइम है, जो शरीर को वसा को पचाने में मदद करता है।
  • बादाम में मौजूद मोनोअनसैचुरेटेड फैट भूख को कम करता है, पेट भरा रहता है, इससे वजन घटाने में मदद मिलती है।
  • बादाम में मौजूद विटामिन ई एक एंटीऑक्सिडेंट के रूप में काम करता है। जो उम्र बढ़ने और सूजन को रोकने वाले मुक्त कणों से होने वाले नुकसान को रोकता है।

बादाम कैसे भिगोएं (How to Soak Almonds)

बादाम भिगोने के लिए आप एक गिलास पानी में मुट्ठी भर बादाम डाल दें। या फिर 4-5 बादाम डालें। अब रातभर इसे ऐसे ही रहने दें, सुबह बादाम का छिलका उतारकर खा लें। 

बादाम के सभी पोषक तत्वों को प्राप्त करने के लिए आपको हमेशा बादाम को भिगोकर ही खाना चाहिए। खासकर गर्मियों में कच्चा बादाम नहीं खाने चाहिए, इससे शरीर में गर्मी बढ़ सकती है। स्किन रैशेज, एलर्जी की समस्या हो सकती है।

Disclaimer