प्रदूषण के दुष्प्रभाव से बचने के लिए खाएं ये 5 चीजें, फेफड़े रहेंगे स्वस्थ

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Nov 06, 2022 07:30 IST
प्रदूषण के दुष्प्रभाव से बचने के लिए खाएं ये 5 चीजें, फेफड़े रहेंगे स्वस्थ

What To Increase Immunity To Fight Pollution in Hindi: दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है। प्रदूषण का असर वैसे तो संपूर्ण स्वास्थ्य पर पड़ता है। लेकिन फेफड़े इससे सबसे अधिक प्रभावित होते हैं। प्रदूषण की वजह से फेफड़ों पर गदंगी जमा हो जाती है। इसकी वजह से फेफड़ों से जुड़ी बीमारियां होने का खतरा काफी बढ़ जाता है। खासकर, अस्थमा होने की संभावना काफी बढ़ जाती है। वहीं, जिन लोगों को पहले से ही अस्थमा या फेफड़ों की कोई अन्य बीमारी होती है, उनकी प्रॉबलम्स ट्रिगर हो जाती है। आजकल बढ़ते प्रदूषण की वजह से फेफड़ों की बीमारियों के मामलों में भी तेजी से वृद्धि हो रही है। साथ ही लोगों को खांसी और गले की खराश जैसी समस्याओं का भी सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में फेफड़ों, श्वसन प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए आपको अपने फेफड़ों को मजबूत बनाना बहुत जरूरी होता है। अपने फेफड़ों को मजबूत बनाने के लिए कुछ चीजों का सेवन कर सकते हैं। जानें, इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए बढ़ते प्रदूषण में क्या खाएं? 

बढ़ते प्रदूषण में क्या खाएं?- What To Increase Immunity To Fight Pollution in Hindi

अलसी के बीज

अलसी के बीज ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर होते हैं। इसके अलावा इनमें फाइटोएस्ट्रोजन भी होता है। अलसी फेफड़ों को धुएं के प्रभाव से बचा सकता है। यह अस्थमा और एलर्जी के लक्षणों को भी कम करने की कोशिश करता है। बढते प्रदूषण से बचने के लिए आप अलसी स्मूदी, सलाद आदि ले सकते हैं।  

इसे भी पढ़ें- इम्यूनिटी बढ़ाने और हेल्दी रहने के लिए पिएं बीटा कैरोटीन से भरपूर ये सूप

नगूोसगल म

टमाटर

टमाटर में बीटा कैरोटीन, विटामिन सी और लाइकोपीन नामक एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। टमाटर में मौजूद विटामिन्स और मिनरल्स श्वसन प्रणाली को मजबूत बना सकते हैं। साथ ही टमाटर खाने से वायुमार्ग की सूजन भी कम हो सकती है। बढ़ते प्रदूषण में टमाटर खाने से अस्थमा और श्वसन प्रणाली से जुड़ी समस्याएं होने की संभावना काफी कम हो जाती है। प्रदूषण की वजह से फेफड़ों की कार्यक्षमता कमजोर हो जाती है। लेकिन टमाटर फेफड़ों की कार्यक्षमता को मजबूत बना सकता है। 

ब्रोकली

बढ़ते प्रदूषण में ब्रोकली का सेवन करना भी काफी फायदेमंद होता है। ब्रोकली में विटामिन सी समेत कई मिनरल्स होते हैं। ऐसे में ब्रोकली खाने से फेफड़ों को विषाक्त पदार्थों से बचाया जा सकता है। आप ब्रोकली का सेवन सलाद, सूप और सब्जी के रूप में कर सकते हैं। 100 ग्राम ब्रोकली में लगभग 89 विटामिन सी होता है। इसके साथ ही इसमें बीटा कैरोटीन और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो इम्यूनिटी को बूस्ट करते हैं। 

पालक

पालक में बीटा कैरोटीन, ल्यूटिन और क्लोरोफिल होता है। ये सभी पोषक तत्व इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद कर सकतके हैं। पालक का सेवन करने से फेफड़ों को भी मजबूती मिलती है। पाक में एंटीऑक्सीडेंट्स, मैग्नीशियम आदि तत्व पाए जाते हैं। ये सभी पोषक तत्व फेफड़ों को धुआं, धुंध आदि से लड़ने के लिए तैयार करते हैं। 

इसे भी पढ़ें- इम्यूनिटी बढ़ाने और हेल्दी रहने के लिए पिएं ये 5 तरह के सूप, जानें रेसिपी

हल्दी

हल्दी फेफड़ों को मजबूत बनाने का काम कर सकता है। हल्दी में करक्यूमिन नामक कंपाउड होता है। ऐसे में आप बढ़ते प्रदूषण में अपनी डाइट में हल्दी को शामिल कर सकते हैं। हल्दी फेफड़ों को मजबूत बनाता है, इम्यूनिटी बूस्ट होती है। हल्दी फेफड़ों को प्रदूषण के जहरीले प्रभाव से भी बचाता है। आप हल्दी वाला दूध, हल्दी और घी आदि का सेवन कर सकते हैं। 

Disclaimer