डायबिटिक्‍स के लिए डाइट चार्ट

डायबिटीज के मरीज के लिए सबसे ज्‍यादा जरूरी है खान-पान पर कंट्रोल करना, जानिए किस तरह हो डायबिटीज के मरीज का आहार।

Nachiketa Sharma
डायबिटीज़Written by: Nachiketa SharmaPublished at: May 31, 2013Updated at: Jun 01, 2013
डायबिटिक्‍स के लिए डाइट चार्ट

डायबिटीज चयापचय से संबंधित बीमारी है। इसमें कार्बोहाइड्रेट और ग्लूकोज का ऑक्सीकरण पूर्ण रूप से नहीं हो पाता है। इंसुलिन की कमी इसका मुख्‍य कारण है। इंसुलिन नामक हार्मोन पैन्‍क्रियाज की इन्स्लैट ऑफ लैगरहैस द्वारा निकलता है, जो ग्लूकोज का चयापचय करता है। रक्त में ग्लूकोज की मात्रा सामान्य से ज्यादा तथा सामान्य से कम होना दोनों ही स्थितिया घातक हो सकती हैं।

डायबिटिक्‍स के लिए पोषणयुक्‍त आहारडयाबिटीज के मरीज का आहार केवल पेट भरने के लिए ही नहीं होता, बल्कि उसके शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा को संतुलित रखने में सहायक होता है। इसलिए डायबिटिक्‍स के लिए जरूरी है कि वह अपने खानपान पर हमेशा ध्यान रखे। आमतौर पर मरीज ब्लडशुगर की सामान्‍य रिपोर्ट देखकर लापरवाह हो जाते हैं और वह दोबार बढ़ जाता है। आइए हेल्‍दी डाइट चार्ट बनाने में हम आपकी मदद करते हैं।

 

[इसे भी पढ़ें : डायबिटीज का निदान]

 

डायबिटिक्‍स इस तरह बनायें अपना डाइट चार्ट -

सुबह 6 बजे - आधा चम्मच मैथीदाना पावडर पानी के साथ।  

सुबह 7 बजे - 1 कप बिना शक्कर की चाय साथ में 1-2 बिस्किट भी ले सकते हैं।

सुबह 8.30 बजे - 1 प्लेट उपमा या दलिया, आधी कटोरी अंकुरित अनाज, 100 एमएल मलाईरहित बिना शक्कर का दूध।

सुबह 10.30 बजे - 1 छोटा छिलके सहित फल केवल 50 ग्राम का या 1 कप पतली छाछ बिना शक्कर की या फिर नींबू पानी।

दोपहर का भोजन - 2 मिश्रित आटे की सादी रोटी, 1 कटोरी चावल, 1 कटोरी सादी दाल, 1 कटोरी मलाईरहित दही, आधा कप सोयाबीन या पनीर की सब्जी, आधा कप हरी पत्तेदार सब्‍जी और सलाद।

 

[इसे भी पढ़ें : डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए डाइट चार्ट]

 

दोपहर बार 4 बजे - 1 कप बिना शक्कर की चाय, साथ में टोस्‍ट या बिस्किट।

शाम 6 बजे  1 कप सूप ले सकते हैं।

डिनर - 2 रोटी, 1 कटोरी चावल, 1 कटोरी दाल, दही, पनीर की सब्‍जी और सलाद लीजिए।

रात को सोते से पहले - 1 कप बिना शक्कर का मलाई रहित दूध।


इसके अलावा जब बार-बार भूख सताये तो कच्ची सब्जियां, सलाद, काली चाय, सूप, पतली छाछ, नींबू पानी आद‍ि ले सकते हैं। गुड़, शक्कर, शहद, मिठाइया, मेवे आदि से परहेज करें। नियमित व्‍यायाम और शुगर लेवेल की जांच करें। डाइट चार्ट बनाने से पहले चिकित्‍सक से संपर्क अवश्‍य करें।

 

Read More Articles on Diabetes in Hindi

Disclaimer