Diabetes : ब्‍लड शुगर कंट्रोल करने में कैसे मददगार है अमरूद व इसकी पत्तियां ? जानें एक्‍सपर्ट की राय

Diabetes Management: डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है, जो आपको धीरे-धीरे खोखला बनाती है। यदि समय रहते डायबिटीज को कंट्रोल न किया जाए, तो यह शरीर के अन्‍य अंगाेें को भी प्रभावित करती है। आइए जानते हैं अमरूद व अमरूद की पत्तियां डायबिटीज नियंत्रण (Guava

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Oct 18, 2019
Diabetes : ब्‍लड शुगर कंट्रोल करने में कैसे मददगार है अमरूद व इसकी पत्तियां ? जानें एक्‍सपर्ट की राय

डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है, जिसमें आपका ब्‍लड शुगर लेवल सामान्‍य से अधिक हो जाता है। डायबिटीज धीरे-धीरे आपके शरीर को अंदर से खोखला करती है। डायबिटीज एक ऐसी स्थिति है, जब अग्न्याशय ब्‍लड शुगर को विनियमित करने के लिए पर्याप्त इंसुलिन का उत्पादन नहीं करता है। इसमें कोई शक नहीं कि डायबिटीज में मीठी चीनी युक्‍त चीजें काफी हद तक जिम्मेदार है, लेकिन इसका यह एक कारण नहीं है। डायबिटीज को जीवनशैली व खानपान में कुछ बदलाव कर समय रहते कंट्रोल किया जा सकता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि अमरूद व अमरूद की पत्तियां डायबिटीज को कंट्रोल करने में मददगार हैं।  

डाय‍बिटीज नियंत्रण में अमरूद और उसकी पत्तियां कैसे मददगार हैं, इस संबंध में ओन्‍लीमाय हेल्‍थ ने इस डॉक्‍टर के.एस. कुलार' से बात की। डाक्‍टर कुलार कहना है, ''अमरूद और उसकी पत्तियां पोषक तत्‍वों से भरपूर हैं, इनमें पोटेशियम, विटामिन्‍स और एंटीऑक्‍सीडेंट्स से भरपूर मात्रा में हैं। जिसकी वजह से यह आपके ब्‍लड प्रेशर और ब्‍लड शुगर को कंट्रोल करने में मददगार है।''

इसके अलावा, ''यह दिल और लिवर के लिए भी फायदेमंद है। अमरूद की पत्तियां 10 प्रतिशत ब्‍लड शुगर को कम करने में मददगार है। लेकिन यदि आपको किडनी की गंभीर समस्‍या है, तो आप इसका सेवन न करें क्‍योंकि इसमें हाई पोटेशियम होता है, जो कि आपके लिए नुकसानदाय हो सकता है। आइए हम आपको 5 कारण बताते हैं कि कैसे अमरूद व इसकी पत्तियां ब्‍लड शुगर को कम कर सकती हैं।''

5 कारणों से डायबिटीज के लिए फायदेमंद अमरूद (5 Reason Guava Good For Managing Diabetes)

1. लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स

अमरूद व अमरूद की पत्तियां दोनों ही डायबिटीज मैनेजमेंट में मददगार हैं। क्‍योंकि इसमें लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) होता है। जिसका अर्थ है कि यह आसानी से पच जाता है और धीरे-धीरे अवशोषित होता है। जिससे यह ग्लूकोज स्तर में क्रमिक वृद्धि को प्रभावित करता है।

2. पोटैशियम और फाइबर से भरपूर 

अमरूद की पत्तियां हाई पोटेशियम से समृद्ध हैं, तो वहीं अमरूद में हाई फाइबर की अच्‍छी मात्रा पाई जाती है, जो ब्‍लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मददगार है। फाइबर को पचने में लंबा समय लगता है, जो यह सुनिश्चित करता है कि यह रक्‍त प्रवाह में जल्दी से जारी न हो।

इसे भी पढें: डायबिटीज वालों का ब्लड शुगर घटाएंगे लोकल मार्केट में मिलने वाले ये 4 देसी फूड्स

3. कैलोरी की कम मात्रा  

अमरूद में कैलोरी कम मात्रा में होती है, इसलिए यह वजन प्रबंधन में मदद करता है। क्‍योंकि कहीं न कहीं आपका मोटापा भी हाई ब्‍लड शुगर का एक और प्रमुख कारण है। यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर (यूएसडीए) के आंकड़ों के अनुसार, 100 ग्राम अमरूद में सिर्फ 68 कैलोरी और सिर्फ 8.92 ग्राम प्राकृतिक चीनी होती है।

4. उच्‍च पोटैशियम और सोडियम की मात्रा कम 

अमरूद में सोडियम की मात्रा कम, जबकि पोटेशियम की मात्रा अधिक होती है। प्रति 100 ग्राम अमरूद व उसकी पत्तियों में 417 ग्राम पोटेशियम होता है, जो ब्‍लड शुगर को कम करने और डायबिटीज को कंट्रोल करने का अच्‍छा विकल्‍प है। 

इसे भी पढें: ब्‍लड शुगर कम करने और डायबिटीज प्रबंधन में फायदेमंद है भिंडी का सूप, जाने बनाने की आसान विधि

5 विटामिन्‍स 

अमरूद व उसकी पत्तियां जरूरी विटामिन्‍स जैसे कि विटामिन सी का सबसे अच्छा स्रोत है। यह पोषक तत्व शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली के निर्माण में अत्यधिक लाभकारी होता है और डायबिटीज से लड़ने में मदद करता है।

Read More Article On Diabetes in Hindi

Disclaimer