Doctor Verified

खांसी से राहत दिला सकते हैं अमरूद के पत्ते, जानें इस्तेमाल का तरीका

Guava Leaves for Cough: बदलते मौसम में खांसी से परेशान हैं, तो करें अमरूद के पत्तों का इस्‍तेमाल। सर्दी-जुकाम, खांसी, बलगम आद‍ि से म‍िलेगा छुटकारा।  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Oct 03, 2022 10:34 IST
खांसी से राहत दिला सकते हैं अमरूद के पत्ते, जानें इस्तेमाल का तरीका

Guava Leaves Benefits for Cough: मौसम बदलने के साथ अक्‍सर लोगों को खांसी की समस्‍या हो जाती है। इस समस्‍या का इलाज ढूंढ रहें हैं, तो अमरूद के पत्तों का इस्‍तेमाल फायदेमंद रहेगा। अमरूद के पत्तों से खांसी का इलाज क‍िया जाता है। इन पत्तों में प्रोटीन, पोटैश‍ियम, फॉस्‍फोरस, कैल्‍श‍ियम, व‍िटाम‍िन बी, व‍िटाम‍िन सी और मैग्नीशियम आद‍ि पोषक तत्‍व पाए जाते हैं। अमरूद के पत्तों में एंंटीबैक्‍टीर‍ियल, एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्‍सीडेंट गुण पाए जाते हैं। इसमें फाइबर भी मौजूद होता है। खांसी अक्‍सर एलर्जी के कारण होती है। अमरूद के पत्तों में एंटी-एलर्जि‍क गुण होते हैं। इसके इस्‍तेमाल से खांसी, जुकाम, छींक, बलगम, सांस लेने में तकलीफ, ब्रोंकाइट‍िस, अस्‍थमा और सांस लेने में जलन आद‍ि समस्‍याओं का इलाज क‍िया जाता है। आगे जानते हैं अमरूद के पत्तों के फायदे और खांसी में इस्‍तेमाल का तरीका। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की। 

cough treatment with guava leaves      

1. अमरूद के पत्तों का काढ़ा 

खांसी का इलाज करना चाहते हैं, तो आपको अमरूद के पत्तों से बनने वाले काढ़े का सेवन करना चाह‍िए। काढ़ा पीने से सर्दी और खांसी की समस्‍या से राहत म‍िलती है। काढ़ा बनाने के ल‍िए साफ बर्तन में अमरूद के पत्तों को डालें। थोड़ी देर उबलने दें। फ‍िर इसमें अदरक, काली म‍िर्च, लौंग, इलायची, लहसुन को डालें। धीमी आंच पर 5 म‍िनट तक पकाएं। फ‍िर गुड़ डालकर गैस बंद कर दें। इस काढ़े को गरम-गरम पीने से खांसी की समस्‍या दूर हो जाएगी।

इसे भी पढ़ें- सूखी खांसी (ड्राई कफ) से छुटकारा पाने के लिए 2 योग मुद्रा, जानें तरीका    

2. अमरूद के पत्तों का चूर्ण   

बलगम से न‍िजात पाने के ल‍िए आयुर्वेद में अमरूद के पत्तों का सेवन फायदेमंद बताया गया है। अमरूद के पत्तों का चूर्ण लेने से सांस की नली, फेफड़े और गले में मौजूद बैक्‍टीर‍िया को खत्‍म करने में मदद म‍िलती है। चूर्ण बनाने के ल‍िए अमरूद के पत्तों को पीसकर पाउडर बना लें। उसमें प‍िसा हुआ गुड़ म‍िलाएं और गुनगुने पानी के साथ सुबह खाली पेट लें। 

3. अमरूद के पत्तों का पानी 

अमरूद के पत्तों में आयरन भी भरपूर मात्रा में होता है। शरीर की प्रति‍रोधक क्षमता कमजोर होने के कारण हम संक्रमण की चपेट में आ जाते हैं। आयरन का सेवन करने से इम्‍यून‍िटी मजबूत होती है। खांसी से छुटकारा पाने के ल‍िए आप हर्बल वॉटर का सेवन कर सकते हैं। अमरूद के पत्तों को साफ करके पानी में उबालें। पानी का रंग बदलने पर उसे छानकर प‍िएंं, तो खांसी ठीक हो जाएगी।   

4. अमरूद के पत्तों की चाय 

खांसी का इलाज करने के ल‍िए गले के ल‍िए गरम स‍िंकाई जरूरी होती है। स‍िंकाई के ल‍िए चाय के सेवन से बेहतर व‍िकल्‍प कुछ भी नहीं है। पानी में अमरूद के पत्तों को उबाल लें। फ‍िर उसमें चाय पत्ती डालकर उबालें। चाय को छानकर उसमें गुड़ म‍िलाकर पी सकते हैं।  

5. अमरूद के पत्तों का पाउडर      

अमरूद के पत्तों को धोकर सुखा लें। फ‍िर पत्तों को पीसकर पाउडर तैयार करें। इस पाउडर को दूध या गुनगुने पानी म‍िलाकर प‍िएं। पानी में नींबू का रस और शहद भी म‍िला सकते हैं।

अमरूद के पत्तों से सावधानी भी बरतें 

  • अमरूद के पत्तों में कीड़े हो सकते हैं इसल‍िए इसका सेवन अच्‍छी तरह से धोकर करना चाह‍िए। 
  • अमरूद के पत्तों का बासी पानी पीने से पेट में दर्द और अन्‍य समस्‍याएं हो सकती हैं इसल‍िए सावधानी बरतें। 
  • गर्भवती मह‍िलाएं या स्‍तनपान कराने वाली मांओं को डॉक्‍टर अमरूद के पत्तों का सेवन करने की सलाह नहीं देते।
  • बीपी हाई रहता है, तो भी आपको अमरूद के पत्तों का सेवन करने से बचना चाह‍िए।      

Cough Treatment with Guava Leaves: अमरूद के पत्तों में व‍िटाम‍िन सी की अच्‍छी मात्रा होती है। इसका सेवन करने से रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ती है। इम्‍यून‍िटी बढ़ने से सर्दी और खांसी जैसे संक्रमण से छुटकारा म‍िलता है। अमरूद के पत्तों का काढ़ा, चूर्ण, पानी, चाय, अर्क और पाउडर आद‍ि बनाकर सेवन कर सकते हैं।     

Disclaimer