यात्रा करते वक्त बरतेंगे ये सावधानियां तो कोरोनावायरस छू नहीं पाएगा, एक्सपर्ट से जानें बचाव के आसान टिप्

कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण यात्रा करना मुश्किल हो गया है ऐसे में डॉक्टर के बताए ये टिप्स आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं।  

 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Feb 26, 2020Updated at: Feb 26, 2020
यात्रा करते वक्त बरतेंगे ये सावधानियां तो कोरोनावायरस छू नहीं पाएगा, एक्सपर्ट से जानें बचाव के आसान टिप्

दुनियाभर में तबाही मचाने वाले कोरोनावायरस ने एक देश से दूसरे देश में सफर करने वालों लोगों के लिए भी चिंताएं बढ़ा दी हैं। सिर्फ चीन में ही नहीं बल्कि दुनिया के हर कोने में पैर पसार चुके कोरोनावायरस ने हवा के जरिए यात्रा करने वाले लोगों के लिए भी मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। मौजूदा वक्त में एक तरह जहां पूरा विश्व प्रभावित जगहों पर साफ-सफाई को लेकर बहुत ज्यादा जोर दे रहा है वहीं दूसरी तरफ कोरोनावायरस से प्रभावित क्षेत्रों से सटे क्षेत्रों में भी लोगों के संक्रमित होने का खतरा बढ़ रहा है। कोरोनावायरस से प्रभावित क्षेत्रों में यात्रा करने को लेकर ग्लोबल एडवाइजरी जारी होने के साथ ही कई स्वास्थ्य संगठनों ने भी इस दौरान यात्रा के समय काफी सावधानी बरतने की सलाह जारी की है। हार्ट केयर फाउंडेशन के अध्यक्ष और आईएमए के पूर्व अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल ने कोरोनावायरस से बचने के लिए कुछ दिशा-निर्देश दिए हैं।

corona travel

सुरक्षित यात्रा पर दिशा-निर्देश

यात्रा का मतलब है स्वास्थ्य, स्वच्छता और अन्य के लिए विभिन्न आवश्यकताओं का ध्यान रखना। इसलिए, ऐसे समय में यात्रा करते समय अतिरिक्त सावधानी बरतना अधिक महत्वपूर्ण है। कोरोनोवायरस के प्रकोप के साथ कई देशों में एक बड़ी चिंता सामने आ रही है खासकर उन लोगों के लिए जो यात्रा करने की योजना बना रहे हैं। उन्हें यात्रा के दौरान होने वाली बुनियादी स्वास्थ्य सावधानियों को जानना चाहिए। डॉ. के. के. अग्रवाल के अनुसार, कोरोनावायरस यात्रा से जुड़ी एडवाइजरी चार प्रकार की है।

लेवल 1

किसी को भी देश या उन क्षेत्रों में सामान्य मानक स्वच्छता सावधानियों का उपयोग करना चाहिए, जो कोरोनोवायरस से कम से कम प्रभावित हैं। इसलिए बुनियादी देखभाल टिप्स जैसे स्वच्छता सुनिश्चित करना, स्वच्छ स्थानों से भोजन करना, गंदे से साफ देशों में यात्रा संबंधी स्वच्छता सावधानियों के कुछ बुनियादी नियम हैं।

इसे भी पढ़ेंः 9 दिनों तक जिंदा रह सकता है कोरोनावायरस, जानें अपने आस-पास इसे खत्म करने का तरीका

लेवल 2

प्रभावित देशों की यात्रा करने की योजना बनाने वाले लोगों को उच्च स्तर की सावधानी बरतनी चाहिए। सामान्य सर्दी, खांसी और फ्लू के लक्षणों का ध्यान रखना चाहिए, समान लक्षण वाले लोगों के करीब न जाएं, जब भी आवश्यकता हो मास्क पहनें और स्वच्छ और हाइड्रेटेड रहें। इसके साथ ही कम प्रभावित क्षेत्रों की यात्रा पर विचार करें और आवश्यक दवा अपने साथ लेकर जाएं।

coronahandwash

लेवल 3

अगर आप ऐसे देशों की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं, जिनमें कोरोनावायरस अधिक फैला हुआ है तो अपनी योजनाओं पर पुनर्विचार करें। ऐसे समय में, ऐसे स्थानों से दूर रहना सबसे अच्छा होता है, जो कोरोनोवायरस से प्रभावित होते हैं।

लेवल 4

चीन और कोरिया के प्रभावित हिस्सों की यात्रा की योजना न बनाएं। ये ऐसे स्थान हैं जहां से कोरोनावायरस के सबसे अधिक मामले आ रहे हैं और ये लगातार रेड-अलर्ट पर हैं। यह सलाह दी जाती है कि इन क्षेत्रों की यात्रा न करें क्योंकि प्रकोप इस तरह का है कि अधिकांश सावधानियां कोरोनावायरस को रोकने की दिशा में काम नहीं कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ेंः क्या है कोरोनावायरस? कहां से फैला, लक्षण और कितना है खतरनाक, जानें वायरस से बचाव के उपाय

कोरोनावायरस के प्रकोप के दौरान यात्रा के लिए टिप्स

अगर आप इस दौरान यात्रा करने की योजना बना रहे हैं, तो लेख में नीचे कुछ आवश्यक टिप्स दिए गए हैं, जिनका पालन आपको कोरोनावायरस के प्रकोप से सुरक्षित रहने के लिए जरूर करना चाहिए:

  • किसी भी देश में 14 दिनों के लिए अलग रहने की संभावना रखें। 
  • प्लास्टिक की थैली में पासपोर्ट रखें। और ये थैली सामने की जेब में रखें। क्योंकि ऐसे में आपको किसी आपात स्थिति में देश छोड़ने की आवश्यकता हो सकती है।
  • दवाओं के जेनेरिक नामों के साथ हमेशा अपनी दवाओं को अपने साथ रखें।
  • अपने साथ कुछ ड्राई फ्रूट्स ले जाएं।
  • अपने पास कम से कम 20 दिनों का अतिरिक्त आवश्यक दवाइयों का स्टॉक रखें। 
  • रिफंडेबल एयर टिकट बुक करें फिर चाहे वे 10 फीसदी महंगा ही क्यों न हो।  
  • पासपोर्ट और वीजा की फोटोकॉपी लेना न भूलें। 
  • हेल्थ ट्रैवल इंश्योरेंस लेना न भूलें। याद रखें, अधिकांश मानक नीतियां आपको 'यात्रा न करें' गंतव्यों के लिए कवर नहीं करेंगी।
  • चीन के वुहान जैसे लेवल 4 की चेतावनी वाले देशों की यात्रा न करें।
  • लेवल 3 की चेतावनी के लिए (जैसे सिंगापुर), यदि संभव हो तो, सीधी उड़ानों का समय निर्धारित करके हवाई अड्डों में बिताए समय को कम से कम करें। 
  • उच्च जोखिम वाले हवाई अड्डों में स्टॉपओवर से बचें। जितना हो सके कम समय रहें। अनावश्यक गतिविधियों न करें।
  • अशांति के पहले संकेत पर प्रभावित क्षेत्र को छोड़ दें, या फिर आप जहां असहज महसूस कर रहे हों उस जगह को फौरन खाली कर दें।

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

Disclaimer